हम एक अच्छे नागरिक कैसे बन सकते हैं पर निबंध

प्रत्येक राष्ट्र या समाज की पहचान वहां पर रह रहें लोगों से की जाती है। यह आवश्यक है कि उस राष्ट्र का हर यक्ति एक जिम्मेदार और अच्छा नागरिक हो। हम एक अच्छे नागरिक कैसे बन सकते हैं? एक अच्छे नागरिक में क्या-क्या गुण होने चाहिए? मुझे लगता है कि ऐसे सवालों के आपके पास कई जवाब हो सकते है। एक अच्छे नागरिक में क्या-क्या गुण होने चाहिए ये गुण सभी को जानने की इच्छा भी होगी, जो एक व्यक्ति को एक अच्छे राष्ट्र का नागरिक बनाता हैं।

एक अच्छा नागरिक कैसा होता है, कैसे बना जा सकता है, इन सब के बारे में छात्रों से अक्सर सवाल पूछे जाते हैं। मैंने इस निबंध में एक अच्छे नागरिक के गुणों को दर्शाया है, उम्मीद है कि वो उन छात्रों के लिए सहायक सिद्ध होगी जो एक अच्छे नागरिक बनना चाहते है।

हम एक अच्छे नागरिक कैसे बन सकते हैं पर दीर्घ निबंध (Long Essay on How Can We be Good Citizens in Hindi)

1500 Words Essay

परिचय

दुनिया में कई देश हैं और सभी देशों के लोग अलग-अलग होते हैं। वो सभी उस विशेष राष्ट्र के नागरिक कहलाते हैं जहां वो रहते हैं। सभी को अपने कर्मों के द्वारा ही उसे उसकी पहचान मिलती है। राष्ट्र में जन्म लेने वाले प्रत्येक व्यक्ति के उसके राष्ट्र के प्रति कुछ कर्तव्य और दायित्व होते हैं। देश के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को निभाकर और समाज के लिए अच्छे कार्य से ही हमें उस राष्ट्र के अच्छे नागरिक के रूप में पहचान मिलती है।

एक अच्छे नागरिक का अर्थ क्या है?

दुनिया में किसी भी देश का नागरिक उस राष्ट्र की असली संपत्ति होता हैं। प्रजातांत्रिक देशों में प्रत्येक नागरिक को समान महत्त्व दिया जाता है। उदहारण के लिए भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है। राष्ट्र के प्रगति और विकास के लिए प्रत्येक नागरिक अपना महत्वपूर्ण योगदान देता है। एक नागरिक के रूप में प्रत्येक राष्ट्र के नागरिक का राष्ट्र के प्रति कुछ दायित्व होता है। ऐस नागरिक जो देश के लोगों के हित में उनके सेवा के लिए कार्य करता है और जीवन के हर नियमों और कानूनों का भी पालन करता है। ऐसे व्यक्ति को एक अच्छे नागरिक के रूप में जाना जाता है। दुनिया का हर व्यक्ति अपने देश का नागरिक होता है, लेकिन एक अच्छा नागरिक बनने के लिए अच्छे कर्म और समाज के प्रति अपने अधिकारों की परवाह भी करने की आवश्यकता है।

एक अच्छे नागरिक होने के लिए आवश्यक गुण

जो लोग अपने कर्मों से अच्छे होते हैं वह व्यक्ति एक अच्छा नागरिक होता हैं। वो व्यक्ति एक अच्छा समाज और राष्ट्र बनाने में अपना पूर्णतया योगदान देता हैं। उसे देश का एक अच्छा नागरिक कहा जाता है। एक अच्छे नागरिक के कुछ महत्वपूर्ण गुण होते है, जिसे मैंने निचे सूचीबद्ध किया है-

  • अधिकार और स्वतंत्रता का समझदारी से पालन करे

राष्ट्र के नागरिक के रूप में हर किसी को अपनी स्वतंत्रता और उन्हें कुछ अधिकार प्राप्त है। जन्म के साथ ही यह हमें देश के नागरिकता के रूप में प्राप्त होते हैं, जो हमारे राष्ट्र के विकास और प्रगति के लिए होते हैं। एक अच्छे नागरिक को अपनी स्वतंत्रता और अपने अधिकारों की सीमा को समझना चाहिए और कभी भी इसका दुरुपयोग नहीं करना चाहिए।

