वैलेंटाईन डे

वैलेंटाईन डे 2018

वैलेंटाईन डे 2018 पूरे विश्व के लोगों द्वारा 14 फरवरी, बुधवार को मनाया जायेगा।

वैलेंटाईन्स सप्ताह

वैलेंटाईन दिवस कार्यक्रम केवल एक दिन के लिये नहीं मनाया जाता, ये एक बड़ा उत्सव है जो पूरे सप्ताह भर जारी रहता है। नीचे सभी वैलेंटाईनस् सप्ताह के नाम तथा तारीख दिये गये हैं:

रोज़ डे: 7 फरवरी, बुधवार

प्रपोज़ डे: 8 फरवरी, गुरुवार

चॉकलेट डे: 9 फरवरी, शुक्रवार

टेडी डे: 10 फरवरी, शनिवार

प्रॉमिस डे: 11 फरवरी, रविवार

किस डे: 12 फरवरी, सोमवार

हग डे: 13 फरवरी, मंगलवार

वैलेंटाईन डे: 14 फरवरी, बुधवार

वैलेंटाईन डे

पूरे विश्व भर में लोगों के सभी समूहों के सहित युवाओं के लिये एक भव्य उत्सव के रुप में वैलेंटाईन्स डे को मनाया जाता है। इसे लोगों द्वारा पूरे जोश, उत्साह और खुशी के साथ हर वर्ष 14 फरवरी को मनाया जाता है। ये हर एक रिश्ते में खुशी और मजबूती लाता है। यह एक विशेष उत्सव है जो हर एक रिश्तों के बीच संबंधों को नया और मजबूत बनाता है। कई प्रकार के आकर्षक, प्यारे और खूबसूरत ग्रीटिंग्स कार्ड्स, गिफ्ट पैक, संदेश आदि अपने प्रियजनों के लिये उनके प्रेमी/प्रेमिका के द्वारा दिया जाता है। वैलेंटाईन डे “सेंट वैलेंटाईन डे के नाम से भी प्रसिद्ध है” या इसे “सेंट वैलेंटाईन का त्योहार” भी कहा जाता है जो कई देशों में वार्षिक तौर पर पूरे विश्व भर में मनाया जाता है भले ही वो सभी के लिये छुट्टी का दिन न हो।

वैलेंटाईन डे

वैलेंटाईन डे का इतिहास

पूर्व के ईसाई संत के नाम सेंट वैलेंटाईन या वैलेंटीनस के द्वारा एक भव्य उत्सव के रुप में हर साल वैलेंटाईन डे उत्सव को पहली बार मनाने की शुरुआत हुई थी। वैलेंटाईन डे उत्सव को मनाने के पीछे का इतिहास सबसे प्रसिद्ध क्रिश्चन संत, संत वैलेंटाईन से जुड़ा हुआ है। इसके इतिहास के अनुसार, एक बार उन्हें जेल भेजा गया क्योंकि वो एक सैनिक के विवाह की शादी में शामिल हो गये थे जिसे शादी करने की इजाज़त नहीं थी तथा रोमन साम्राज्य में उनको प्रताड़ित किया गया। अपने जीवन को खत्म करने से पहले एक पत्र लिख कर उन्होंने सभी को अलविदा कहा जिस पर “तुम्हारा वैलेंटाईन” के रुप में हस्ताक्षर किया गया था। तब से उनकी याद में उनके अंतिम दिन को वैलेंटाईन डे के रुप में इसे पहली बार मनाने की शुरुआत हुई। एंग्लिकन कम्यूनियन तथा लूथरन चर्च के लिये अब ये एक आधिकारिक त्योहार का दिन बन चुका है। कुछ जगहों पर ये अलग-अलग दिनों पर मनाया जाता है (6 जुलाई को ईस्टर्न औरथोडाक्स चर्च में और 30 जुलाई को ईंटरम्ना बिशप में)।

पूर्व में इसका संबंध रुमानी प्यार से था जबकि, इंग्लैंड में 18वें दशक के दौरान, उपहार देकर, गुलाब का फूल या वैलेंटाईन डे संदेश लिखे हुए ग्रीटिंग्स कार्ड के द्वारा अपने प्रियजनों से प्यार जताने का ये उत्सव बन चुका है। कुछ लोग अपने हाथ से लिखा हुआ वैलेंटाईन संदेश या वैलेंटाईन के चित्र के साथ भी देते हैं।

