Categories: भाषण

शिक्षक दिवस का उत्सव पर भाषण

शिक्षक दिवस छात्रों के लिए एक खास महत्व रखता है, यह वह दिन है जब छात्र अपने शिक्षकों के प्रति अपनी कृतज्ञता और सम्मान व्यक्त करते है। इसलिए शिक्षक दिवस छात्रों के लिए एक उत्सव का दिन होता है। क्योंकि अब यह दिन आने वाला है तो मुझे इस बात का पूरा विश्वास है कि इस विषय को लेकर आपके दिमाग में भी कुछ नये विचार आ रहे होंगे, पर शिक्षक दिवस पर बिना एक अच्छे भाषण के बिना यह दिन पूरा नही होता है।

भारत में 5 सितबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। सभी स्कूलों एवं कालेजों मे इस तारीख को उत्सव की तरह मनाया जाता है। इस उत्सव को मनाने के लिये बच्चों का उत्साह देखने लायक होता है।

स्कूल मे बच्चे इस दिन अपने पसंदीदा अध्यापक का किरदार निभाते हैं और अपने अध्यापकों के लिये कई कार्यक्रमों का भी आयोजन करते हैं। यदि आप भी इस अवसर के लिए एक शानदार भाषण तैयार करना चाहते हैं, तो हम आपकी सहायता के लिए हाजिर हैं।

शिक्षक दिवस के उत्सव पर लम्बे तथा छोटे भाषण (Long and Short Speech on Teacher’s Day Celebration in Hindi)

वो शिक्षक होते हैं जो हमें सबकुछ सिखाते हैं और जब मौका उन्हे खुश करने का हो तो एक शानदार भाषण से अच्छा और कुछ नहीं हो सकता। हम आपके लिये विभिन्न प्रकार के भाषण लेकर आए हैं। जिसमे इस उत्सव के महत्व और इसे मनाए जाने के पीछे के कारणों को अच्छे से समझाया गया है। जो आपके लिये अतयंत सहयोगी सिद्ध होंगी, क्यों कि भाषण में जब विभिन्न प्रकार की जानकारी दी जाती है तो वह रोचक लगती है।

अगर आपको नही पता है कि एक अच्छा भाषण कैसे लिखे तो परेशान मत होइये, इस विषय में हमारे शिक्षक दिवस के भाषण आपके लिए काफी मददगार साबित होंगे। यहा पर आपके सहायता के लिए शिक्षक दिवस के उत्सव पर कई तरह के छोटे तथा लम्बे भाषण दिए गये है, जो आपकी रचनात्मकता को बाहर निकालेंगे और इस दिन को और भी खास बनाने में आपकी सहायता करेंगे।

आप हमारी वेबसाइट का उपयोग करके आसानी से इस तरह के भाषणों को प्राप्त कर सकते है और इनकी सहायता से खुद का भाषण भी तैयार कर सकते हैं। और अपनी वाक कुशलता से अपने शिक्षकों को प्रभावित कर इस उत्सव में चार-चांद लगा सकते हैं।

शिक्षक दिवस का उत्सव पर भाषण – 1

आप सभी शिक्षकों और प्रिय छात्रों का इस कार्यक्रम में हार्दिक स्वागत है!

शिक्षक हमारे समाज का अभिन्न अंग है, जिससे उन्हे उनके प्रयासो और कठिन कार्यों के लिए सम्मानित करने की आवश्यकता है। इस विद्यालय का प्रधानाचार्य होने के नाते मैं इस अवसर पर आप सबके सामने इस शिक्षक दिवस पर एक भाषण दुंगा।

5 सितंबर के इस दिन को डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णनन के जंयती के रुप में मनाया जाता है, इसलिए इस दिन को हम शिक्षक दिवस के रुप में मनाते है। आपके तरह ही पूरे देश भर में बच्चे शिक्षक दिवस के इस उत्सव को पूरे जोश के साथ मनाते है। इस दिन आप सभी अपने शिक्षकों को उनके कार्यों और प्रयासो के लिए उपहार और मिठाइयां प्रदान करते हो। आपके शिक्षक आपको पूरा दिन पढ़ाते है और अपने जीवन के कई चीजों का त्याग कर देते है ताकि उनके छात्र सफलता प्राप्त कर सके।

