अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस (वर्ल्ड सीनियर सिटिज़ंस डे)

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस हर साल 21 अगस्त को मनाया जाता है। इसकी घोषणा पहली बार 1990 में 14 दिसंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा की गई थी। पहली बार छुट्टी 1 अक्टूबर 1991 को मनाई गई थी। इस दिवस की वृद्ध लोगों को प्रभावित करने वाले कारकों और उनके मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए शुरुआत की गई है जिनमें बढ़ती उम्र के साथ सेहत में गिरावट और बुजुर्ग लोगों के साथ दुर्व्यवहार शामिल है। इस दिवस को समाज की ओर बुजुर्ग लोगों द्वारा दिए योगदान के लिए भी मनाया जाता है।

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस (वर्ल्ड सीनियर सिटिज़ंस डे) 2018 - World Senior Citizens Day in Hindi

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस 2018, 21 अगस्त मंगलवार को दुनिया भर में मनाया जाएगा।

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस (वर्ल्ड सीनियर सिटिज़ंस डे) का इतिहास

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस का इतिहास 1988 के समय से है। यह आधिकारिक तौर पर संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति रोनाल्ड रीगन द्वारा शुरू किया गया था। उन्होंने 19 अगस्त 1988 को 5847 की घोषणा पर हस्ताक्षर किए तब 21 अगस्त को राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस के रूप में पेश किया गया। रोनाल्ड रीगन पहले राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस का प्रचार करने वाले पहले व्यक्ति थे। नीचे उस घोषणा की व्याख्या की गई है:

"उन सभी ने अपने जीवन में जो कुछ भी प्राप्त किया हो और सभी के लिए हासिल करना जारी रखा हो उसके लिए हम हमारे बुजुर्गों को धन्यवाद और दिल से नमस्कार करना चाहते हैं। हम यह सुनिश्चित करके संतुष्टि प्राप्त सकते हैं कि हमारे समाज में अच्छे स्थान हैं बुजुर्गों के अनुकूल हैं - जिन जगहों पर बुज़ुर्ग लोग पूरी तरह से अपने जीवन का आनंद उठा सकते हैं और जहाँ उन्हें प्रोत्साहन, स्वीकृति, सहायता और सेवाएं मिल सकती है। स्वतंत्रत और गरिमापूर्ण जीवन जीना जारी रखें।"

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस (वर्ल्ड सीनियर सिटिज़ंस डे) क्यों मनाया जाता है

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य वृद्ध लोगों की स्थिति के बारे में जागरूकता फैलाना है और उन्हें शिष्टाचार की प्रक्रिया के माध्यम से समर्थन देना है। इस दिन को वृद्ध लोगों के कल्याण के लिए भी मनाया जाता है ताकि उनकी क्षमता और ज्ञान से पदोन्नत होने के लिए उनकी उपलब्धियों और योग्यता की सराहना कर सकें।

इस दिन का जश्न मनाने का एक कारण यह भी है कि बुजुर्गों ने अपने बच्चों के लिए जो कुछ भी किया है उसके लिए उनको धन्यवाद देना और सम्मान करना है। वे अपना पूरा जीवन रिश्तों की देखभाल में लगाते हैं। अपने परिवार के लिए पूरे जीवन इस तरह की निस्वार्थ सेवा करने के लिए भी उन्हें कुछ महत्व देना चाहिए। यही कारण है कि अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया जाता है। बुजुर्गों के लिए साल में एक विशेष दिन समर्पित करना अपने परिवार को अपने बड़ों के प्रति प्यार और लगाव को समझने का अवसर प्रदान करता है। अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस एक महत्वपूर्ण दिवस है जहाँ सरकार को वृद्धों और सभी बड़ी उम्र के लोगों के लिए भूख और गरीबी को खत्म करने में मदद करने के लिए अपने निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए काम करने के बारे में याद दिलाता है।

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस (वर्ल्ड सीनियर सिटिज़ंस डे) की थीम

