क्या फैशन जरूरी है पर निबंध

जीने का तरीका जिसमें आप पहनावा, सामान, अपने घर को व्यवस्थित करना, चीजें खरीदना, आदि शामिल हैं, ये सभी फैशन की अलग-अलग शाखाएं हैं। यह जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और कोई इसे झुठला नहीं सकता। फैशन के महत्व पर आज मैं आपके लिए कुछ निबंध लाया हूँ और उम्मीद करता हूँ कि यह आपके लिए उपयोगी होगा।

क्या फैशन जरूरी है पर लघु और दीर्घ निबंध (Short and Long Essays on Is Fashion Important in Hindi)

निबंध 1 (250 Words) - क्या फैशन जरूरी है?

परिचय

हम सभी इस धरती पर जीने के लिए ही जन्म लिए है मगर हमारा जीने का तरीका हमें अलग बनाता है। हम हमेशा अच्छा दिखना चाहते हैं और फैशन के अनुरूप अपना पहनावा रखते हैं। फैशन ही है जो हमारे जीवन में एक अर्थ जोड़ता है। जब कभी हम बोर या उदास महसूस करते हैं हम शापिंग के लिए निकल पड़ते हैं और निश्चित रूप से रंगीन और फैशनेबल चीजें हमें एक अलग खुशी देती है। फैशन हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है जिसे हम नकार नहीं सकते।

फैशन का मतलब

आजकल लोग फैशन में सिर्फ कपड़ों को शामिल करते हैं, लेकिन फैशन का असल मतलब थोड़ा व्यापक है। इसमें आपका सामान ले जाने का तरीका, बात करने का तरीका, जूते, शिक्षा सबकुछ शामिल है।

असल में, फैशन हमें जीना सिखाता है और हमारे जीवन स्तर को बेहतर बनाता है। जिस तरह से हम व्यवहार करते हैं, जिस गैजेट का हम इस्तेमाल करते हैं, यह सब हम वर्तमान फैशन के अनुसार ही तो चुनते हैं।

कमाते तो हम सभी हैं लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि हम अपना ज्यादातर पैसा कहां खर्च करते हैं? हम अपना अधिकांश पैसा फैशन में खर्चते हैं, जैसे शॉपिंग, अच्छी चीजें लेना, रेस्टोरेंट में खाना खाना। हममें से ज्यादातर लोग बाहर खाने को फैशन का हिस्सा नहीं मानते, लेकिन असल में ऐसा है। हम बाहर का आनंद लेते हैं और सोशल एकाउंट्स पर तस्वीरें पोस्ट करते हैं जो एक चलन बन जाता है और धीरे धीरे लोग हमारा अनुसरण करने लगते हैं।

फैशन एक ऐसी चीज है जो हमें और अधिक कमाने के लिए प्रेरित करती है ताकि हम अपनी जरूरत की चीजों पर खर्च कर सकें। फैशन की मदद से हम अपनी शारीरिक खामियों को छिपा सकते हैं और ये हमें खुद को और भी आकर्षक दिखने में मदद भी करता है। मान लीजिए कि किसी लड़की के चेहरे पर काफी ज्यादा दाग व धब्बे हैं, ऐसे में वो फैशन के जरिये मेकअप की मदद से खुद को सुंदर दिखा सकती है। मैं विश्वास के साथ कह सकता हूँ कि फैशन आत्मविश्वास बढ़ाता है।

निष्कर्ष

फैशन एक चलन है और लोग इसका अनुसरण करते हैं, खुद को बेहतर दिखाने के लिए। अच्छे कपड़े, शानदार हेयरस्टाइल, बढ़िया मेकअप और कुछ अलग तरह के सामान निश्चित रूप से आपको फैशनेबल दिखने में मदद करता है। आज के समय में यह वाकई बहुत जरूरी हो गया है और हर किसी को इसे स्वीकार भी करना चाहिए।

निबंध 2 (400 Words) - फैशन वाकई में है क्या?

परिचय

हाँ, फैशन हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और हम सभी अच्छा दिखना चाहते हैं, चाहते हैं कि लोग हमारे पहनावे की तारीफ़ करें। ज्यादातर वक़्त तो हम एक ही तरह के दिखते हैं मगर कभी लोगों का ध्यान हमपर जाता है तो कभी नहीं। ये सब होता है सिर्फ हमारे फैशन सेंस की वजह से। फैशन हमें अलग दिखने में मदद करता है। आपने अपने माता-पिता की भी पुरानी तस्वीरें देखी होंगी और अपने दादा-दादी की भी। वे सभी पूरी तरह से अलग दिखते होंगे, उनके कपड़े पहनने का तरीका, उनका हेयरस्टाइल, उनके रंगों की पसंद, सब कुछ अलग होगा क्योंकि वो उस दौर का फैशन होगा।