  • दूसरों के प्रति सम्मान भाव होना चाहिए

एक अच्छे नागरिक में समाज के हर व्यक्ति के लिए सम्मान होना चाहिए चाहे वो गरीब हो या आमिर, छोटा हो या बड़ा। उसे समाज के बड़े-बुजुर्गों का सम्मान करना चाहिए और उनकी हर तरह से मदद करनी चाहिए, और अपने कठिन समय में उनकी मदद भी लेनी चाहिए। उसे सबके प्रति विनम्र भाव रखना चाहिए। उन्हें अपने ताकतवर होने या अपने किसी वजह के कारण कभी भी चोट नहीं पहुचानी चाहिए। भारत जैसे लोकतांत्रिक देश में हर किसी को अपनी आस्था के अनुसार किसी भी धर्म को मानने की आजादी है। इसलिए एक अच्छे नागरिक के तौर पर समाज के हर सांस्कृतिक धर्म और उन लोगों का सम्मान करना चाहिए। उन्हें ऐसा कुछ भी नहीं करना चाहिए जिसके कारण कोई भी हिंसा हो या किसी भी समुदाय को कोई ठेस पहुंचे।

  • जरूरतमंद लोगों की मदद करें

हम जिस भी राष्ट्र में पैदा हुए होते हैं, हम उस राष्ट्र के नागरिक के रूप में जाने जाते है। किसी भी राष्ट्र के नागरिक के रूप में यह हमारा कर्तव्य बनता है, कि हम वहां के जरूरतमंद नागरिकों की मदद अपने स्तर तक करें। जब हम दूसरों की जरूरतों में मदद करते हैं तो वो सभी हमारी जरूरतों में मिलकर हमारी मदद करते हैं। यह हमें समाज में एक अच्छे नागरिक के रूप में पहचान दिलाता है।

  • स्वस्थ राजनीति में भाग लें

एक अच्छे नागरिक के रूप में हमें देश में चुनाव के दौरान वोट जरूर देना चाहिए। हमारे लोकतंत्र के लिए एक-एक वोट बहुत कीमती होता है। यह हर एक व्यक्ति और उसके विचारों को भी दर्शाती है। हम जानते हैं कि किसी भी राष्ट्र का अस्तित्व उनके नागरिकों के कारण ही होता है। इसलिए एक अच्छे नागरिक का यह दायित्व होता है कि वह देश की राजनीतिक, सामाजिक और न्यायिक गतिविधियों में भाग ले। एक नागरिक किसी विशेष पार्टी या लोगों के समूह का समर्थन करने के लिए वोट नहीं करता है, बल्कि वो पूरे देश और देश के लोगों के कल्याण के लिए अपना वोट देता है।

  • नियमों और विनियमों का पालन करें

एक अच्छे नागरिक को राष्ट्र द्वारा बनाए गए सभी नियमों और विनियमों का सही ढंग से पालन करना चाहिए। उसे कभी भी किसी नियम और कानून का उल्लंघन नहीं करना चाहिए या उसके विरुद्ध जाकर कोई गलत कार्य नहीं करना चाहिए। उसे राष्ट्र के न्यायपालिका और कानूनों के महत्त्व को समझना चाहिए और अपने कर (टैक्स) इत्यादि का भुगतान अवश्य ही करना चाहिए। उसे किसी भी अपराध या अन्याय के खिलाफ न्याय पाने के लिए न्यायिक प्रक्रिया का पूर्णतया पालन करना चाहिए।

  • राष्ट्र की भलाई के लिए कार्य करें

एक अच्छा ओर सच्चा नागरिक वही होता है जो हमेशा देश की भलाई के बारे में सोचें। उसे बेकार की गतिविधियों में लिप्त होने के बजाय कुछ नए विचारों और तरीकों के बारे में सोचना चाहिए जिससे राष्ट्र के लोगों को लाभ प्राप्त हो सके। उसे लोगों में जागरूकता लाने और अभियानों के जरिये लोगों को समाज के प्रति उनके जिम्मेदारियों को जागरूक करने की आवश्यकता हैं। इसके आलावा एक अच्छे नागरिक के तौर पर लोगों को शिक्षा के महत्त्व और उनके कार्यों को भी समझाना चाहिए।

