कैसे! एनर्जी ड्रिंक आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं हैं और आपकी जान ले सकते हैं - How Energy Drinks are Bad for Your Health and Can Kill You

हममें से ज्यादातर लोग गर्मीयों के दिनों मे कुछ ठंड़ा और उर्जावान चीजें लेना पसंद करते है, और आजकल बाजारों में कई तरह के एनर्जी ड्रिंक (उर्जावान पेय) उपलब्ध है। ये एनर्जी ड्रिंक आपको तुरन्त उर्जा देने का काम करते है। आमतौर पर इनमे हानिकारक रासायन मिले होते है जो हमारे लिए अच्छे नही होते है और ये हमारे शरीर मे अनेक बिमारियों का कारण बनते है। तुरंत उर्जा प्राप्त करना कोई बुरी बात नही है लेकिन इनमें कैफीन, टॉरिन, ग्वाराना आदि जैसे खतरनाक रासायन मिले होते है। मैनें इस लेख मे एनर्जी ड्रिंक के बारे मे कुछ महत्वपूर्ण जानकरी को दर्शाया है जो कि निश्चित रुप से आपकी सहायता करेंगी।

क्या आप जानते है एनर्जी ड्रिंक क्या है?

हमारें बाजारों मे कई तरह के पेय पदार्थ उपलब्ध होते है और उनमें से कुछ ठंड़े पेय होते है, कुछ शीतल पेय तो कुछ को उर्जावान पेय के नाम से जाना जाते है। आइए इनमें भिन्नता को देखते है।

  • शीतल पेय – शीतल पेय मे कार्बोहाइड्रेट, पानी होता है और इनमें एल्कोहल नहीं होता है हम उन्हे शीतल पेय कहते है। वो आपकी आवश्यकता के अनुसार या तो ठंड़े या गर्म हो सकते है। शीतल पेय पदार्थो के कई उदाहरण है, जैसे कि कोका-कोला, चाय, डिब्बाबंद जूस, स्वाद वाला जूस, स्लाइस इत्यादि।
  • कोल्ड-ड्रिंक – यह साधारण रुप मे ठंड़ा तरल पदार्थ होता है जिसमें हम कभी-कभी रसना, नीबू पानी, टैंग इत्यादि जैसे फ्लेवर मिलाते है।
  • एनर्जी ड्रिंक – इस तरह के पेय मे चीनी और कुछ भाग मे कैफीन मिले होते है। यह आपको ज्यादा समय तक के लिए तरोताजा रखता है। कैफीन की उपस्थिति आपके मेटाबोलिस्म और आपकी उर्जा कृत्रिम रुप से बढ़ाने का काम करती है। इस तरह के पेय मे ज्यादा मात्रा मे पोषक तत्व और कैलोरी शामिल नही होते है। इनका निर्माण कृत्रिम रुप से किया जाता है। चीनी और अन्य रासायनों की अधिक मात्रा मे होना वास्तव मे हमें बहुत नुकसान पहुचा सकती है।

एनर्जी ड्रिंक के कारण स्वास्थ्य समस्याएं जो आपकी जान ले सकती हैं - Health Issues/Diseases Caused by Energy Drinks Which Can Kill You

  1. गुर्दे की पथरी – गुर्दे की पथरी आपके गुर्दे को नुकसान पहुचा सकती है एनर्जी ड्रिंक मे मौजूद टॉरिन बहुत हानिकारक होती है और एनर्जी ड्रिंक के अधिक इस्तेमाल से यह हमारे रेटिना की शक्ति को कम करने का कारण बनता है। हमारे द्वारा खाएं जाने वाले भोजन मे कैल्सियम, सिस्टीन, आक्सालेट और यूरीक एसिड की मौजूदगी हमारे अन्दर गुर्दे की पथरी बनने का कारण बनती है। एनर्जी ड्रिंक मे ये सभी चीजें मौजूद होती है जो हमें हानि पहुचाती है।
  2. आंत का कैंसर – 50 प्रतिशत से अधिक आंत के कैंसर का कारण लोगों के गलत खाने के तरीकों के कारण पाई जाती है। आवश्यकता से अधिक मात्रा मे चीनी, कैफीन, वसा युक्त भोजन इत्यादि के सेवन के कारण होती है। अधिक मात्रा मे एनर्जी ड्रिंक का सेवन करने वाले लोगों मे आंत के कैंसर का खतरा अधिक होता है। कैफिन और चीनी की अधिक मात्रा का संयोजन वास्तव मे आपको कई खतरनाक बिमारियों के रुप मे आपको मारने का कारण बन सकती है।

3. डायबिटीज – अधिक मात्रा मे एनर्जी ड्रिंक पीने वाले लोगों के शरीर मे इन्सुलिन के साथ-साथ बल्ड शुगर बढने का खतरा अधिक होता है। कैफिन और चीनी की अधिक मात्रा की उपस्थिति वास्तव मे हमे बहुत नुकसान पहुचाती है और आजकल इन एनर्जी पेय मे चीनी के साथ-साथ कृत्रिम चीनी को भी मिलाया जाता है। जो कि हमारे शरीर के इंसुलिन के लिए अच्छा नही होता है और आमतौर पर यह टाइप-2 जैसे मधुमेह का कारण बनता है।