इस उत्सव के बारे में दूसरे एतिहासिक तथ्य है; पूर्व में ईसाई शहीदों को वैलेंटाईन कहा जाता था जिन्हें हर वर्ष 14 फरवरी को याद और सम्मानित किया जाता था। वो रोम के वैलेंटाईन थे, रोम के पुजारी थे जिन्होंने अपना जीवन बलिदान किया और एक दिन फ्लेमिनीया के द्वारा दफनाये गये जबकि टेर्नी के वैलेंटाईन, आधुनिक टेर्नी के बिशप जो ऑरेलियन साम्राज्य के तहत शहीद हो गये थे और एक दिन फ्लेमिनिया के द्वारा दफनाये गये। उनके बलिदान देने के बाद उनकी ऐतिहासिक वस्तुएँ और अवशेष को उन्हें सम्मान और याद करने के लिये चर्च में रखा गया था। पूजा और सम्मान के लिये विन्चेस्टर, न्यू मिनीस्टर के ईसाईयों के मठ के लिये एक संत वैलेंटाईन का सिर सुरक्षित रखा गया था। अब, ईसाई शहीदों को याद करने के लिये ईसाई धर्म के विभिन्न वार्षिक उत्सव के रुप में सेंट वैलेंटाईन डे के रुप में इसे मनाना जारी है।

 

वैलेंटाईन डे के किंवदंती

बहुत साल पहले, एक ईसाई संत थे जिनका नाम संत वैलेंटाईन था। वो रोम के सम्मानीय पुजारी थे और इन्हें जेल की सजा हुई क्योंकि इन्होंने कुछ प्रताड़ित ईसाईयों की मदद की थी। उन्हें रोमन सम्राट क्लाउडियस द्वितीय द्वारा एक ईसाई के रुप में प्रताड़ित भी किया गया था क्योंकि वो एक प्रताड़ित सैनिक की शादी में शामिल हो गये थे जिसे रोमन सम्राट क्लाउडियस द्वितीय के द्वारा शादी करने की अनुमति नहीं थी क्योंकि उसे ये भ्रम था कि शादीशुदा सैनिक बेहतर प्रदर्शन नहीं कर पायेंगे। दूसरे ईसाई संत जो शहीद हो गये वो वैलेंटाईन डे के किंवदंती से भी जुड़े हुये थे तथा हर वर्ष 14 फरवरी को सम्मानित और याद किये जाते हैं।

वैलेंटाईन डे मनाने का आधुनिक तरीका

आधुनिक समय में वैलेंटाईन डे मनाने का तरीका बिल्कुल बदल चुका है। पहले का वैलेंटाईन डे उत्सव यूरोपियन फोक परंपरा से जुड़ा हुआ था अर्थात् संत वैलेंटाईन के साथ जिसे आधुनिक एंग्लों-अमेरिकन की परंपरा के द्वारा हाशिये पर डाल दिया गया है और आज के समय में प्यार के दिन या रुमानी प्यार के साथ जोड़ दिया गया है।

ग्रीटिंग्स कार्ड, गुलाब के फूल, चौकोलेट, उपहार, तथा दूसरी महँगी वस्तुएँ देने का रीति-रिवाज वैलेंटाईन डे मनाने का मौजूदा चलन बन चुका है। जबकि, इंग्लैंड में क्षेत्रीय रीति-रिवाज के साथ ये आज भी जुड़ा हुआ है। हर एक के घर के दरवाजे को खटखटाने के द्वारा जैक वैलेंटाईन नाम के एक पात्र के द्वारा बच्चों के लिये उपहार और मिठाईयों को वितरित करने के द्वारा नॉरफोक शहर में इसे थोड़ा अलग तरीके से मनाया जाता है।

रोम में प्राचीन समय में इसे एक उर्वरता से जुड़े उत्सव “ल्यूपरकैलिया” (13-15 फरवरी) नाम के द्वारा मनाया जाता था जिसे बाद में पोप जिलेसियस प्रथम के द्वारा हटाया गया और रुमानी प्यार से जुड़ा हुआ “मैरी की शुद्धता” के रुप में 14 फरवरी को मनाने की शुरुआत हुई।

ल्यूपरकैलिया उत्सव को मनाने के दौरान जार से नाम चुनने के द्वारा पुरुष और महिला जोड़े बनाते हैं जो आधुनिक दिनों के रीति-रिवाज में जारी है। अब ये हाल के वर्षों में पूरे विश्व भर में लोकप्रिय रुप से देखा जा सकता है। अपने व्यस्त कार्यक्रम से लोग इससे समझौता नहीं करना चाहते हैं; अपने महबूब को उपहार और विवाह का प्रस्ताव रखने के द्वारा ढ़ेर सारे समय के साथ वो इसे बहुत अच्छे से मनाते हैं। इस दिन बाजार पूरी तरह से वैलेंटाईन डे के ग्रीटिंग्स कार्ड जिस पर कि प्यारे फरिश्ते की तस्वीर, दिल, प्यार के पक्षी, गुलाब और दूसरे रुमानी प्यार की निशानियों से भरा पड़ा रहता है।