  • कभी भी हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिए

एक अच्छा नागरिक समाज में लोगों को शांति और सद्भाव से रहने की शिक्षा देता है। वो कभी भी किसी हिंसक गतिविधि में शामिल नहीं होता जिससे कि लड़ाई-झगड़े का जन्म हो। इस तरह से एक अच्छा नागरिक समाज में रहने वाले अन्य लोगों के लिए उदाहरण बनता है। एक अच्छा नागरिक हमेशा समाज के प्रत्येक व्यक्ति को एक अच्छा नागरिक बनाने और उन्हें अपनी बुद्धिमानी से कार्य करने का सन्देश देता है।

  • राष्ट्र की सेवा के लिए हमेशा तैयार रहें

एक अच्छा नागरिक ही एक सच्चा देशभक्त होता है, और जरूरत पड़ने पर देश की सेवा के लिए हमेशा तैयार रहता है। वह राष्ट्र और देश के नागरिकों के लिए किसी भी प्रकार के बलिदान के लिए हमेशा तैयार रहता है।

क्या हम एक अच्छे नागरिक के रूप में अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं?

भारत एक लोकतांत्रिक देश है और प्रत्येक भारतीय इस देश का नागरिक है। राष्ट्र के प्रत्येक नागरिक को उसके जन्म के साथ ही सवतंत्रता और कुछ अधिकार प्रदान की जाती है। यह अधिकार प्रत्येक नागरिक को उनके प्रगति और विकास के लिए दी जाती है, जिससे की उनके साथ-साथ देश की प्रगति में भी लाभ मिले।

अब सवाल यह उठता है, कि क्या एक अच्छे नागरिक के रूप में हम अपने कर्तव्यों का पालन गंभीरता से कर रहे हैं? हर दिन हम अपने देश में विभिन्न प्रकार के जघन्य अपराधों, भ्रष्टाचार, हिंसक कृत्यों को देखते हैं। अगर हम सभी भारतीय नागरिक अपने कर्तव्यों का पालन सही ढंग से कर रहे हैं तो हमें ऐसी घटनाएं रोज सुनने और देखने को क्यों मिलती है।

हम सभी को भारत के नागरिक के रूप में अपने कर्तव्यों और अपनी जिम्मेदारियों को अच्छे से समझने की जरुरत है। हमें केवल एक नागरिक होने के बजाय एक अच्छा नागरिक बनने की पूरी कोशिश करनी चाहिए। उपरोक्त पूछे गए प्रश्न के अनुसार सही रूप में कहा जाये तो उसका उत्तर "नहीं" ही है। दोष हमारे ही अंदर है, क्योंकि एक अच्छे नागरिक के रूप में हम अपने कर्तव्यों का पालन सही ढंग से नहीं कर रहे हैं। जब तक प्रत्येक नागरिक राष्ट्र के प्रति अपने कर्तव्यों और जिम्मेदारियों को खुद नहीं समझाता है, तब तक देश में बदलाव लाना बहुत मुश्किल है। इस कार्य की शुरुआत करने में देरी नहीं करनी चाहिए और देश में बदलाव लाने का प्रयास करना चाहिए। हम सभी जानते हैं कि नागरिक किसी भी राष्ट्र की असली और अनमोल संपत्ति हैं। इसलिए केवल हम ही हैं जो अपने विवेक और ज्ञान का उपयोग करके राष्ट्र के लिए कार्य करें, और राष्ट्र के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को समझ कर हम अपने राष्ट्र के वर्तमान परिदृश्य को भी बदल सकते हैं।

निष्कर्ष

किसी भी देश का नागरिक उस राष्ट्र की सबसे छोटी इकाई हैं, जो एक परिवार, समाज और एक राष्ट्र के रूप में संगठित होती हैं। एक अच्छा नागरिक निश्चित रूप से एक अच्छे परिवार को जन्म देता है। कई अच्छे परिवार मिलकर एक अच्छे समाज का निर्माण करते हैं और अंततः वही मिलकर एक अच्छे राष्ट्र का निर्माण करते हैं। हम सभी को अपने जीवन में बस एक अच्छे इंसान बनने का प्रयास करना चाहिए। जब हर व्यक्ति खुद को अच्छा इंसान बनाएगा तो खुद-ब-खुद अच्छे राष्ट्र का निर्माण होगा। एक अच्छे नागरिक ही देश को एक अच्छा राष्ट्र के रूप में आगे ले जा सकता है।