प्रेरणा पर निबंध

प्रेरणा वो शब्द है जो खुद में ही एक सकारात्मकता लिए हुए है और हर किसी को वास्तव में कुछ-कुछ अंतराल पर प्रेरणा मिलती रहनी चाहिए। हम सभी के प्रेरणा के अलग-अलग स्रोत होते हैं और कभी-कभी हमारी प्रेरणा के कुछ प्रेरणास्रोत भी होते हैं। यहाँ पर हम इस विषय से सम्बंधित कुछ निबंधों का संग्रह ले कर आये हैं जो आपके स्कूल के कार्य में सहायक होंगे।

प्रेरणा पर लघु और दीर्घ निबंध (Short and Long Essays on Motivation)

निबंध 1 (250 शब्द) - प्रेरणा

परिचय

प्रेरणा को मन की उस स्थिति के रूप में परिभाषित किया जा सकता है जब सब कुछ सकारात्मक लगता है और हमारे अन्दर अपना कार्य पूरा करने का एक अलग तरह का उत्साह होता है। यह हर बार नहीं होता कि हम सफल हो ही जाएँ लेकिन एक नए सिरे कि शुरुवात करने के लिए, हमें किसी तरह की प्रेरणा चाहिए होती है। एक बार जब हम प्रेरित हो जाते हैं, हम नए जोश और उम्मीद के साथ शुरू करते हैं। प्रेरणा एक तरह से ग्लूकोज की तरह काम करती है जो हमें जोश देती है।

प्रेरणा क्या है?

यह सिर्फ एक एहसास है और आपके प्रेरणा का स्रोत कोई भी हो सकता है, चाहे एक व्यक्ति, एक किताब, एक मशहूर हस्ती, एक शिक्षक, माता-पिता, आपके सपने, कुछ भी। वह स्रोत जो हमें सर्वश्रेष्ठ करने और अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए प्रेरित करते हैं वे ही हमारी प्रेरणा का स्रोत होते हैं।

जिस तरह से एक शिक्षक हमें अच्छे अंक लाने के लिए प्रेरित करते हैं। हमारे माता पिता हमें कुछ नया करने और सीखने के लिए प्रेरित करते हैं; ये सभी प्रेरणा के अलग अलग स्रोत हैं।

ये मेरे पिता थे जिन्होंने मुझे साइकिल चलाना सिखाया था। लेकिन जब मैं पहली बार गिर गया था, तो मैंने साइकिल सीखने से मना कर दिया था। लेकिन मेरे पिता ने मुझे प्रेरित किया जिसका नतीजा ये हुआ कि आज मेरे लिए यह एक आसान काम है।

इसलिए, विडियो देखना और प्रेरक वक्ताओं से बातें करना ही केवल प्रेरणा का स्रोत नहीं होता है बल्कि आप कहीं भी और किसी भी वस्तु से सीख सकते हैं।

निष्कर्ष

हम सभी की अलग अलग भावनाएं होती है और ये सभी मिल कर जीवन की एक कहानी बनाती हैं। जिस तरह से हम हँसते हैं, रोते हैं, दुखी होते हैं कभी-कभी हमें प्रेरणा चाहिए होती है। हमारे जीवन में हमेशा एक ऐसा वक़्त होता है जब हम हारने लगते हैं और निराश होने लगते हैं और इस तरह की परिस्थिति में कुछ लोग आत्महत्या जैसे कानूनी अपराध तक करने की तरफ अग्रसर हो जाते हैं। इसलिए, अपने जीवन में हमेशा प्रेरणा का एक स्रोत रखें, ये न सिर्फ आपकी गतिविधियों को चमकाता है बल्कि आपको रचनात्मक बनाने में भी मदद करता है।

निबंध 2 (400 शब्द) - प्रेरणा के स्रोत क्या हैं

परिचय

प्रेरणा शब्द प्रयोजन से बना है और यह प्रेरणास्रोत के समान है। जीवन के विभिन्न चरणों में हम सभी को प्रेरणा की आवश्यकता होती है। कभी-कभी हमें अपने लक्ष्यों को पूरा करने के लिए प्रेरणा की आवश्यकता होती है जबकि कभी-कभी शांतिपूर्ण जीवन जीने के लिए। चाहे एक बच्चा है या फिर एक बड़ा इंसान, हम सभी को इसकी जरूरत होती है।

प्रेरणा का स्रोत

यह कोई भी हो सकता है जैसे आपके स्कूल के शिक्षक या आपकी खुद की माँ, जो इस बात पर निर्भर करता है कि वास्तव में हमारी स्थिति क्या है।