भारत में वैलेंटाईन डे का उत्सव

भारत में वैलेंटाईन दिवस को लोग पूरे उत्साह और जुनून के साथ मनाते हैं। ये एक बहुत ही ऊर्जावान उत्सव है जिसे सभी को अपने व्यस्त कार्यक्रमों के बावजूद मनाना चाहिये। पश्चिमी संस्कृति से मिला हुआ सांस्कृतिक और पारंपारिक क्रिया-कलापों से भरा हुआ ये एक मस्ती से युक्त उत्सव है। इस दिन, सभी जोड़े एक बड़े और लंबे उत्सव पर जाने के लिये पहले से ही अपने लिये रेस्टोरेंट और होटल बुक कर के रखे रहते हैं। वो शॉपिंग मॉल, मल्टीप्लेक्स, फिल्म देखने के लिये सिनेमा हॉल, अपने आस-पास के प्रसिद्ध स्थलों पर, लाँग ड्राईव पर, यात्रा तथा और भी बहुत जगह जाते हैं। इस दिन युवा जोड़ा एक-दूसरे को उपहार, लाल गुलाब, गहनें और कार्ड आदि देकर प्यार का इज़हार करते हैं। अकेला युवा या युवती इस दिन अपने जोड़े की तलाश करते हैं और एक-दूसरे से प्यार का इज़हार करते हैं तथा हमेशा एक अच्छे जोड़े की तरह साथ रहते हैं।

 

जोड़े अपने साथी को आकर्षित करने और सुंदर दिखने के लिये अच्छे और चुने हुए कपड़े पहनते हैं। उस दिन के कम से कम एक हफ्ते पहले, पोस्ट ऑफिस फूल, उपहार, रोमांटिक पत्र, ग्रीटिंग्स कार्ड्स आदि को भेजने की वजह से बहुत व्यस्त हो जाता है। ये सरकारी या निजी अवकाश नहीं होता, ये सभी के लिये कार्य करने का दिन होता है, इस दिन सभी स्कूल, कॉलेज, ऑफिस, सरकरी और निजी संगठन और संस्थान दिनभर खुले रहते हैं। जबकि, ज्यादातर मस्ती करने के लिये अपने कार्यालय या दूसरे कार्यस्थलों से छुट्टी ले लेते हैं। इस दिन रोड, होटल, रेस्टोरेंट और मॉल आदि जगहों पर बहुत भीड़ होती है।

ग्रीटिंग्स कार्ड और उपहार के पैकेट प्यार की निशानियों जैसे लाल गुलाब, प्यार के फरिश्तों, ऐरो, प्यार के पक्षी, लाल दिल आदि से चिन्हित होते हैं। ये प्रतीक प्यार के जोड़ो को एक साथ लाने में उनके प्यार और दोस्ती के रिश्तों को बढ़ाने और मजबूत करने में बड़ी भूमिका निभाता है। लाल रंग सभी का पसंदीदा रंग होता है और ये गहराई से प्यार और रुमानियत के प्रतीक से जुड़ा होता है।

हर एक वर्ष के बाद प्यार और रोमांस के रुप में लोगों के सभी समूहों के द्वारा इसे मनाया जाता है और पूरे विश्व भर में सभी के लिये वैलेंटाईन डे एक बड़ा उत्सव है। सामाजिक, सांस्कृतिक और पारंपरिक प्यार और रोमांस की खुशी के लिये ये दिन होता है। सभी अच्छाई और बुराई से समझौते के लिये, जीवन में कुछ नया महसूस करने के लिये, जीवन को प्यार और रुमानियत के तरीकों से शुरु करने के लिये सभी लोगों के जीवन में प्यार और रोमांस बहुत जरुरी चीज है। ये सभी के जीवन में प्यार और रोमांस की उम्मीद ले आता है, ये कभी भी उम्र, समूह, लिंग या लोगों की सामाजिक स्थिति को नहीं देखता है। सभी को अपने जीवन में प्यार और रोमांस करने का अधिकार है, इस दिन लड़की/लड़के भी अपने जीवन साथी तलाश कर सकते है। पूर्व में इसे शहीदों के लिये कार्यक्रम के रुप में मनाया जाता था हालाँकि उत्सव का रुप बदल चुका है और अब ये प्यार और रोमांस का आधुनिक कार्यक्रम बन चुका है।