फैशन बदलाव लाता है

  • ये हमारी मर्जी होती है कि हम क्या पहनें या फिर हम खुद को किस तरह से दर्शाना चाहते हैं। फैशन वो चीज है जो आपके लुक में एक अलग तथ्य जोड़ देता है। आजकल युवा फैशन को लेकर काफी चिंतित रहते हैं और वो इस ट्रेंड में कभी पीछे नहीं रहना चाहते।
  • जब भी कभी हम कुछ अच्छा पहनते हैं हमारा आत्मविश्वास स्वतः ही बढ़ जाता है और हमें अच्छा भी लगता है। अलग अलग कपड़ों के खूबसूरत रंग हमें काफी आकर्षित करते हैं और हमारा मूड भी बदल देते हैं।
  • एक ही तरह की चीजों से हम बोर हो जाते हैं मगर फैशन वो है जो हमेशा बदलता रहता है। ये नए रंगों और नए स्टाइल को आजमाने में मदद करता है। बदलाव अच्छा है और फैशन के अनुसार अपनी अलमारी, इंटीरियर डेकोर आदि को बदलना पसंद करते हैं, और ऐसा करने से हम तरोताजा महसूस करते हैं।
  • पुराने ज़माने में लोग एक ही तरह के कपड़े पहना करते थे फिर चाहे उन्हें किसी शादी समारोह में जाना हो या फिर किसी साधारण पार्टी में। क्योंकि उनके पास विकल्प काफी कम हुआ करते थे और इन्टरनेट भी नहीं होता था जिसकी मदद से फैशन के लेटेस्ट ट्रेंड के बारे में जान सकें। मगर आज इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कहाँ रहते हैं, इन्टरनेट की पहुँच ने सभी चीजों को आसान बना दिया है।
  • तब कपड़ा उद्योग भी उतना उन्नत नहीं था और बाज़ार में कुछ ही डीजाइन मौजूद हुआ करती थीं, मगर आज की तारीख में तमाम डीजाइनर मौजूद है और कपड़ा उद्योग भी काफी ऊँचे स्तर पर पहुँच गया है। कपड़ा उद्योग में विकास होने के साथ साथ फैशन के अलग-अलग क्षेत्रों में भी काफी विकास हुआ है।
  • फैशन उद्योग आज की तारीख में काफी ज्यादा बदल चुका है और सामान, जूते, आदि के संदर्भ में भी यह काफी विकसित हुआ है।
  • फैशन का विकास लोगों का ध्यान भी खींचता है नतीजन कई फैशन डिजाइनिंग कॉलेज अस्तित्व में आए, और आजकल फैशन डिजाइनिंग सबसे लोकप्रिय करियर विकल्पों में से एक बन चुका है।

निष्कर्ष

फैशन के ट्रेंड को फॉलो करने में कोई बुराई नहीं है, यहाँ तक कि ये तो हमारे जीवन का ही एक हिस्सा है। हम सभी एक शानदार जिंदगी जीना चाहते हैं और फैशन ही वो चीज है जो हमारे जीवन को और दिलचस्प बनती है। हममें से बहुत से लोग साधारण दिखना ज्यादा पसंद करते हैं लेकिन अगर आप इस आधुनिक युग में पुराने ज़माने वाले लुक का चुनाव करते हैं तो निश्चित रूप से आप हंसी का पात्र बन जाते हैं। फैशन वो है जो आपको समय से साथ बांधे रखता है।

निबंध 3 (600 Words) - फैशन : हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा

परिचय

पूरी दुनिया में अलग-अलग परंपराएं और संस्कृतियां हैं। उन सभी के पास अपना भोजन, पहनावा और कई अन्य चीजें हैं जो उन्हें अलग बनाती हैं। जब लोग एक-दूसरे के संपर्क में आए, तो उन्होंने दूसरों की संस्कृतियों, कपड़े पहनने के तरीके, आदि को अपनाना शुरू किया। इससे समाज में कुछ बदलाव आए और तब जाकर फैशन शब्द अस्तित्व में आया।

मूल रूप से फैशन क्या है?