  • लोगों से: हमारे जीवन की सबसे अच्छी कोच हमारी माँ ही होती है, लेकिन कभी-कभी कुछ अन्य लोग अपने लक्ष्य को बेहतर तरीके से समझते हैं, इसलिए वे हमारे लिए एक प्रेरक के रूप में काम करते हैं। शोध में यह पाया गया है कि जब हम अपनी माँ से बात करते हैं तो हमारा मस्तिष्क प्रचुर मात्रा में ऑक्सीटोसिन छोड़ता है और यह स्वतः ही हमें अच्छा महसूस कराने लगता है और हम बेहतर और प्रेरित महसूस करने लगते हैं।
  • प्रसिद्ध व्यक्ति: हमारे पसंदीदा लोग, एक फिल्म स्टार, एक खिलाड़ी, एक राष्ट्रपति, या कोई भी अन्य आपकी प्रेरणा हो सकते हैं। जब हम किसी के जैसा बनना चाहते हैं, तो हम उनका अनुसरण करना शुरू कर देते हैं और इस तरह से वे हमारी प्रेरणा बन जाते हैं।
  • जानवरों से: ऐसे कई जानवर हैं जो हमें प्रेरित करते रहते हैं जैसे एक कुत्ता, जो कभी दुखी महसूस नहीं करता है और हमेशा अपने मालिक को खुश करता है। एक चींटी, जो लगातार गिरती रहती है, फिर से अपनी यात्रा शुरू करती है और हमें सिखाती है कि हमें अपनी असफलताओं पर रोक नहीं लगानी चाहिए। इसी तरह, कई और जानवर हैं जो हमें बहुत कुछ सिखाते हैं, बस अपनी आंखें खुली रखें और अपने आसपास का विश्लेषण करते रहें।
  • प्रकृति: प्रकृति के पास कई उदाहरण हैं जैसे मौसम, हर मौसम को हम पसंद नहीं करते हैं, और फिर भी हम जी रहे हैं और एक अच्छे मौसम के महत्त्व को समझते हैं। एक और बेहतर उदाहरण है नदी, यह कैसे बहती है और पहाड़ों से ऊपर गुजरते हुए समुद्र तक अपना रास्ता कैसे बनाती है। यह वास्तव में प्रेरणादायक है और हमें अपने जीवन में हर समस्या का सामना करना सिखाती है।
  • पुस्तकें: यहाँ ऐसी कई किताबें मौजूद हैं जो खूबसूरत अनुभवों को सुन्दर कहानियों के साथ साझा की है और किताबें प्रेरणा का एक सबसे बेहतर स्रोत मानी जाती हैं। किताबें हमारी सबसे अच्छी दोस्त हैं और सबसे अच्छी प्रेरक भी हैं।

निष्कर्ष

यह केवल आप ही नहीं हैं जो कभी निराश या उदास महसूस कर सकते हैं, कभी-कभी यह सभी के साथ होता है और लोग विभिन्न लोगों से मिलते हैं और उपर्युक्त स्रोतों तक पहुंचकर उनसे प्रेरित ही होते हैं। प्रेरणा एक ऊर्जा पेय की तरह काम करती है और हम अधिक केंद्रित और प्रेरित महसूस करने लगते हैं। इसलिए, हमेशा अपनी प्रेरणा अपने साथ रखें क्योंकि इससे आपको अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

निबंध 3 (600 शब्द) - प्रेरणा: प्रकार, महत्त्व और कैसे प्रेरित हुआ जाये

परिचय

प्रेरणा सामान्यत: एक शब्द है लेकिन यह बड़ी ही आसानी से आपके जीवन को सामान्य से अद्भुत स्तर में बदल देती है। एक प्रेरक व्यक्ति ऊर्जा और सकारात्मकता से भरा होता है। जब हम इस तरह के लोगों से बात करते हैं, तो हम खुद प्रेरित होने लगते हैं। यह एक एहसास होता है जो हमारे अन्दर उत्साह और नयी उम्मीद भरता है और उम्मीद हमारा लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करती है और हमें बार-बार प्रयास करने के लिए भी प्रेरित करती है।

प्रेरणा के प्रकार

इसे दो भागों में बांटा जा सकता है, पहली आतंरिक प्रेरणा और दूसरी बाहरी प्रेरणा।

  • आतंरिक प्रेरणा: उस एहसास का आना जैसे आतंरिक आवाज, उदाहरण के लिए अगर आपकी लिखावट ख़राब है और आप उसे सुधारना चाहते हैं तब आपको अपनी लिखावट बदलने के लिए खुद से ही कड़ी मेहनत करनी होगी। यहाँ पर आपके ऊपर एक आतंरिक दबाव होगा जो आपको उकसाता है और प्रेरित करता है कि आप बेहतर बनें।
  • बाहरी प्रेरणा: कभी कभी हमें आलोचना का सामना करना पड़ता है और हमें अपने प्रदर्शन को सुधारना पड़ता है तब हम अपने उद्देश्य के लिए कुछ करने के लिए प्रेरित महसूस नहीं करते हैं। यह एक बाहरी प्रेरणा है, ये आपके शिक्षक या माता-पिता हो सकते हैं जो आपको प्रेरित करेंगे आपकी लिखावट सुधारने के लिए और आप प्रयास भी करेंगे लेकिन उस तरह से नहीं जैसा कि आंतरिक प्रेरणा में करते हैं।

