पर्यावरण को बचाने के लिए छात्र कैसे मदद कर सकते हैं

वर्षों से ग्लोबल वार्मिंग के कारण हानिकारक प्रभावों के साथ भौगोलिक दृष्टि में महत्वपूर्ण स्थितियां और प्रक्रियाएं हुई हैं। वन्य जीवन के लिए स्थान तेजी से सिकुड़ रहा है, वन आवरण कम हो रहा है और प्रजाति विलुप्त होने की कगार पर है। वातावरण में कार्बन डाइऑक्साइड, मीथेन और अन्य ग्रीनहाउस गैसों का स्तर खतरनाक रूप से बढ़ रहा है। सागर प्लास्टिक से भरा हुआ है, हानिकारक रसायनों के साथ समुद्री प्राणियों के निवास स्थान में घुटन पैदा हो रही है जिसने बदले में उपभोग के लिए समुद्री खाद्य अस्वास्थ्यकर बना दिया है। इससे भी बदतर समुद्री जल प्रदूषण का परिणाम 10 लाख से ज्यादा समुद्री पक्षी और 100,000 समुद्री स्तनधारियों की मौत हर साल देखने को मिलती है।

पर्यावरण को बचाने में मदद करने के लिए छात्रों की एक महत्वपूर्ण भूमिका है। कक्षाओं, परीक्षाओं और व्यस्त कार्यक्रमों को प्राथमिकता देते हुए उन्हें पर्यावरण का संरक्षक बनने के लिए भी कदम उठाना चाहिए। यह ज़्यादा ज़रूरी है क्योंकि ज़िन्दगी के शुरुआती चरण में स्थापित जिम्मेदार तरीके लंबे समय तक हमारे साथ रहना पसंद करते हैं। उनका उद्देश्य पृथ्वी के प्राकृतिक संसाधनों को बचाने का होना चाहिए। केवल तभी हमारी मांगें पूरी हो सकती हैं ताकि हम पर्याप्त रोशनी, पानी, गर्मी और भोजन के साथ जीवित रह सकें। पृथ्वी को हरा-भरा बनाए रखने के लिए केवल कुछ सरल कदम उठाए जाने चाहिए:

पर्यावरण को बचाने के लिए छात्रों द्वारा उठाए गए कदम

  • पुन: उपयोग या पुनरावृत्ति

मानव आबादी में वृद्धि ने कचरे की मात्रा में बढ़ोतरी की है या हर दिन कचरा फैलाया है। इस बोझ को कम करने के लिए आपको चीजों का पुनः उपयोग और रीसाईकल करने के लिए विकल्पों की तलाश करनी होगी। रीसाइक्लिंग वातावरण को हरा-भरा बनाए रखने का सबसे आसान तरीका है। अखबार, डिब्बे, ग्लास और प्लास्टिक की बोतल जैसे आइटम कचरे से अलग हो सकते हैं। इससे आपको कचरा ज्यादा से ज्यादा दूर रखने में मदद मिलेगी। पुरानी बैटरी और सामान जैसे टीवी, कंप्यूटर आदि का पुनर्नवीनीकरण किया जा सकता है बजाए उन्हें नदी या समुद्र में फेंकने के। परिमित प्राकृतिक संसाधनों की खपत के विपरीत धातु और कांच की वस्तुओं को रीसाईकल करने के लिए बहुत थोड़ी ऊर्जा की आवश्यकता पड़ती है। अपनी पाठ्यपुस्तकों को पुन: रिसाइक्लिंग या रीसेल करना पेड़ों को बचाने का एक अच्छा विचार है पाठ्यपुस्तकों को मेज़ पर सड़ने न दें या कचरे में ना फेंके।

एक कॉलेज के छात्र के रूप में आपको स्मार्टफोन, डिजिटल कैमरे और एमपी3 प्लेयर जैसे पोर्टेबल इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की अपनी बैटरी से रिचार्ज करना होगा। दुर्भाग्य से बैटरी में भारी धातुएं होती हैं जैसे मर्करी और कैडमियम जो डंप साइटों पर प्रदूषण में वृद्धि करती हैं। पर्यावरण को बचाने के लिए आप रिचार्जेबल बैटरी का उपयोग करना या इस्तेमाल की गई क्षारीय बैटरी को रीसाईकल कर सकते हैं। जब भी आवश्यक हो तो बैटरी की जिम्मेदारी पूर्ण तरीके से निपटाएँ।