एक शिक्षक बनना आसान कार्य नही है, अपने छात्रो को बिना कुर्सी पर बैठे पूरा दिन पढ़ाना, आपके कमजोरियों और अच्छाइयों को समझना तथा उन्हे और बेहतर बनाना। आपके कार्यो और हाजिरी को जांचना, जिसे उन्हे सही समय पर पूरा करने के लिए उन्हे इसे अपने साथ घर ले जाना पड़ता है, तो आप सोच सकते है एक छात्र जीवन में एक शिक्षक का कितना बड़ा योगदान होता है। जब वह घर जाते है तब भी अगले दिन के लेक्चर और विद्यालय के अन्य कार्यो के लिए तैयारी करते है ताकि छात्रों को और भी अच्छे तरीके से पढ़ा सके।

यह छात्रो के समग्र विकास में काफी सहायक होता है और वह पढ़ने के लिए और भी ज्यादे प्रेरित होते है। कुछ परिस्थितियों में जब शिक्षकों द्वारा जब छात्रों को डांटा जाता है तो कई बार छात्र इस बात का बुरा मान जाते है, लेकिन आप सब को समझना चाहिए कि वह आपके भले के लिए ऐसा करते है ताकि आप एक अच्छे इंसान बन सके और एक ही गलतियों को अपने जीवन में बार-बार ना करे। यह सब वह आप के ही भले के लिए करते है, ताकि आपका भविष्य उज्जवल हो सके।

क्या आपको कभी इस बात का अहसास हुआ कि आपके उपर किये गये कठिन परिश्रम के बदले उन्हे क्या मिलता है? कुछ नही जी हाँ, बस उन्हे प्रसन्नता मिलती है कि उनका विद्यार्थी जीवन में सफलताएं प्राप्त कर रहा है। यह उनके लिए वह अवसर होता है जब उन्हे लगता है उनके सारे मेहनत का फल उन्हे मिल गया है। ऐसा कहा जाता है कि “जब हम पौधें की देखभाल करते है और जब यह बड़ा हो जाता है तो हमें काफी खुशी मिलती है।” ठीक उसी प्रकार से आपके शिक्षकों को भी आपकी सफलता देखकर काफी खुशी मिलती है।

शिक्षक सिर्फ एक छात्र का जीवन नही संवारता है बल्कि की पूरे एक पीढ़ी को अपना ज्ञान और विचार प्रदान करता है। अगर हमें एक अच्छा शिक्षक मिल जाये तो एक छात्र के रुप में आप अपने पूरी जिंदगी में उन्हे कभी नही भूलोगे क्योंकि आपको इस बात का आभास हो जायेगा कि आप आज जो कुछ भी हो वह उनके द्वारा आपके उपर की गयी कठिन परिश्रम और मार्गदर्शन के बदौलत हो।

मैं उम्मीद करता हुं कि मेरे इस भाषण से आपको अपने शिक्षक का सदैव आदर करने की प्रेरणा मिले क्योंकि वह आपके गुरु है और उनके बिना आप अपने जीवन में कुछ भी हासिल नही कर सकते हैं। इसके साथ ही आप इस बात का भी ध्यान रखे की आपके शिक्षक आपके माता पिता के समान है जो आप सभी के जीवन मे पथ प्रदर्शन का कार्य करते है।

आप सभी का धन्यवाद!

 

शिक्षक दिवस का महत्व पर भाषण – 2

आदरणीय प्रधानाचार्य, उप-प्रधानाचार्य, शिक्षकगण और प्रिय विद्यार्थियों आप सभी का हार्दिक स्वागत है।

इस विद्यालय का भूतपूर्व छात्र होने के नाते मैं आज यहा आप सबके सामने शिक्षक दिवस जैसे इस पावन अवसर के महत्व पर भाषण देने आया हुँ। शिक्षक एक समाज की रीढ की हड्डी के समान होते है, चाहे वह भारत हो या फिर कोई और देश। मुझे लगता है कि आप सब भी मेरी बात से इत्तेफाक रखते होंगे कि आज हम अपने जीवन में जो कुछ भी है अपने शिक्षकों के बदौलत ही है।