4. हृदय रोग – हांलाकि एनर्जी ड्रिंक आपको तुरंत उर्जा प्रदान करता है फिर भी कभी-कभी यह हमें हानि पहुचा सकते है। एनर्जी ड्रिंक का उपयोग वास्तव मे हमारे लिए कई खतरों का कारण बनता है। धीरे-धीरे यह आपके शरीर मे इकट्ठा होकर उच्च रक्त चाप का कारण बनते है। हार्ट अटैक के पीछे उच्च रक्तचाप, एक बहुत बड़ा हाथ होता है। इसलिए एनर्जी ड्रिंक का सेवन हमारे लिए सुरक्षित नही है।

5. मानसिक स्वास्थ्य प्रभाव – इसके कारण लोग बहुत पिड़ीत होते है और यह मानसिकता पर बहुत प्रभाव डालती है। यह आपको तुरंत उर्जा देती है पर कभी-कभी यह आपकी सोचनें की क्षमता और आपके प्रर्दशन को बहुत बदल देती है। इससे व्यक्ति हमेशा नशें मे होने जैसा व्यवहार करने लगता है।

6. ब्रेन स्ट्रोक – अचानक से बढ़ा हुआ रक्त का प्रवाह आपके रक्त वाहिकाओं को नुकसान पहुचा सकती है और आपके मस्तिष्क मे स्ट्रोक का कारण बन सकती है। कभी-कभी ऐसा होता है कि आपकी रक्त वाहिकाएं रक्त के इस तेज बहाव का विरोध करती है और यही आपके ब्रेन स्ट्रोक का कारण बनता है।

7. माइग्रेन – कैफीन की असामान्य मात्रा की उपस्थिति के कारण हमारे सिर मे दर्द और कभी-कभी इसके कारण माइग्रेन भी होता है। इसलिए हमेशा शीतल पेय की मात्रा ध्यानपूर्वक लेना चाहिए। यदि संभव हो तो आप इससे बचें और यदि बहुत आवश्यकता हो तो एक दिन मे केवल एक कैन का ही इस्तेमाल करे।

8. नींद न आना – इन एनर्जी ड्रिंक के सेवन के कारण अनिद्रा की बिमारी हो सकती है। यह आपको कई घंटो तक सक्रीय रखती है और आपके सोने मे बाधा डालती है। नीद न आने के कारण आपका काम और आपका प्रदर्शन बहुत प्रभावित होता है।

एनर्जी ड्रिंक मे क्या-क्या हानिकारक घटक होते है?

  • एनर्जी ड्रिंक मे कैफीन की कुछ विशेष मात्रा होती है, जो कि वास्तव मे हमारे साथ-साथ किसी के लिए अच्छी नही होती है। ये हमें अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तुरंत उर्जा देती है और मानसिक सतर्कता की भावना का विकास करती है।
  • चीनी एक अन्य मुख्य घटक है और यह आपके शरीर मे उर्जा उत्पादन का एक श्रोत है, और इन एनर्जी ड्रिंक मे चीनी काफी मात्रा मे मिलाई जाती है। यह हमारे शरीर मे छोटे-छोटे भाग मे बटकर हमारे खून मे मिल जाते है और इससे हम अधिक उर्जावान महसूस करते है।
  • किसी एक व्यक्ति को एक बार मे 300 मिलीलीटर से अधिक कैफीन का सेवन कभी भी नही करना चाहिए। आमतौर पर विभिन्न एनर्जी पेय मे कैफिन की मात्रा विभिन्न स्तर पर मिले होते है। एक केन पेय मे कैफिन की मात्रा 100 मिलीलीटर तक मिली हो सकती है और यह आपको 4 घंटे से अधिक समय तक उर्जा दे सकती है। एक व्यक्ति को एक दिन मे 2 केन से ज्यादा एनर्जी ड्रिंक कभी नही लेना चाहिए। क्योकि यह वास्तव मे आपके लिए बहुत हानिकारक हो सकता है, और यह आपके तनाव, चिन्ता और अन्य कई स्वास्थ्य समस्याओं को बढ़ा सकता है।

निष्कर्ष

एनर्जी ड्रिंक उर्जा प्राप्त करने का एक छोटा तरीका होता है, और यह छोटा तरीका आमतौर पर खतरनाक होता है। इसलिए हमेशा इनसे बचें क्योकि यह किसी व्यक्ति के मौत का कारण हो सकता है। ये बाजारों मे आसानी से उपलब्ध होते है और कोई भी इन्हे आसानी से ले सकता है। विशेष रुप से बच्चों की पहुच से इनको दूर रखना चाहिए और उन्हे पेय पदार्थो से होने वाले हानिकारक प्रभावों के बारे मे भी उन्हें बताना चाहिए।

वास्तव मे यह विचार करने का विषय है कि यह बाजारों मे धीमें हत्यारे के रुप मे उपलब्ध होता है, और हममे से बहुत कम लोग इसके हानिकारक प्रभावों के बारे मे जानते है। आशा है कि इस लेख से आपको मदद मिलेगी और सभी लोग इससे जागरुक होंगे।