  • मांस की खपत कम करें

यदि आप माँसाहारी हैं तो आपको मांस की खपत में कटौती करने का प्रयास करना चाहिए। अपने मांस का सेवन थोड़ा कम करके आप ऊर्जा बचा सकते हैं जो कि पर्यावरण के संतुलन के लिए महत्वपूर्ण है। आप यह जानकर हैरान होंगे कि इसमें 2,500  गैलन पानी, 12 पाउंड अनाज, 35 पौंड्स टॉपसोल और एक गैलन गैसोलीन के बराबर होता है ताकि गोमांस के एक पौंड का उत्पादन किया जा सके। दुनिया की लगभग 1/5 हिस्से की ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन के लिए मांस उद्योग को जिम्मेदार ठहराया जा सकता है। इसके अलावा पशु कृषि भी बहुत ज्यादा ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में योगदान करती है जिसमें एक गाय 75 किलोग्राम मीथेन सालाना पैदा करता है। खेतों में पशुओं को पालने के लिए बड़ी मात्रा में ऊर्जा की आवश्यकता होती है जो कि पशुओं के लिए भोजन के रूप में फसलों की खेती से शुरू होती है और पूरे देश में मांस के परिवहन के लिए होती है। शाकाहारी विकल्प को अपनाने के द्वारा आप इस नुकसान को पर्यावरण, जानवरों और खुद के लिए कम कर सकते हैं।

 

  • पुन: उपयोग किए जाने वाले बैगों को अपनाएँ

जब आप किराने की वस्तुओं की खरीदारी करते हैं तो आप सामान ले जाने के लिए प्लास्टिक के कागज/कपड़े चुन सकते हैं। अगर यह एक पुन: उपयोग किए जाने वाला किराना बैग है तो यह और भी अच्छा है। किराने की दुकान की थैली या प्लास्टिक के बैग को इस्तेमाल करने की बजाए घर से कपड़े का बैग लाकर अपने माता-पिता को प्रभावित करें। इन सबके अलावा एक प्लास्टिक बैग में फलों और सब्जियों को लाना स्वस्थ नहीं है। इसके अलावा अनावश्यक गैर-बायोडिग्रेडेबल पैकेजिंग के साथ कम सामान खरीदें। कुछ किराने की दुकानों पर अगर आप अपने पुन: उपयोग किए जाने वाले शॉपिंग बैग का उपयोग करते हैं तो आपको सामान ख़रीदने पर छूट भी मिल जाएगी।

  • बोतलबंद पानी से बचें

बोतलबंद पानी खरीदने से बचना चाहिए क्योंकि आपको यह जानना जरूरी है कि प्लास्टिक से बनी खाली पानी की बोतल पूरी तरह से खत्म होने के लिए 500 से अधिक वर्षों का समय ले सकती है। प्लास्टिक की कवरिंग, कंटेनर आदि हमारे महासागरों और जमीन को दूषित करते हैं और दुनिया भर के मनुष्यों, जानवरों और पौधों को नुकसान पहुंचाते हैं। एक अनुमान यह है कि महासागरों में 2050 तक वजन के हिसाब से मछली की तुलना में अधिक प्लास्टिक होगी। इसलिए अपने घर में सभी प्लास्टिक जैसे प्लास्टिक की बोतलों और बैग जैसी वस्तुओं को रीसाइक्लिंग करके महासागरों और ज़मीन पर प्लास्टिक को सड़ने से बचाना सुनिश्चित करें।

  • पुन: उपयोग में ली जाने वाली पानी की बोतलें खरीदें

अपने और अपने परिवार के लिए पानी के फिल्टर और पुन: उपयोग में ली जाने वाली पानी की बोतलें खरीदें। आप पुन: उपयोग वाली बोतल को जिम में, कक्षा आदि में ले जा सकते हैं या प्लास्टिक प्रदूषण को कम करने में सहायता के लिए उनका फिर से इस्तेमाल कर सकते हैं। याद रखें कि बोतलबंद पानी ले जाना सुविधाजनक और स्वाद के लिए अच्छा हो सकता है लेकिन इन बोतलों का पर्यावरण पर अत्यधिक प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। महंगा बोतलबंद पानी की पैकेजिंग पर ध्यान केंद्रित करने की बजाए एक अच्छी पुन: उपयोग वाली पानी की बोतल का उपयोग करें और जब भी जरूरी हो तो स्वस्थ रहने के लिए उसे पानी से भरें। उच्च गुणवत्ता वाली फिर से उपयोग करने योग्य पानी की बोतल हमारे कचरे में प्लास्टिक की विशाल मात्रा में कटौती कर सकती है।

आपके निपटान की आदतें सब चीजों पर एक बड़ा प्रभाव डालती हैं। अपने दोपहर के भोजन के बाद प्लास्टिक की पानी की बोतल साफ करें और अगले दिन इसे दोबारा उपयोग करें।