अपने वैलेंटाईन को ग्रीटिंग्स भेजना मध्य युग में भी बहुत प्रसिद्ध था साथ ही साथ ये आज के समय में भी जारी है। ये दिन सभी के लिये है जैसे महिला-मित्र, पुरुषमित्र, साथी, जीवनसाथी, दोस्त, पहली मुलाकात, परिवार, 50वीं वर्षगाँठ या वो जो अकेला हो और अपने प्यार को खोज रहा हो। वैलेंटाईन दिवस को खास तरीके से मनाने के लिये लोग अपने आस-पास के क्षेत्रों में थोड़ा रोमांटिक और प्रसिद्ध स्थलों को या अपने शहर से दूर की जगह ढूंढ़ते हैं। अपने जीवन से वो इस वार्षिक मौकें को खोना नहीं चाहते हैं। कुछ लोग इस दिन घुड़सवारी, नौकायान, बाईक की सवारी, कार की सवारी, प्रसिद्ध जगहों पर डिनर, पैदल घूमना, हनिमून पर जाना, मल्टीप्लेक्स में फिल्म देखना, शादी करना आदि क्रिया-कलाप करते हैं।

वैलेंटाईन दिवस:रिश्तों को ताजा करने के लिये एक उत्सव के रुप में

रिश्तों को ताजा करने के उत्सव के रुप में हर साल वैलेंटाईन दिवस आता है जो हर एक रिश्तों में कुछ खुशबू, प्यार और रोमांस जोड़ने के द्वारा रिश्तों को ताजा करता है। खुशी के साथ प्रगतिशील जीवन की शुरुआत के लिये साथ ही जीवन में कुछ प्यार और प्यार के महत्व को जोड़ने के लिये इस उत्सव को 14 फरवरी को मनाना एक अच्छा विचार है। अपने वैलेंटाईन दिवस को खास और सुंदर बनाने के लिये, बाजार में वैलेंटाईन दिवस का बहुत सारा पैकेज उपलब्ध है जिसका प्रयोग आप अपने विशेष और प्यारे रिश्ते को ताजा और सशक्त करने के लिये कर सकते हैं। ये एक मजेदार उत्सव है जो लाल गुलाब के साथ पहले से सजे हुए व्यवस्थित रात के खाने की जगह के साथ शुरु होने के द्वारा एक साल बाद कुछ खुशनुमा पल के लिये आपके वैलेंटाईन और खुद आपको शामिल होने के लिये स्वीकृत करता है क्योंकि केवल शब्द काफी नहीं होते रोमांस और प्यार के अपने भाव को प्रदर्शित करने के लिये।

इसमें कुछ नया जोड़ने के द्वारा अपने रिश्ते को संतोषजनक, अर्थपूर्णं और खुशनुमा बनाये। अपने दिल की बात को बताने के लिये भीड़ से दूर अपने साथी के साथ किसी गुप्त और आकर्षक जगह पर जाये साथ ही उसको भरोसा दिलाये कि केवल वो आपके जीवन का सबसे खास वैलेटाईन है। किसी भी रिश्ते की पहली सबसे महत्वपूर्णं चीज है कि पूरे जीवन भर उसको प्रभावित करने के लिये अपने वैलेंटाईन की पसंद और नापसंद के बारे में गहराई से जाने। कभी भी अपने व्यक्तिगत और पेशेवर रिश्ते को एक साथ न मिलाए क्योंकि इससे उसे कुछ गलतफहमी हो सकती है। बेहतर और मजबूत रिश्ते के लिये बिना किसी उम्मीद के रिश्तों में हमेशा कुछ देने की समझ होनी चाहिये।

वैलेंटाईन दिवस: प्यार के संबंध की मजबूती के उत्सव के रुप में

प्यार के अपने संबंध को मजबूत करने के लिये साथ ही प्यार की प्रतिष्ठा को बढ़ाने के लिये वैलेंटाईन दिवस सभी को मौका देता है। ऐसा माना जाता है कि किसी भी रिश्ते में छोटी सी भी दूरी प्यार के बंधंन को मजबूत करती है हालाँकि साथ होने के बाद भी अपने प्यार को और गहरा करने के लिये ये एक महान कार्य है। अगर “रिश्तों में कभी उम्मीद न करना, हमेशा देना” का कथन वास्तव में किसी के द्वारा अनुसरण किया जाता है, तो वो अपने रिश्तों को गहराई प्रदान करने में पूरी तरह सक्षम होते है। वैलेंटाईन दिवस वाकई एक महान उत्सव है जो वास्तव में सभी के दिल को आगे बढ़ने वाला प्रेमी बना सकता है।