‘बिल कनिंघम’ जो कि एक मशहूर फ़ैशन फ़ोटोग्राफ़र थे उन्होंने एक बार कहा था कि “फ़ैशन रोज़मर्रा की ज़िंदगी को जीने का कवच है”।

  • हम कह सकते हैं की फैशन एक ऐसी चीज है जो हमें हमारे चारों तरफ से अपडेट रखती है और किसी भी व्यक्ति को इसके बारे में जानना चाहिए।
  • आपने कभी चलन में एक निश्चित पैटर्न पर ध्यान दिया होगा और यह देखा होगा कि ज्यादातर कपड़े एक ही पैटर्न का अनुसरण करते हैं। यह एक फैशन है न कि केवल एक कपड़ा, लेकिन आजकल हम भी इसी पैटर्न का अनुसरण करते हुए पर्दा या कुशन कवर ले रहे हैं और इसे ही ट्रेंडिंग फैशन कहा जाता है।
  • यह आवश्यक नहीं है कि हर बार फैशन में कुछ नया ही मिले, कभी-कभी यह मौसम की तरह दोहराया भी जाता है।
  • फैशन आत्म-सम्मान की भावना विकसित करता है, जब हम अच्छे दिखते हैं, तो हम स्वतः ही अच्छा और खुश महसूस करते हैं। इसलिए, मैं कह सकता हूँ कि लगातार बदलते हुए फैशन में कुछ भी गलत नहीं है।
  • फैशन और कपड़े दो अलग-अलग चीजें हैं; फैशन एक पैटर्न हो सकता है, एक रंग, कपड़े सिलने का एक तरीका, आदि हो सकता है। लेकिन कपड़ा किसी भी फैब्रिक के कपड़े का एक टुकड़ा ही होता है।
  • फैशन एक ऐसी चीज है जो आपको यह जानने में मदद करती है कि ड्रेस कब और कैसे पहनें। मान लीजिए आप अपने कॉलेज में एक सलवार-कुर्ता पहन सकती हैं और इसी ड्रेस को किसी अन्य फंक्शन में भी पहन सकती हैं मगर कुछ अलग चीजों जैसे कि चूड़ियाँ, झुमके, आदि के साथ।

फैशन का महत्त्व

  • फैशन हमें अपने आराम और पोशाक का चयन करने में मदद करता है। उदाहरण के तौर पर, भारत की पारंपरिक पोशाक साड़ी है, लेकिन इसे पहनना बहुत कठिन है। तो, कुछ फैशन विशेषज्ञों ने साड़ी को एक इस तरह की पोशाक के रूप में बनाया, जो एक सिले-सिलाये रूप में आती है, वह भी पल्लू और प्लेट्स के साथ। फैशन विशेषज्ञों ने इसे बेहद आसान बना दिया और अब लोग आसानी से साड़ी पहन सकते हैं। और मैं यह भी कह सकता हूँ कि फैशन ने लोगों को दूसरों की संस्कृति के बारे में जानने में भी काफी मदद की।
  • हम सभी अच्छे और सभ्य दिखना चाहते हैं और ये फैशन ही है जो हमें आकर्षक दिखाता है। कभी कभी हमें ज्यादा कुछ कहने की आवश्यकता नही पड़ती क्योंकि हमारा पहनावा हमारे बारे में काफी कुछ बोलता है।
  • यह फैशन उद्योग ही है जिसने तरह तरह के पहनावे, जैसे पार्टी वियर, एथनिक, कैजुअल, फॉर्मल आदि का इजाद किया। यह काफी अजीब लगेगा जब आप किसी इंटरव्यू में चमकीला कपड़ा पहन कर जायेंगे। इसलिए, ड्रेसिंग को विभिन्न श्रेणियों में बांटा जाता है। यह केवल फैशन उद्योग की वृद्धि के कारण ही संभव हो पाया है।
  • आजकल यह काफी ज्यादा मायने रखता है कि आप किस तरह के कपड़े पहनते हैं, कौन से रंगों का चुनाव करते हैं और किस तरह के सामान आदि अपने साथ रखते हैं। ये सभी चीजें आपकी हैसियत को बयान करती है और आपको आकर्षक भी बनाती हैं। लोग आपका बैंक बैलेंस नहीं देखते वो देखते हैं आपने क्या पहन रखा है या आपके पास कौन सा सामान है जैसे फोन, घड़ी, आदि।
  • फैशन उद्योग में वृद्धि ने रोजगार के नए विकल्प भी विकसित किए हैं और साथ ही साथ फैशन अध्ययन की सुविधा प्रदान करने वाले कई कॉलेज भी विकसित हुए है, जो नए करियर के अवसर देते है।

निष्कर्ष

जीवन सुख और दुःख का एक पिटारा है और हम सिर्फ दुःख या सुख को नहीं चुन सकते हैं। लेकिन अगर हम कुछ कर सकते हैं तो वो है सही चीज का चुनाव जैसे मनोरंजन, साहसिक कार्य, फैशन, आदि। ये सभी चीजें हमें खुश कर सकती है और ये हमारे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा भी है। फैशन हमेशा आकर्षित करता है और ये सभी के लिए मौजूद है, चाहे आप बच्चे हों या फिर बूढ़े। आपकी उम्र चाहे जो भी हो आप रुकिए मत, बस अपने जीवन को अंतिम सांस तक खुल के जिए जाइये।