  • रासायनिक डिटर्जेंटो से दूर रहें

जिन डिटर्जेंट में रसायन हैं उनका उपयोग न करें क्योंकि वे जलीय जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं। स्थिरता से भरे और पर्यावरण के अनुकूल, ब्रांडेड तथा लोकप्रिय डिटर्जेंट खरीदें।

 

  • बिजली बचाएं

एक और अच्छा विचार यह है कि जब भी आप अपने कमरे से बहार जाएँ  तो रोशनी को हमेशा बंद कर दें। कम बिजली का उपयोग पर्यावरण को बचाने में मदद करता है। ध्यान रखें कि बाहर जाने से पहले बिजली को बंद करना इस ओर अच्छा कदम है। जब भी आपको बिजली की आवश्यकता नहीं हो तब ऐसा कदम उठायें। इसके अलावा टोस्टर या किसी अन्य छोटी मशीन का उपयोग करने के बाद इसका प्लग निकालना याद रखें। सही तथ्य यह है कि यदि कोई मशीन प्लग में लगी हुई हो भले ही आप इसका प्रयोग नहीं कर रहे हों फिर भी मशीन पर्याप्त ऊर्जा खपत करती है। उदाहरण के लिए जब आपके सेल फोन चार्जर को दीवार में लगे प्लग में डाला जाता है तो यह आपके फोन से कनेक्ट नहीं होने पर भी बिजली का उपयोग करता है। यह आपके अपार्टमेंट के आसपास अन्य उपकरणों पर भी लागू होता है। इसलिए बिस्तर पर जाने से पहले सभी उपकरणों को बंद कर दें।

  • ऊर्जा-कुशल उपकरणों का उपयोग करें

 आप रोशनी का उपयोग करते हुए ऊर्जा को तभी बचा सकते हैं जब आप अपने पारंपरिक बिजली के बल्बों को बदल दें जो आवश्यक से अधिक ऊर्जा की खपत करते हैं। ऊर्जा बचत बल्ब का उपयोग करना शुरू करें जो 75% कम ऊर्जा का उपयोग करेगा।

  • प्रकृति की ओर झुकाव बढ़ाएं

अपने बिजली के बिलों को बढ़ाने और इतनी ऊर्जा का सेवन करने वाले एयर कंडीशनर पर अधिक निर्भर न हों। खिड़की खोल कर ठंडी हवा खाना बुरा विचार नहीं है।

  • भोजन की बर्बादी से बचें

आपको रेस्तरां में भोजन बर्बाद करने के बारे में सावधानी बरतने की आवश्यकता है क्योंकि बचा हुआ भोजन कचरा और प्रदूषण को बढ़ाता है। भोजन की जितनी ज़रूरत हो उतना ही ऑर्डर करें। अपने दोस्तों के साथ छोटे या अर्ध-आकार वाले बर्तनों को आज़माएं या उनमें भोजन करें। इससे मौद्रिक और पर्यावरणीय लागतों में भी कमी आएगी।

  • वाहनों के उत्सर्जन को कम करें

आप अच्छी तरह जानते हैं कि मोटर वाहन जीवाश्म ईंधन उत्सर्जन के स्रोत हैं। आपको अपने परिवार को कम ड्राइविंग करने के लिए जोर डालना चाहिए क्योंकि अन्य भी विकल्प हैं: चलना, साइकिल चलाना, कारपूलिंग या कहीं दूर जाने के लिए बस का उपयोग करना। ड्राइविंग की बजाए आप अपने कॉलेज परिसर में चलने या बाइकिंग के माध्यम से भी कार्बन फुट प्रिंट्स को कम कर सकते हैं। स्कूल या काम के लिए अपना रास्ता साईकल से तय करने से आप प्रदूषण को कम कर सकते हैं और साथ ही दूसरे संकटों को कम कर सकते हैं। लक्जरी कार में सवारी कर आप दिखाते हैं कि आप पर्यावरण की देखभाल करते हैं बजाए साइकिल चालन के स्वास्थ्य लाभों का फायदा उठाने जो व्यायाम के माध्यम से आपके शरीर के लिए बहुत फायदेमंद हैं। यदि आपका कॉलेज आपके घर से काफी दूरी पर स्थित है तो आप सार्वजनिक परिवहन से यात्रा कर सकते हैं जो बहुत सस्ता, पर्यावरण का अनुकूल विकल्प है।

  • पेड़ लगाएं

आपको ग्लोबल वार्मिंग को कम करने के प्रयास करने चाहिए क्योंकि पृथ्वी के तापमान में वृद्धि एक गंभीर पर्यावरणीय संकट है। वृक्षारोपण ड्राइव में भाग लेना जितना संभव हो सके उतनी कोशिश करें क्योंकि वृक्ष और पौधे पृथ्वी के वायुमंडल में कार्बन डाइऑक्साइड को अवशोषित करने में मदद करते हैं।

