सांता क्लॉज़ पर 10 वाक्य (10 Lines on Santa Claus in Hindi)

दुनिया के सभी बच्चों के चहेते सांता क्लॉज़ को हम क्रिसमस के जनक (फादर ऑफ क्रिसमस) भी कहते है। पश्चिमी देशों की सांस्कृतिक दृष्टि से सांता क्लॉज़ को भगवान का दूत माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि सांता क्लॉज़क्रिसमस के एक दिन पहले रात्रि में उड़ने वाली गाड़ी (रेनडियर) से आकर गरीब, मजबुर एवं अच्छे बच्चों को मिठाई, चॉकलेट और खिलौने बाटता है। इस दिन अर्थात 24 दिसम्बर की रात्रि का बच्चे बड़ी बेसब्री से इन्तजार करते है।

सांता क्लॉज़ पर 10 लाइन (Ten Lines on Santa Claus in Hindi)

आइये आज हम 10 वाक्यों के आधार पर सांता क्लॉज़ के जीवन के रहस्य एवं संत बनने के कारण को जानने का प्रयास करते है।

Santa Claus par 10 Vakya – Set 1

1) सांता क्लॉज़ का वास्तविक नाम निकोलस था पर लोग उन्हे क्रिस क्रिंगल फादर क्रिसमस के नाम से भी पुकारते है।

2) निकोलस का जन्म प्रभु यीशु की मृत्यु के 280 वर्ष बाद तुर्किस्तान के मायरा नामक शहर में हुआ था।

3) सांता क्लॉज़ लोगों से अपनी पहचान छुपाए रखने के लिए केवल रात में ही बच्चों के पास जाकर खिलौने एवं चॉकलेट रखकर चले जाते थे।

4) सांता क्लॉज़ का जन्म एक अमीर परिवार में हुआ था पर बचपन काल में ही उनके माता पिता का देहांत हो गया था।

5) इसलिए वे दुनिया हर उस बच्चे की मदद करना चाहते थे जो असहाय एवं गरीब थे।

6) निकोलस की दरियादिली एवं बच्चों के प्रति प्रेम भावना ने उसे संत सांता क्लॉज़ बना दिया।

7) सांता क्लॉज़ को जीसस से बहुत प्रेम था और वे पादरी बनना चाहते थे।

8) सांता क्लॉज़ के प्रभु यीशु एवं बच्चों के प्रति प्रेम भावना के कारण उनका नाम क्रिसमस पर्व के साथ जोड़ा जाने लगा।

9) पश्चिमी सभ्यता में जीसस क्राइस और मदर मैरी के बाद दूसरा नाम सांता क्लॉज़ का आता है।

10) 6 दिसम्बर सन् 1200 में संत निकोलस की मृत्यु हुई थी तब से 6 दिसंबर को सांता क्लॉज़ दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Santa Claus par 10 Vakya – Set 2 

1) आज हम सांता क्लॉज़ की पहचान लाल-सफेद कपड़ो में बड़ी सफेद मुछ दाढी कंधे पर बड़ा सा थैला एवं हाथों में बेल लिए इंसान से करते है।

2) सांता क्लॉज़ एक रहस्यमयी एवं जादूगर इंसान था।

3) ऐसा माना जाता है कि सांता क्लॉज़ उत्तरी ध्रुव में बर्फ की बारिशों में उड़ने वाली गाड़ी रेनडियर से चला करते थे।

4) सांता का आधुनिक रूप 19वीं सदी में दुनिया के सामने आया इससे पहले वे ऐसे नही हुआ करते थे।

5) हैडन संडब्लोम नामक कलाकार ने 35 वर्षो तक आधुनिक संता के रूप में कोका-कोला के प्रचार किया फलस्वरूप सांता क्लॉज़ के इस रूप को दुनिया ने स्वीकार कर लिया।

6) एक बार सांता क्लॉज़ ने तीन गरीब लड़कियों को देह व्यापार से बचाने के लिए चुपके से सोने के सिक्के रखकर की थी तब से बच्चे रात को सांता से मदद पाने का इन्तजार करते है।

7) कई देशों में बच्चे सांता को पत्र लिखकर अपनी-अपनी इच्छा अनुसार गिफ्ट की मांग करते है जिसका जवाब भी उन्हें प्राप्त होता है।

8) फिनलैंड के सांता क्लॉज़ विलेज FIN 96930 आर्कटिक सर्कल फिनलैंड पर सबसे अधिक पत्र आज भी प्राप्त होते है।

9) सांता क्लॉज़ के मदद एवं दरियादिली से प्रेरित होकर लोग सांता क्लॉज़ का भेष बनाकर चंदा मांगकर गरीब एवं जरूरतमंदों की मदद करते हैं।

10) कुछ लोगों का ऐसा भी मानना है कि सांता क्लॉज़ और उनकी पत्नी एवं कुछ बौने आज भी उत्तरी ध्रुव में रहते है और बच्चों के लिए खिलौने बनाते है।


निष्कर्ष

संत निकोलस के इस दरियादिली चरित्र एवं हंसमुख स्वभाव का प्रभाव कुछ ऐसा पड़ा है कि आज संपूर्ण विश्व के लोग सांता क्लॉज़के बिनाअपने प्रसिद्ध पर्व क्रिसमस डे को मनाने की कल्पना भी नही कर सकते। प्रभु यीशु एवं सांता क्लॉज़ के बीच कोई वास्तविक संबंध न होने के भी बावजूद उनका नाम प्रभु के जन्म दिवस के पर्व के साथ जोड़ा जाता है।

ये भी पढ़े:

सांता क्लॉज़ पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (Frequently Asked Questions on Santa Claus in Hindi)

प्रश्न 1– संत निकोलस को किस राजा द्वारा दंड दिया गया था?

उत्तर- सन् 3003 ई. में रोम के राजा डायकलेशिअन द्वारा कैद किया गया था।

प्रश्न 2- सांता क्लॉज़ का आधुनिक रूप दुनिया के सामने कब आया?

उत्तर- 19 वी सदी में सांता क्लॉज़ का आधुनिक रूप दुनिया के सामने आया

Leave a Comment

Your email address will not be published.