एक शिक्षक का कार्य बहुत ही कठिन होता है क्योंकि वह हमें सिर्फ पढ़ाते ही नही है, बल्कि की इसके लिए उन्हे तैयारी भी करनी होती है। जिसमें रजिस्टरो का निरीक्षण करना तथा आपकी गलतियों को खोजना भी शामिल होता है। अगर एक शिक्षक यह गलतियां ना पकड़े तो आप बार-बार यही गलती करते रहेंगे। एक शिक्षक को आपकी गलतियां सुधारने के लिए बहुत ही सतर्क रहने की आवश्यकता होती है।

यह सही ही कहा गया है कि हमारे माता-पिता हमारे जीवन में हमारे पहले शिक्षक होते है और इनके बाद दूसरे हमारे स्कूल के शिक्षक होते है, जो विद्यालय और छात्रों के बीच एक सेतु का कार्य करते है। इसके अलावा वे वह व्यक्ति होते है जो हमारी कमजोरियों को पहचानते है और उन्हे दूर करने के लिए प्रयास करते है। हमें हमारे जीवन के हर चरण में शिक्षकों की आवश्यकता होती है चाहे वह स्कूल हो या कालेज। एक शिक्षक की भूमिका ऐसी होती है, जिसे कोई समझ नही सकता है। जब वह कक्षा में आते है तो बस हम और वह होते है, वह हमेशा अपने निजी और व्यक्तिगत जीवन को हमारे पढ़ाई से दूर रखने का प्रयास करते है और अपनी इस तरह की किसी भी समस्याओं से हमारे पढ़ाई को प्रभावित नही होने देते है।

वह हमें इस प्रकार से ज्ञान देने का प्रयास करते है कि हर एक छात्र आसानी से उनकी बातो को समझ पाये। वह हमें एक बेहतर मनुष्य के रुप में ढ़ालते है, वह हमें कभी-कभी ऐसी बातो में सही सलाह देते है, जिसमें कि हमारे माता-पिता भी असफल हो जाते है। हमारे शिक्षक हमारे शंकाओ और समस्याओं को समाप्त करने का तब तक प्रयास करते है, जब तक हम इसे सही तरीके समझ ना जाये।

वह विश्व में हो रही हर तरह की घटनाओं की जानकारी रखने का प्रयास करते है। जिससे कि वह हमें इन चीजो की जानकारी दे सके। शिक्षक हमारी शिक्षा में अपना पूरा जीवन बीता देते है और इसके बदले वह हमसे कुछ मागंते नही है।

यह काफी जरुरी है, हम अपने शिक्षकों के लिए थोड़ा समय निकाले और हमारे लिए किये गये उनकी कार्यों की सराहना करें। शिक्षक दिवस वह दिन है जब हम उन्हे यह बताने की कोशिश करते है कि वह हमारे लिए कितना महत्व रखते है और उनके बिना हमारा जीवन बेकार हो जायेगा। वे लोग वह व्यक्ति है जो हमारा दिशा निर्देशन करतें है और इसके बदले में वह हमसे कुछ पाने की लालसा नही रखते है तथा सदैव हमारे अच्छे की कामना रखते है और चाहते है कि हम एक अच्छे इंसान बने, जिससे की हमारा जीवन सफल बने।

वह हमसे बस यही चाहते है कि हम अच्छे से पड़े, जिससे हमें सफलता प्राप्त हो। इसलिए हमें ऐसा कार्य करने चाहिए जिससे उनके चेहरों पर मुस्कान आये। इसलिए यह बहुत जरुरी है कि हम हमेशा अपने शिक्षकों का सम्मान करें।

मुझे इतने धैर्यपूर्वक सुनने के लिए आप सभी का धन्यवाद!