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस का उत्सव हर साल अलग थीम के साथ मनाया जाता है। थीम को हर साल अलग-अलग रखा जाता है। 21 अगस्त 2017 को अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस की थीम "भविष्य में कदम: विषय में प्रतिभाओं, योगदान और वृद्ध व्यक्तियों की सहभागिता" रखी गई थी। इस वर्ष की थीम सभी बुज़ुर्ग लोगों के अपने समाज, समुदाय और परिवार के प्रति उनके योगदान को बढ़ाने और सक्षम करने के बारे में है। यह मूल अधिकारों, बुजुर्गों के सांस्कृतिक, सामाजिक, नागरिक, आर्थिक और राजनीतिक जीवन के पहलुओं, को ध्यान में रखते हुए वृद्ध लोगों की भागीदारी को मजबूत बनाने और बढ़ावा देने के अनुसार उनकी जरूरतों, प्राथमिकताओं और पूर्ण भागीदारी के लिए लोगों के समर्थन पर जोर देता है।

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस (वर्ल्ड सीनियर सिटिज़ंस डे) किस तरह मनाया जाता है

1998 से अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस पूरे देश में मनाया जाता है। बुजुर्ग लोगों की जिंदगी और उपलब्धियों का जश्न मनाने के लिए इस दिन को पूरी दुनिया भर में मनाया जाता है। विभिन्न कार्यक्रमों को व्यवस्थित करके अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाते हुए लोग इसका आनंद उठाते हैं। इस दिन को चिह्नित करने के लिए लोगों द्वारा कई अन्य कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस एक विशेष दिन है जब लोग दुनिया भर में बुजुर्ग लोगों की भावना का सम्मान करते हुए जश्न मनाते हैं। यह वह दिन होता है जब वृद्ध एक साथ मिलते हैं और अपनी ताकत का प्रदर्शन करते हैं जो दर्शाता है कि दुनिया में सकारात्मक ऊर्जा लाने के लिए वे किस तरह प्रभावी ढंग से संघर्ष कर रहे हैं। यह दिन भव्य समारोह द्वारा चिह्नित किया जाता है। यह दिन पोते-पोतियों के लिए अपने दादा-दादी के प्रति सम्मान प्रकट करने का एक दिन है और माता-पिता यह महसूस कराने का कि वे ऐसे बुजुर्गों को पाकर ईश्वर के कितने आभारी हैं। लोग अपने आदरणीय अभिभावकों के लिए उनका धन्यवाद करने के लिए प्रयास करते हैं जिन्होंने इतने सुंदर तरीके से अपना जीवन बना लिया है। अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस पर लोग हर पद्धति को अपनाने की कोशिश करते हैं जिसमें वे अपने माता-पिता को विशेष महसूस कराते हैं और उनके प्रति अपनी दिल की भावनाओं को व्यक्त कर सकते हैं।

हाल के वर्षों में दुनिया भर में हुई घटनाओं में से कुछ उदाहरण निम्नानुसार हैं:

भारत

बुजुर्ग लोगों का सम्मान करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस मनाया जाता है। भारत में कई लोगों के समूह द्वारा किए गए कई गतिविधियों के रूप में भारत में यह समारोह विभिन्न राज्यों में मनाया जाता है। केन्द्रीय और राज्य सरकारें ऐसे लोगों के कल्याण के लिए उपायों की स्थापना कर रही हैं और वरिष्ठ नागरिकों के अधिकारों की भी वकालत कर रही है। योजनाबद्ध अधिकारियों ने यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कदम उठाए हैं कि वृद्धों की जरूरतों को पूरा किया जा सके। इस दिन सुविधाओं, सरकारी सहायता की कमी और उनके उन्नयन और सुधार के तरीकों पर ध्यान केंद्रित किया जाता है। इसके अलावा इस दिन कुछ संगठन और स्कूल इस दिवस के बारे में ज्ञान प्रसार करने के लिए विभिन्न थीमों के साथ विशेष कार्यक्रमों का आयोजन करते हैं। स्कूलों में बच्चों के दादा दादी को आमंत्रित किया जाता है जहां हमारे देश के वरिष्ठ नागरिकों को सम्मान देने के लिए विशेष प्रदर्शनकारी कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। उनकी खुशी के लिए विशेष भोजन भी आयोजित किया जाता है।