  • काग़ज़ मुक्त बने

आपका परिवार अपनी भौतिक प्रतियों को प्राप्त करने के बजाय ई-बिल का चुनाव कर सकता है। यही कानून बैंक स्टेटमेंट, एटीएम रसीद, स्टोर रसीद और अन्य सभी चीजों पर भी लागू होता है जिन्हें ई-मेल के माध्यम से साझा किया जा सकता है। कागज की वस्तुओं को अतीत की बात बनाएं। महंगी पाठ्यपुस्तकों को खरीदने से पहले पता करे कि आपकी कक्षा में आवश्यक किताबें ऑनलाइन उपलब्ध हैं या नहीं। आप पैसे और पर्यावरणीय लागतों को बचाने के लिए ई-पाठ्यपुस्तकों को अपने टेबलेट पर भी डाउनलोड कर सकते हैं। ऐसी छोटी चीजें पेड़ों को बचाने में मदद करेगी जिनका पेपर का उत्पादन करने में कटौती की जाती है।

  • ऊर्जा खपत कम करें

आपको अपने परिवार को यह समझाना चाहिए कि अक्सर सर्दियों में अपने घर को गर्म करने और गर्मियों में ठंडा करने का सहारा नहीं लेना चाहिए क्योंकि इसमें बहुत अधिक ऊर्जा खर्च होती है जो पृथ्वी ग्रह पर प्राकृतिक संसाधनों की समस्या को और अधिक बढ़ाती है। घर को गर्म करने के लिए अधिक बिजली इस्तेमाल करने की बजाए, बेहतर स्वेटर पहनिए या गर्म रहने के लिए कंबल का उपयोग करें! यह भी देखें कि क्या आप अपने कपड़े धोते समय गर्म पानी की बजाए ठंडे पानी का उपयोग कर सकते हैं। इसी तरह आप प्रति लोड के अनुसार साढ़े छह पाउंड कार्बन उत्सर्जन को बचा सकते हैं।

  • जल बचाएं

पानी कीमती है इसलिए पर्यावरण की खातिर इसे बचाएं। शेविंग या अपने दांतों को ब्रश करते हुए पानी को बंद करना याद रखें, नहाते समय पानी कम उपयोग करें, जब आप साबुन लगा रहे हैं तो उस समय पानी बंद कर दें तथा साबुन पूरी तरह लगाने के बाद ही इसे वापिस चलाए और पानी टपकते हुए नल को कस लें। उदाहरण के तौर पर सिर्फ दो मिनट अपने नहाने का समय कम करने से वातावरण में उत्सर्जित लगभग 1,000 पाउंड कार्बन डाइऑक्साइड को रोका जा सकता है। ऐसी छोटी चीजें एक बड़ा अंतर पैदा कर सकती हैं और हर महीने पानी के कई गैलन को बचाने में मदद कर सकती हैं।

  • कचरे को खाद में बदलना

आप सभी फलों और सब्जियों के छिलके, स्क्रैप्स और बचे हुए भोजन से अपने बगीचे में खाद प्रणाली शुरू करने के लिए अपने माता-पिता की मदद ले सकते हैं। यह खाद पोषक तत्वों में समृद्ध है। यह आपके बगीचे को निषेचन के लिए एक प्राकृतिक विकल्प हो सकता है। बायोडिग्रैडबल सामग्री बनाना पर्यावरण, मिट्टी और पौधों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दर्शाता है।

अपने स्कूल और पड़ोस में कचरे को कम करने में सहायता करें। यह सुनिश्चित करें कि आप अपने कूड़े को चारों ओर नहीं फैलाएं और इसे कचरे के डिब्बे में डाले। यह हमारी धरती को साफ रखने में मदद करता है।

निष्कर्ष

आपको माँ प्रकृति का सम्मान करना चाहिए क्योंकि इससे हमें एक खुश, स्वस्थ अस्तित्व का नेतृत्व करने की आवश्यकता है। इतनी चीजें प्रकृति ने हमें दी हैं इसके लिए हम इसके आभारी होने की बजाए हम प्रकृति को ही भूल गए हैं। इसलिए टीवी देखने या घर के अंदर खेलने में अधिक समय व्यतीत करने की बजाए प्रकृति के साथ अपना अधिक से अधिक समय व्यतीत करें। कई चीजें हैं जो आप कर सकते हैं जैसे बाहर खेलना, अपने कुत्ते को बाहर घुमाना या आप समुद्र तट पर जाकर पड़ोस के बच्चों के साथ खेलने की भी योजना बना सकते हैं। पर्यावरण को बिना कोई क्षति पहुंचाए आप ताजी हवा में बहुत अच्छा महसूस करेंगे।