 

शिक्षक दिवस का उत्सव पर भाषण – 3

इस शिक्षक दिवस के अवसर पर मैं कुनाल गुप्ता आप सब के समक्ष अपने आदरणीय शिक्षकों पर भाषण देने आया हुँ।

इस बात से तो सब ही समहत होंगे की शिक्षक दिवस हमारे जीवन के सबसे महत्वपूर्ण दिनो में से एक होता है, क्योंकि इस दिन हम छात्रों को पढ़ाने और शिक्षकों की तरह बर्ताव करने का मौका मिलता हैं। हमारे कई विद्यार्थी जो यहा खड़े है उन्होंने कक्षाओं में पढ़ाने के लिए बिल्कुल उसी तरह का कपड़े पहने है, जैसा हमारे शिक्षक पहनते है। यहा खड़े हमारे कई सारे छात्र कक्षाओं में उसी तरह के कार्य करते हैं, जैसा कि हमारे शिक्षक करते है और आज के दिन हमारे शिक्षक अपने कार्यों से मुक्त रहते है तथा हमारी इन्ही मनोरंजक गतिविधियों का आनंद लेते है। क्योंकि पूरे वर्ष भर वह अपने जीवन की व्यक्तिगत समस्याओं को भुलाकर हमारे लिये कार्य करते है, इसलिए आज के दिन वह निश्चिंत होकर अपने इस दिन का अपने परिवार और दोस्तो के संग लुफ्त उठाते है।

हम सब जानते है एक शिक्षक के महत्व को परिभाषित करना काफी मुश्किल है। वह सिर्फ ना हमें सही रास्ता दिखाते है, बल्कि की वह हमें हर किसी से ज्यादे अच्छे तरीके से भी जानते है, इसलिए वह हमें अपने लिए सही कैरियर को चुनने में भी सहायता करते है। हमारे शिक्षक हमारे चरित्र और व्यक्तित्व का समग्र विकास करते है, जिससे कि हमारे अंदर आत्मविश्वास जागृत हो और हम जीवन में हर तरह की बाधाओं को पार कर सके।

शिक्षक हमारे दूसरे माता-पिता के तरह होते है जो हमें जीवन में अच्छा करने की प्रेरणा देते है। हमें जब भी उनकी जरुरत होती है वह हमारी समस्याओं को दूर करने के लिए तैयार रहते है। हम सबने कभी ना कभी अपने शिक्षकों की नकल उतारने की कोशिश की है, क्योंकि वह हमारे आदर्श है और हमेशा हमें एक अच्छा इंसान बनाने का प्रयास करते है।

कुछ ऐसे गुण है जो लगभग हर शिक्षक में मौजूद होते है

1.वह विद्यार्थियों को प्रभावित करते हैः एक शिक्षक और छात्र के बीच परस्पर बातचीत दोनो के मध्य एक सेतु का काम करती है। जब भी हम निराश महसूस करते है तो हम हमेशा अपने शिक्षकों से बात करना चाहते है क्योंकि उनकी सलाह हमारी हर निराशा को दूर करने में हमारी मदद करती है। वह ना सिर्फ हमें हमारे विषयो में ज्ञान देते है बल्कि अपने जीवन के अनुभव भी साझा करते है, जो कि हमें अपने जीवन का मूल्याकंन करने में काफी सहायता करता है।

2.प्रेरित और उत्साहित करनाः सभी शिक्षक मेरी इस बात से सहमत होंगे की वह जब भी कक्षा में प्रवेश करते है, हमेशा उनके चेहरो पर मुस्कान रहती और उनके अंदर एक अलग ही जोश रहता है और यही मुस्कान और उर्जा हमारे लिए एक प्रेरणा का स्रोत बनती है, जो हमे अपने शिक्षकों जैसा बनने के लिए प्रेरित करती है।

3.कठिन परिश्रम और समर्पणः शिक्षक हम सभी के प्रेरणास्त्रोत है, हमें लेकर उनकी प्रतिबद्धता सराहनीय है जो हमारी आगे बढ़ने में सहायता करती है और हम में आत्मविश्वास पैदा करती है। जिससे हम अपनी पढ़ाई और भी ज्यादे समर्पण से कर पाते है और ऐसा प्रयास करते है कि हमारे शिक्षकों का भरोसा हम पर से कभी ना टूटे।

अब मैं आपसे अपने इस भाषण को समाप्त करने की अनुमति चाहुंगा और अपने सभी शिक्षकों को उनके इस कठिन परिश्रम के लिए धन्यवाद देना चाहुंगा। हमारे शिक्षक हमारे पथ प्रदर्शक है जो हमें कभी गिरने नही देते है और हमें इस बात का विश्वास दिलाते है कि हमें अपने जीवन में कभी हार नही माननी चाहिए। हम सभी को खुद पर भरोसा दिलाने के लिए हम सब आप सभी शिक्षकों का तहेदिल से शुक्रिया अदा करते है और यही आशा करते है कि आप इसी तरह से हमें हमारे जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए हमारा मार्गदर्शन करते रहेंगे।

अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आप सभी का धन्यवाद!