संयुक्त राज्य अमेरिका

संयुक्त राज्य अमेरिका में अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस का समारोह बहुत जोश और उत्साह के साथ मनाया जाता है। इस दिन को परिवारों के पुनर्मिलन के रूप में भी मनाया जाता है क्योंकि जो लोग परिवार से दूर रहते हैं वे अपने परिवारों के साथ इस दिन का जश्न मनाने के लिए समय निकालते है। इस दिन को देखते हुए लोग चरित्र के निर्माण में और राष्ट्र के विकास में वृद्धों द्वारा निभाई गई अमूल्य भूमिका पर प्रतिबिंबित करते हैं। अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस पर अमेरिका के लोग कृतज्ञता, प्रेम और स्नेह व्यक्त करते हैं और अपने बुजुर्गों का सम्मान करते हैं।

ऑस्ट्रेलिया

अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस को ऑस्ट्रेलिया में उसी तरह मनाया जाता है जिस तरह विश्व के अन्य देशों में मनाया जाता है। इस मौके का फायदा उठाते हुए लोग बुजुर्गों के लिए अपना प्यार और स्नेह का आभार व्यक्त करते हैं और उनके समर्थन और देखभाल के लिए उनका धन्यवाद करते हैं। हालांकि इस अवसर को कई क्लबों में मनाया जाता है जिसके लिए परिवारों और समाज के लोग सोसाइटी को प्रोत्साहित करने और मनोरंजन करने के लिए विशेष कार्यक्रमों को व्यवस्थित करने के लिए पहल करते हैं। बुजुर्ग लोगों के साथ प्यार के बंधन को मजबूत करने के लिए कई तरह के खेल और गतिविधियां इस दिन में आयोजित की जाती हैं। ऑस्ट्रेलिया में वरिष्ठ नागरिक दिवस समारोह के परिवारों के लिए नाश्ते का आयोजन एक सामान्य विशेषता है।

आयरलैंड

इस दिन का पूर्ण फ़ायदा उठाते हुए लोग अपने बड़ों का सम्मान करते हैं और उनके लिए कृतज्ञता और स्नेह व्यक्त करते हैं। कई अन्य देशों की तरह लोग अपने बुजुर्गों को उपहार देकर उन्हें इस दिन बेफिक्र होकर आराम करने के लिए कहते हैं। लोग अपने बुजुर्गों को रात के खाने या दोपहर के भोजन के लिए ले जाते हैं या उन्हें मज़ेदार नाश्ता उपलब्ध कराते हैं। जिन लोगों के बुज़ुर्ग अब इस दुनिया में नहीं हैं वे दान देकर या दूसरों को मुफ्त सेवाएं मुहैया करा कर उन्हें श्रद्धांजलि देते हैं।

आयरलैंड के कई सांस्कृतिक संगठनों और क्लबों ने अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस कार्यक्रमों का आयोजन किया है ताकि परिवार के विकास में बड़ों की प्रमुख भूमिका की अहमियत को समझा जा सके। इसके अलावा बच्चों को भी बड़ों के प्रति ध्यान देना और उनका सम्मान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

दक्षिण अफ्रीका

दुनिया के कई देशों की तरह दक्षिण अफ्रीका के लोग भी अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस का जश्न मनाने के लिए अपने बुजुर्गों को सम्मान देने के इस स्वर्णिम अवसर को हाथ से जाने नहीं देते। इस दिन को सुंदर समारोह आयोजित करके देश भर में मनाया जाता है। लोग अपने बड़ों के लिए प्यार और सम्मान व्यक्त करते हैं और उनके बहुमूल्य मार्गदर्शन और समर्थन के लिए उनका धन्यवाद करते हैं। एक परंपरा के रूप में बच्चे फूल, नेकटाई, उपहार, कार्ड या किसी अन्य वस्तु जैसे तोहफ़े आदि प्रस्तुत करके अपने बुजुर्गों को प्रसन्न करते हैं।