प्रेरणा का महत्त्व

  • प्रेरणा हमारा लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करती है।
  • यह हमारे अन्दर उर्जा भरती है जो हमें प्रेरित करती है और हमारा रास्ता आसन बनाती है।
  • प्रेरणा उम्मीद भरती है और यदि कोई व्यक्ति आशाजनक है, तो वह कुछ भी कर सकता है और एक अलग ही स्तर के आत्मविश्वास से भर जाता है।
  • एक प्रेरक व्यक्ति हमेशा आशावादी होता है और कभी भी तनाव महसूस नहीं करता है। एक आशावादी नजरिया शांतिपूर्ण जीवन जीने के लिए बेहद आवश्यक है।
  • एक प्रेरक व्यक्ति हमेशा सकारात्मक भावना लिए रहता है और लोग भी उसके आसपास रहना पसंद करते हैं।
  • प्रेरणा का प्रभाव अलग-अलग लोगों पर अलग होता है, क्योंकि ये छात्रों को अच्छे अंक लाने में मदद करता है, युवाओं को उनका लक्ष्य प्राप्त करने में मदद करता है, और कर्मचारी अपने कार्यस्थल पर बेहतर प्रदर्शन करें उसमे मदद करता है, सामान्य तौर पर, एक स्वस्थ्य जीवन जीने के लिए।
  • एक प्रेरक व्यक्ति में नए-नए विचार और योजनायें बनाने की क्षमता विकसित होती है।

कैसे प्रेरित हो

  • फ़िल्म देखें: यहाँ पर कई ऐसी फिल्म हैं जो विशेष रूप से प्रेरणादायक कहानियों पर ही आधारित हैं। जब हम कोई फिल्म या विडियो देखते है, हम स्वतः ही खुद को इससे जोड़ने लगते हैं। विडियो देखना हमारे दिमाग पर त्वरित असर करता है, यही वजह है कि फिल्म के डायरेक्टर अपनी फिल्म के जरिये एक सन्देश देना चाहते हैं।
  • प्रेरणादायक विडियो देखें: यहाँ हमारे बीच ऐसे कई मशहूर लोग मौजूद हैं जिन्होंने काफी संघर्ष किया है और जब उन्हें सुनते हैं, ये वाकई में हमें कड़ी मेहनत करने को प्रेरित करता है। यू-ट्यूब पर इससे सम्बंधित करीब कई हजारों विडियो मौजूद होंगी। आप अपने प्रेरणास्रोत का भी अनुसरण कर सकते हैं क्योंकि सफल बनने के लिए बहुत ही ज्यादा मेहनत की आवश्यकता पड़ती है।
  • प्रेरक वक्ता: अगर आप अपने जीवन से निराश है और हार चुके हैं तो आपको कुछ प्रेरक वक्ताओं को सुनना चाहिए। यहाँ पर कई मशहूर नाम है जो विशेष रूप से अलग-अलग विषयों पर प्रेरक भाषण देते हैं।
  • भागवत गीता: यह सिर्फ एक हिन्दू महापुराण नहीं है बल्कि यह एक शानदार किताब है जिसमे तक़रीबन 700 छंद लिखे हुए हैं। यह वाकई में प्रेरक है और हमें काफी ज्यादा प्रेरित करती है। इसमें जीवन के सभी समस्याओं का समाधान है। यद्यपि यह एक पवित्र पुस्तक है जो दिन-प्रतिदिन की चीजों से संबंधित है और किसी विशेष धर्म को बढ़ावा नहीं देती है।
  • अन्य किताबें: यहाँ पर कई ऐसी पुस्तकें और प्रेरणादायक कहानी की किताबें मौजूद हैं और हमें वाकई में उन्हें पढ़ना चाहिए। वे हमें त्वरित शक्ति देती है और हमारे कार्य को बेहतर तरह से करने में मदद करती हैं।

निष्कर्ष

यह सब हमारे आतंरिक संघर्ष के बारे में है, एक बार जब आप अपने विचारों और लक्ष्य को लेकर स्पष्ट हो जाते हैं, कोई भी आपको रोक नहीं सकता और ये प्रेरणादायक स्रोत आपके लिए किसी पॉवर बूस्टर की तरह कार्य करते हैं। आशावादी होना अच्छा है क्योंकि यह हमें हमारे लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करता है और हमारे जीवन में शांति लाता है। हमेशा ऐसा नहीं होता कि एक सफल इंसान हमेशा खुश ही हो; एक व्यक्ति को आतंरिक शांति पर भी ध्यान देना चाहिए। यह आशावादी होने पर ही पाया जा सकता है और यह तभी हासिल होता है जब हम प्रेरित होते हैं।