 

शिक्षक दिवस पर शिक्षक द्वारा भाषण – 4

आदरणीय प्रधानाचार्य, उप-प्रधानाचार्य, साथी शिक्षक गण और मेरे प्रिय विद्यार्थियों इस कार्यक्रम में आप सभी का हार्दिक अभिनंदन है।

आज के इस अवसर पर सभी शिक्षकों के ओर से भाषण देना मेरे लिये एक गर्व की बात है। आज 5 सितंबर होने के नाते यह दिन मेरे और मेरे साथी शिक्षक गणों के लिए काफी खास है। आज के इस आनंददायी समारोह में आप सभी का स्वागत है, आज के दिन हम डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णनन की जंयती मनाते है, जो कि एक बहुत बड़े विद्वान और शिक्षक थे।

मेरे प्रिय विद्यार्थियों मुझे यह बताते हुए काफी प्रसन्नता महसूस हो रही हैं कि आप लोगो ने आज के इस अवसर वाकई शानदार रंगारंग कार्यक्रम और नृत्य किया, जिनका हम सभी ने आनंद लिया। हम सभी शिक्षको का इन बीते हुए वर्षो में आप सभी के साथ एक खास रिश्ता बन गया है। हम शिक्षक आपके इस आपर स्नेह और आभार का आदर करते है और यह कामना करते है कि आप ऐसे ही हर क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करें।

एक शिक्षक इसलिए महान नही होता क्योंकि उसके पास ज्ञान है, वह इसलिए महान होता है कि उसके पास आप जैसे विद्यार्थी होते है। इसलिए आप सभी का हमारे जीवन में एक खास महत्व है, क्योंकि आपके ही बदौलत हम खुद को और इस शिक्षक पद के दायित्व की गरिमा को समझ पाते है। कुछ अवसरो पर हमसे भी गलतियां होती हैं, लेकिन आप छात्र हमें अपनी उन गलतियों को समझने में सहायता करते हैं। कई बार हम आपकी क्षमताओं को कम आंकते है लेकिन आज आपने हम लोगो को गलत साबित कर दिया है और दिखाया है कि आपके अंदर कई छुपी हुई प्रतिभायें मौजूद हैं।

कई बार आपकी गलतियों के लिए हम आपको डांटते या मारते है, पर ऐसा कभी मत सोचिएगा कि हम आपसे नफरत करते हैं। हम ऐसा करते हैं क्योंकि हम आपसे प्रेम करते हैं और चाहते है कि आप अपने जीवन में आने वाली समस्याओं और बाधाओं के लिए तैयार रहें। हम चाहते है कि आप अपने जीवन में सफलता की सीढ़ी चढ़े और कभी पीछे मुड़कर ना देखे। हमारी खुशी और दुख आपसे जुड़े होते हैं। जब आप दुखी होते हैं तो हमें भी दुख होता है और ऐसे अवसरों पर हम चाहते है कि आप उठे और अपने हर बाधाओं को पार करे तथा कभी भी हार ना माने।

आपका शिक्षक होने के नाते हमें बीते हुए सालो में आपके द्वारा पढ़ाई और अन्य गतिविधियों में प्राप्त आपकी उपलब्धियों पर गर्व है। इसके साथ ही हम इस बात को समझते है कि हर व्यक्ति की काबिलियत दूसरे से भिन्न होती है और हम आपकी गलतियों को बताकर अपकी उसी काबिलियत को उजागर करने का प्रयास करते है और आपको यह बताने का प्रयास करते है कि आप अपने जीवन में कहा रास्ता भटक रहे हैं। हमारे लिए आपकी अच्छी यादें और स्वभाव हमेशा हमारे दिलो में बना रहता है।

