जीवनी

सुभाष चन्द्र बोस

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस (23 जनवरी 1897–18 अगस्त 1945) गुलामी की बेड़ियों में जकड़े हुये भारत को आजाद कराने के लिये अनेक देशभक्तों ने अपने-अपने तरीकों से भारत को आजाद कराने की कोशिश की। किसी ने क्रान्ति के मार्ग को अपनाया तो किसी ने अहिंसा और शान्ति के मार्ग को, पर दोनों मार्गों के समर्थकों …

सुभाष चन्द्र बोस Read More »

राम प्रसाद बिस्मिल

राम प्रसाद बिस्मिल (11 जून 1897 – 19 दिसम्बर 1927) “सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है, देखना है ज़ोर कितना बाजूएँ कातिल में है।” देशभक्ति की भावना से भरी हुई, हमेशा क्रान्तिकारी स्वतंत्रता सेनानियों के द्वारा दोहरायी जाने वाली इन पंक्तियों के रचयिता, राम प्रसाद बिस्मिल, उन महान स्वतंत्रता सेनानियों में से एक …

राम प्रसाद बिस्मिल Read More »

शिवराम हरी राजगुरु

शिवराम हरी राजगुरु (24 अगस्त 1908 – 23 मार्च 1931) भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु तीन ऐसे नाम हैं, जिन्हें भारत का बच्चा-बच्चा जानता है। इन तीनों की दोस्ती इतनी महान थी कि इन्होंने एक लक्ष्य की प्राप्ति के लिये एक साथ वीरगति प्राप्त की। भारत की आजादी के लिये अनेकों देशभक्तों ने अपनी-अपनी समझ …

शिवराम हरी राजगुरु Read More »

बाल गंगाधर तिलक

बाल गंगाधर तिलक (23 जुलाई 1856 – 1 अगस्त 1920) बाल गंगाधर तिलक वो व्यक्ति थे जिसने देश की गुलामी को बहुत विस्तृत रुप से देखा था। इनके जन्म के एक बर्ष बाद ही अंग्रेजों के खिलाफ भारत को आजाद कराने के लिये 1857 की पहली क्रान्ति हुई थी। गंगाधर तिलक एक समस्या के अनेक …

बाल गंगाधर तिलक Read More »

लाल बहादुर शास्त्री

लाल बहादुर शास्त्री से जुड़ें तथ्य भारत के दूसरे प्रधानमंत्री: (जवाहर लाल नेहरु के बाद और गुलजारी लाल नंदा (कार्यकारी) से पहले) कार्यकाल: 9 जून 1964 से 11 जनवरी 1966 तक। राष्ट्रपति: सर्वपल्ली राधाकृष्णन। विदेश मंत्रालय के मंत्री या विदेश मंत्री: (गुलजारी लाल नंदा से बाद में और सरदार स्वर्ण सिंह से पहले) कार्यकाल: 9 …

लाल बहादुर शास्त्री Read More »

कबीर दास

कबीर दास की जीवनी भारत के महान संत और आध्यात्मिक कवि कबीर दास का जन्म वर्ष 1440 में और मृत्यु वर्ष 1518 में हुई थी। इस्लाम के अनुसार ‘कबीर’ का अर्थ महान होता है। कबीर पंथ एक विशाल धार्मिक समुदाय है जिन्होंने संत आसन संप्रदाय के उत्पन्न कर्ता के रुप में कबीर को बताया। कबीर …

कबीर दास Read More »

तुलसीदास

तुलसीदास की जीवनी संस्कृत से वास्वतिक रामायण को अनुवादित करने वाले तुलसीदास जी हिन्दी और भारतीय तथा विश्व साहित्य के महान कवि हैं। तुलसीदास के द्वारा ही बनारस के प्रसिद्ध संकट मोचन मंदिर की स्थापना हुयी। अपनी मृत्यु तक वो वाराणसी में ही रहे। वाराणसी का तुलसी घाट का नाम उन्हीं के नाम पर पड़ा …

तुलसीदास Read More »

संत रविदास की जीवनी - Biography of Sant Ravidas in Hindi

संत रविदास कौन थे रविदास भारत में 15वीं शताब्दी के एक महान संत, दर्शनशास्त्री, कवि, समाज-सुधारक और ईश्वर के अनुयायी थे। वो निर्गुण संप्रदाय अर्थात् संत परंपरा में एक चमकते नेतृत्वकर्ता और प्रसिद्ध व्यक्ति थे तथा उत्तर भारतीय भक्ति आंदोलन को नेतृत्व देते थे। ईश्वर के प्रति अपने असीम प्यार और अपने चाहने वाले, अनुयायी, …

संत रविदास की जीवनी – Biography of Sant Ravidas in Hindi Read More »