जैसा कि अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस को प्रचलित वर्ष की थीम के अनुसार मनाया जाता है लोग इस मौके का आनंद लेने के लिए दोस्तों और परिवार से मिलते हैं। दक्षिण अफ्रीका के कई लोग मछली पकड़ने, पिकनिक या रेस्तरां में डिनर के लिए बाहर जाते हैं। निजी उत्सवों के अलावा दक्षिण अफ्रीका में कई सामाजिक और सांस्कृतिक कार्यक्रम अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस के समारोह को मनाने के लिए आयोजित किए जाते हैं ताकि मजबूत समाज के निर्माण और उन्हें बढ़ावा देने में बुजुर्ग लोगों द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका पर जोर दिया जा सके।

न्यूजीलैंड

खूबसूरत द्वीप न्यूजीलैंड अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस इस तरह मनाता है जिसमें बहुत आकर्षण और उत्साह होता है। दूसरे देशों के लोगों की तरह न्यूजीलैंड के लोग भी इस अवसर का जश्न वरिष्ठ नागरिकों को श्रद्धांजलि देकर और उन्हें सामान्य रूप में सम्मानित करते हुए मनाते हैं। लोग अपने बुजुर्गों को फूलों, हस्तनिर्मित कार्ड और चॉकलेट देकर इस दिवस को चिन्हित करते हैं। वे बुजुर्गों के साथ आनंदपूर्ण गतिविधियों में शामिल होने और उनके प्रति अपने प्यार और प्रेम की अभिव्यक्ति करते हुए गुणवत्ता का समय बिताते हैं।

यूनाइटेड किंगडम

यूनाइटेड किंगडम में अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस काफी हद तक उसी तरह मनाया जाता है जैसे इसे संयुक्त राज्य में मनाया जाता है। यूके में भी अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस लोगों द्वारा अपने बुजुर्गों के सम्मान और फूल, कार्ड, नेकटाई तथा चॉकलेट जैसे लोकप्रिय उपहार पेश करके उनके लिए प्रेम और स्नेह व्यक्त करके मनाया जाता है।

यूनाइटेड किंगडम की कई सांस्कृतिक सोसाइटी, क्लब और स्कूल मिलकर वरिष्ठों के लिए पार्टियां आयोजित करते हैं और लोगों को इस दिन का जश्न मनाने का अवसर प्रदान करते हैं। ऐसे समारोहों में विभिन्न खेलों का भी आयोजन किया जाता है।

भारत में अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस को मनाने के कुछ और सुझाव

भारत में 2011 की आबादी की जनगणना के अनुसार 60 वर्ष और उससे अधिक उम्र के 104 करोड़ बुज़ुर्ग नागरिक थे जिनमें 51 मिलियन पुरुष और 53 मिलियन महिलाएं थीं। एक रिपोर्ट के मुताबिक यह संख्या साल दर साल बढ़ने की उम्मीद है। देश में बुजुर्गों की बड़ी आबादी को ध्यान में रखते हुए उनकी देखभाल और स्नेह के साथ सेवा करने का हमारा परम कर्तव्य है। अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस हमारे वृद्धों को सम्मान देने के लिए सबसे अच्छा मंच है और यहाँ बताने का भी कि वे हमारे साथ-साथ पूरे समाज के लिए कितने महत्वपूर्ण हैं। भारत में इस दिवस को मनाने के लिए यहां कुछ सुझाव दिए गए हैं।