हम हमेशा चाहते है कि आप अपने जीवन में सही मार्ग का चुनाव करें, जिससे आपको सफलता प्राप्त हो। यदि आज अपने जीवन के किसी अवसर पर असफल भी हो जायें तो मेरी इस बात को हमेशा याद रखियेगा कि “हर रात के बाद एक नया सवेरा होता है”  असफलताएं हमेशा आपको शक्तिशाली बनाती है, इसलिए अपनी कमजोरियों को भूल जाइये और कभी भी हार नही मानइयेगा।

इस विषय में मैं आपको एक सलाह देना चाहुंगा, वह यह है मेरे प्रिय छात्रों कि, आप खुद को हमेशा एक अच्छा इंसान बनाने की कोशिश करें और जिन्होंने आपके जीवन में आपकी मदद की है, आपको हमेशा उनका आभार मानना चाहिए और उनके कार्यों को कभी भूलना नही चाहिए। इसके साथ ही कभी आपको अपने व्यक्तित्व पर नकरात्म सोच को हावी नही होने देना चाहिए क्योंकि यह हमें हमेशा ही गलत मार्ग पर ले जाता है। आपको हमेशा एक दयालु और अच्छा इंसान बनने का प्रयास करना चाहिए और ईश्वर से हमेशा खुद को सदमार्ग पर बनाये रखने की प्रर्थना करनी चाहिए, जिससे की आपके जीवन में सदैव आशा, सफलता और सही गुण बने रहें।

अब अपने साथियों के तरफ से इस विशेष दिन का इतना भव्य तरीके से आयोजन करने के लिए आप सभी को धन्यवाद देना चाहुंगा और मैं यह कामना करता हुं कि आप सभी का भविष्य उज्जवल हो और आप ऐसे ही अपने जीवन में नई उचांइयो को प्राप्त करें। इसके साथ ही अब मैं आप सबसे अपने इस भाषण को समाप्त करने की अनुमति चाहुंगा।

मुझे इतने धैर्यपूर्वक सुनने और अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आप सब का धन्यवाद!

 

 

सम्बंधित जानकारी:

अध्यापकों के लिए विदाई भाषण

अध्यापक के लिए धन्यवाद भाषण

स्वतंत्रता दिवस पर शिक्षकों के लिये भाषण

शिक्षक पर भाषण

शिक्षक दिवस पर भाषण

शिक्षक दिवस के अवसर पर शिक्षक द्वारा छात्रों के लिए धन्यवाद भाषण

शिक्षक दिवस पर निबंध

शिक्षक पर निबंध

मेरे शिक्षक पर निबंध

शिक्षक दिवस का उत्सव पर निबंध

Archana Singh

An Entrepreneur (Director, White Planet Technologies Pvt. Ltd.). Masters in Computer Application and Business Administration. A passionate writer, writing content for many years and regularly writing for Hindikiduniya.com and other Popular web portals. Always believe in hard work, where I am today is just because of Hard Work and Passion to My work. I enjoy being busy all the time and respect a person who is disciplined and have respect for others.

Recent Posts

मेरी माँ पर भाषण

माँ के रिश्ते की व्याख्या कुछ शब्दों करना लगभग असंभव है। वास्तव में माँ वह व्यक्ति है जो अपने प्रेम…

5 months ago

श्रमिक दिवस/मजदूर दिवस पर कविता

अंतरराष्ट्रीय मजदूर दिवस का दिन विश्व भर के कामगारों और नौकरीपेशा लोगों को समर्पित हैं। 1 मई को मनाये जाने…

5 months ago

मेरी माँ पर निबंध

माँ वह है जो हमें जन्म देने के साथ ही हमारा लालन-पालन भी करती हैं। माँ के इस रिश्तें को…

5 months ago

चुनाव पर स्लोगन (नारा)

चुनाव किसी भी लोकतांत्रिक देश की एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है, यहीं कारण है कि इसे लोकतंत्र के पवित्र पर्व के…

5 months ago

भारत निर्वाचन आयोग पर निबंध

भारत में चुनावों का आयोजन भारतीय संविधान के द्वारा गठित किये गये भारत निर्वाचन आयोग द्वारा किया जाता है। भारत…

5 months ago

चुनाव पर निबंध (Essay on Election)

चुनाव या फिर जिसे निर्वाचन प्रक्रिया के नाम से भी जाना जाता है, लोकतंत्र का एक अहम हिस्सा है और…

5 months ago