यूफ्रेट्स नदी पर 10 वाक्य (10 Lines on Euphrates River in Hindi)

यूफ्रेट्स नदी एशिया के दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र से निकलती है और बहुत ही प्राचीन नदी मानी जाती है। तुर्की में उत्पन्न दो नदियाँ मिलकर यूफ्रेट्स नदी का निर्माण करती हैं जो तीन देशों से होकर गुजरते हुए फारस की खाड़ी में मिल जाती है।

मेसोपोटामिया की सभ्यता के विकास में इस नदी का महत्वपूर्ण स्थान माना जाता है। यूफ्रेट्स नदी और टाइग्रिस नदी (दजला नदी) ने मिलकर ही मेसोपोटामिया की सभ्यता को जन्म दिया था।

यूफ्रेट्स नदी पर 10 लाइन (Ten Lines on Euphrates River in Hindi)

आइए आज हम इस लेख के माध्यम से एशिया महाद्वीप के दक्षिण पश्चिम क्षेत्र की मुख्य नदी यूफ्रेट्स नदी के बारे में जानते हैं।

Euphrates Nadi par 10 Vakya - Set 1

1) पश्चिम एशिया की सबसे लम्बी नदी के रूप में जाने जानी वाली यूफ्रेट्स ‘नदी’ ऐतिहासिक नदी मानी जाती है।

2) यूफ्रेट्स नदी का उद्गम तुर्की में होता है और यह तुर्की से दक्षिण पूर्व की तरफ बहती है।

3) इस नदी को फरात नदी के नाम से भी जाना जाता है।

4) तुर्की के पूर्वी भाग से निकलती हुई यह नदी सीरिया के पहाड़ियों से होते हुए इराक में भी बहती है।

5) इराक में यूफ्रेट्स नदी टाइग्रिस नदी से मिलती है और शत अल-अरब नामक नदी का निर्माण करती है।

6) यूफ्रेट्स व टाइग्रिस के संगम से बनी शत अल-अरब नदी आगे चलकर फारस की खाड़ी में गिरती है।

7) यूफ्रेट्स नदी के किनारे पर कई प्राचीन सभ्यताएँ बनी हैं जिनके विकास में यह नदी सहायक रही है।

8) मेसोपोटामिया की 2 मुख्य नदियों में से एक यूफ्रेट्स या फरात नदी को ही माना जाता है।

9) पश्चिम एशिया की इस सबसे लम्बी नदी की लम्बाई लगभग 2800 किमी है।

10) मुख्य यूफ्रेट्स नदी का निर्माण तुर्की के केबन शबर में पश्चिमी यूफ्रेट्स नदी (कारा सू) और पूर्वी यूफ्रेट्स नदी (मुरत सू) के मिलने से होता है।

Euphrates Nadi par 10 Vakya - Set 2

1)यूफ्रेट्स (फरात) नदी को तुर्की में ‘फिरत नेहरी’ और अरबी भाषा में लोग इसे ‘नहर-अल-फुरत’ के नाम से जानते हैं।

2) इस नदी के जल का मुख्य स्त्रोत बर्फ के पिघलने से प्राप्त पानी और वर्षा का जल है।

3) यूफ्रेट्स नदी में कई प्रजातियों की मछलियां और जलीय जीव पाये जाते है।

4) सीरिया में इस नदी की मुख्य सहायक नदियों में बलिख, खबूर और सजुर नदियाँ हैं।

5) इस नदी के किनारे बसे प्राचीन शहरों में मारी, उरूक, एर्दु, निप्पुर और सिप्पर आदि थे जो अब नहीं है।

6) कूफा, रक्का और फालुजा आदि शहर यूफ्रेट्स नदी के तट पर स्थित मुख्य शहर हैं।

7) इराक में हिंडिया बांध, सीरिया में तबका बांध और तुर्की में दक्षिण-पूर्वी अनातोलिया बांध, यूफ्रेट्स नदी पर बने मुख्य बांध है।

8) इस नदी पर बनाए गए बाँध ने केवल जलीय जीवों ही नहीं साथ ही नदी के किनारे बसे लोगों पर भी बुरा प्रभाव पड़ा है।

9) यूफ्रेट्स नदी बेसिन लगभग 500000 वर्ग किमी के क्षेत्रफल में फैला हुआ है।

10) यूफ्रेट्स नदी बेसिन का 40% हिस्सा इराक, 28% हिस्सा तुर्की और 17% हिस्सा सीरिया में फैला हुआ है।

Euphratus River

एक मुख्य और प्राचीन नदी के रूप में यूफ्रेट्स नदी काफी पुराने समय से अपने किनारे बसे जैव पारिस्थितिकी को संजोए हुए है। कई शहरों के बसने से लेके आज भी यह नदी लोगों की आवश्यकताओं को पूरा कर रही है। जल संचय और बिजली उत्पादन के लिए इन नदियों पर बनाए जा रहे बांध से फायदा तो हो रहा है पर इसके कुछ प्रतिकुल प्रभाव भी पड़ रहे हैं।

आशा करता हूँ कि यूफ्रेट्स नदी पर लिखा गया यह लेख आप सभी को पसंद आएगा। यह लेख आपके लिए ज्ञानवर्धक होगा।

यूफ्रेट्स नदी पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न :Frequently Asked Questions on Euphrates River

प्रश्न 1 – शत अल-अरब नदी को और किन नामों से जानते हैं?

उत्तर – शत अल-अरब नदी को दजिला अल-अरब और अरविन्द रुड के नाम से भी जानते हैं।

प्रश्न 2- यूफ्रेट्स नदी पर सबसे बड़ा बांध कौन सा है?

उत्तर - यूफ्रेट्स नदी पर सबसे बड़ा बांध 'अतातुर्क बांध' है जिसे 'काराबाबा' के नाम से भी जानते हैंं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.