  • एक साथ भोजन करना एक मजेदार अनुभव है और यह अनुभव लोगों को कुछ करने के लिए अपनी बुद्धि का उपयोग करने का मौका देता है। सबसे ज्यादा जरुरी बात यह है कि सभी एक परिवार के रूप में एक साथ खाना खाते हैं। इस दिन बच्चे अपने दादा-दादी और माता-पिता के साथ खाना बनाते हैं। बने हुए व्यंजन वाकई आश्चर्यजनक होते हैं।
  • लोग यादों की एक तस्वीर भरी बुक भी बना सकते हैं और उन्हें अपने बड़ों को उपहार में दे सकते हैं। यह पुराने समय को याद करने और उनसे जुड़े रहने का एक शानदार तरीका है।
  • अगर मौसम अच्छा है तो आप एक पिकनिक का कार्यक्रम बना सकते हैं। अपना सामान इक्कठा करें और अपने पसंदीदा गंतव्य का कार्यक्रम बनाए या फिर आप अपने माता-पिता से मिल सकते हैं या उन्हें कॉल कर सकते हैं यदि वे आपके पास नहीं रहते हैं।
  • अपने काम से थोड़ा ब्रेक ले। अपने समार्ट फ़ोन, लैपटॉप, टीवी और अन्य यंत्रों से थोड़ी दूरी बनाए और इनके बिना थोड़ा समय व्यतीत करने की कोशिश करें।
  • घर के आसपास काम में सहायता करें। यदि आपके बुजुर्ग घर के काम कर रहे हैं तो आज सही मौका है उन्हें मदद करने का।
  • एक मित्र की साधारण उपस्थिति या परिवार के सदस्य को गले लगाने से ख़ुशी के हार्मोन बढ़ाने और तनाव कम करने में मदद मिल सकती है। यहां तक ​​कि साधारण आँख से संपर्क भी लगाव की भावनाओं को प्रोत्साहित करने में मदद कर सकता है। तो अपनों को ज्यादा से ज्यादा गले लगाए और अपने बड़ों के चेहरे पर मुस्कुराहट लाने का प्रयास करें।
  • रेस्टोरेंट और क्लब वरिष्ठ नागरिकों को विशेष छूट दे सकते हैं या उनके लिए मुफ्त भोजन की सुविधा भी कर सकते हैं।

निष्कर्ष

जैसे-जैसे लोग बूढ़े होते हैं वे बुनियादी रोज़गार कार्यों को करने की अपनी क्षमता खो देते हैं। वे पूरे जनसमुदाय में मदद के लिए दूसरों पर भरोसा करना शुरू करते हैं। इस प्रकार बुजुर्गों की सेवा करने के लिए बच्चों को पढ़ाना महत्वपूर्ण है। अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस हमारे समाज के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण और उन कठिन कामों का सम्मान करने का एक अवसर है जो हर बुज़ुर्ग हर दिन करता है यानी "अगली पीढ़ी का पालन-पोषण"।

21 अगस्त वरिष्ठ नागरिक दिवस के रूप में बुजुर्गों द्वारा हमारे समाज को दिए गए योगदान को याद करने और उन्हें सम्मान देने में हमारी सहायता करने के लिए बनाया गया है। ये छोटी-छोटी चीजें हैं जो अंततः सबसे अधिक मूल्यवान हैं। एजिंग पर किए हाल ही के अध्ययन के अनुसार 67% से अधिक वयस्कों में से 29% अकेले रहते हैं। बुजुर्गों की स्वतंत्रता को बनाए रखने से सशक्तिकरण और आत्मसम्मान को बढ़ावा मिलेगा। जब वृद्ध सामाजिक और पारिवारिक संपर्क के बिना अकेले रहते हैं तो यह उनके जीवन के लिए जोखिम है। आमतौर पर संज्ञानात्मक या शारीरिक हानि के संकेतों का पता लगाने में अधिक समय लगता है। यह उनकी सुरक्षा और स्वास्थ्य के जोखिमों को बढ़ाता है और इससे अवसाद और अन्य मानसिक बीमारियों की संभावना बढ़ जाती है। हमें अपने बड़ों के साथ रहना चाहिए और उनकी सभी जरूरतों को ध्यान रखना चाहिए।

बेशक न सिर्फ वरिष्ठ नागरिक दिवस पर बल्कि सामाजिक संवाद और मेल-जोल हर वर्ष होना चाहिए। हमारे बुजुर्गों को विशेष महसूस कराने के लिए प्रत्येक और हर दिन महत्वपूर्ण है।