अपने हर एक दिन को वैलेंटाईन बनाने के लिये रोज कुछ नया करने की कोशिश करें साथ ही अपने प्यार को महसूस कराईये कि जिसे भी आप गहराई से प्यार करते हैं वो वास्तव आपके लिये एक खास वैलेंटाईन है। कभी अपने प्यार को बूढ़ा और पुराना मत बनाईये, कोशिश करें कि इसे हमेशा पूरे जीवन भर के लिये जवान और नवीन बनाये रखें। हर दिन अपने वैलेंटाईन को नये तरीके और नये शब्दों के साथ शुभकामनाएँ दे जिससे वो आकर्षित हो। हमेशा अपने प्यार का ध्यान दे तथा कभी उसकी कमियों/गलतफहमियों को गौर न करें या जल्दी से जल्दी भूलने की कोशिश करें। हर सप्ताह अपने पेशेवर जीवन से छुट्टी लें जिससे अपने व्यक्तिगत जीवन को आगे बढ़ाने और चमकाने के लिये कुछ समय दे सकें। अपने रिश्तों और प्यार के बंधंन को फिर से नया करने के लिये किसी दूसरी जगह पर जायें।

भावनात्मक संबंध की गहराई के साथ ही गलतफहमी को दूर करने के लिये किसी भी रिश्ते में खुली बातचीत होनी चाहिये। हर एक मूलभूत और महत्वपूर्णं जरुरतों को पूरा करने के साथ ही एक संतोषप्रद जोड़ा होने के लिये किसी भी रिश्ते के दोनों साथियों को एक-दूसरे से खुल कर रहना चाहिये। ये एक वास्तविक सच्चाई है कि कभी रिश्तों में एक-दूसरे से उम्मीद मत रखो हालाँकि अपने प्यार को और मजबूत बनाने के लिये एक-दूसरे के लिये हमेशा कुछ अप्रत्याशित करना स्वाभाविक और अद्भुत तरीका है। अपने रिश्ते को प्रेरित करने के लिये अपने जीवनसाथी के साथ सभी खास अवसरों की कामना करें, सम्मान दें और बाँटे। ये वाकई काम करने वाले चीजें हैं जो हमेशा आपके रिश्ते को रोमांचक और खास बनायेगा।

वैलेंटाईन दिवस: एक से दो होने के मौके रुप में

इस वर्ष वैलेंटाईन दिवस पर एक से दो होने के लिये अपने सभी प्रयास करें क्योंकि लंबे समय तक जीवन में अकेला रहने का कोई मतलब नहीं है। आबाद होने के लिये भीड़ में से अपना पहला और अंतिम प्यार चुनिये और जीवन के नये अनुभवों को प्राप्त करने के लिये नये तरीकों से अपने जीवन की शुरुआत करें। कभी भी नकारात्मक मत हों क्योंकि वो खुशी के पल को खत्म कर सकती है तथा हमेशा सकारात्मक रहिये जो आसानी से आपको आपके प्यार और वैलेंटाईन की ओर ले जायेगा।

वैलेंटाईन दिवस: आपके जीवन को जगाने के लिये एक प्रगतिशील तरीका

इस वैलेंटाईन दिवस के अवसर पर कुछ नये और गैर-परंपरागत तरीके से अपने खास वैलेंटाईन के साथ अपने जीवन को जगाये। अपने उस पल को खास बनाने के लिये अपने दिमाग में कुछ नया और अप्रत्याशित उपहार का विचार लायें। कुछ रोमांटिक करें जैसे रुमानियत भरी फिल्म, किताबें, हास्य या संगीत के लिये जायें। कुछ नया और प्रगतिशील करने के द्वारा अपने पूरे जीवन भर के लिये इस वर्ष के 14 फरवरी को बेहद खास और यादगार बना दीजिये। कुछ बेहतरीन कीमती समय बिताने के लिये अपने महबूब के साथ एक लंबी और अनोखी यात्रा पर निकल जाये। अपने प्रियतम के कुछ खास विशेषता को कहने के द्वारा “तुम चाहे जैसी भी हो मैं तुमसे प्यार करता हूँ” कहें, ना कि सिर्फ “मैं तुमसे प्यार करता हूँ” कहने के द्वारा अपने प्यार को प्रभावित करें। इसे एक प्यार का स्वर्ग बनाने के लिये खास चीजों के साथ अपने प्यार के घर को सजायें। बिना किसी उम्मीद के हमेशा अपने चेहरे पर मुस्कान लिये अपने प्रेमी से मिलें जिससे आपकी मुस्कुराहट बनी रहें।