इंटरनेट पर निबंध

आज के समय में लोगों की सफलता में इंटरनेट का काफी बड़ा हाथ है। वर्तमान समय में इंटरनेट के जरिये मात्र एक क्लिक में एक हर विषय की जानकारी प्राप्त कर सकते है। वास्तव में इटरनेट दुनिया भर के जानकारी का संग्रह है। ये विद्यार्थियों के पढ़ाई तथा बौद्धिक विकास में भी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इंटरनेट के इसी महत्व को देखते हुए हमने इन निबंधों को तैयार किया है। हमारे द्वारा तैयार किये गये यह निबंध आपके विभिन्न कार्यों में आपके काफी सहायक सिद्ध होगें।

इंटरनेट पर छोटे तथा बड़े निबंध (Long and Short Essay on Internet in Hindi)

Find essay on internet in Hindi language for students in 100, 200, 300, 400, 500 and 600 words.

इन दिये गये निबंधों में से आप अपनी आवश्यकता अनुसार किसी भी निबंध का चयन कर सकते हैं, यह निबंध काफी सरल तथा ज्ञानवर्धक है। इन निबंधों के माध्यम से हमनें इंटरनेट के विभिन्न विषयों जैसे कि इंटरनेट की शुरुआत कैसे हुई? इंटरनेट इतना लोकप्रिय क्यों है? इंटरनेट का इतिहास आदि जैसे विषयों पर प्रकाश डालने का प्रयास किया है।

इंटरनेट पर निबंध 1 (100 शब्द)

इंटरनेट आधुनिक और उच्च तकनीकी विज्ञान का एक महत्वपूर्ण आविष्कार है। ये किसी भी व्यक्ति को दुनियां के किसी भी कोने में बैठे हुए महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान करने की अद्भुत सुविधा प्रदान करता है। इसके माध्यम से हम लोग आसानी से किसी एक जगह रखे कम्प्यूटर को किसी भी एक या एक से अधिक कम्प्यूटर से जोड़कर जानकारी का आदान प्रदान कर सकते है। इंटरनेट के द्वारा हम कुछ सेकेंडों में ही बड़े या छोटे संदेशों, अथवा किसी प्रकार की जानकारी एक कम्प्यूटर या डिजीटल डिवाइस(यंत्र) जैसे टैबलेट, मोबाइल, पीसी से दूसरे डिवाइस में काफी आसानी से भेज सकते है।

ये जानकारियों का एक काफी बड़ा संग्रह है जिसमें घरेलू, व्यापारिक, शैक्षिक, सरकारी वेबसाइटों जैसी लाखों वेबसाइटें मौजूद है। हम इसे कई नेटवर्कों का संग्रह भी कह सकते है। इंटरनेट मनुष्य को विज्ञान द्वारा दिया गया एक सर्वश्रेष्ठ उपहार है। इंटरनेट अनंत संभावनाओं का साधन है। इंटरनेट के माध्यम से हम कोई भी सूचना, चित्र,  वीडियो आदि दुनिया के किसी भी कोने से किसी भी कोने तक मात्र एक पल भर में भेज सकते हैं।

इंटरनेट

इंटरनेट पर निबंध 2 (200 शब्द)

प्रस्तावना

इंटरनेट दुनियां के कई सारे नेटवर्कों का एक संग्रह है, इसका इस्तेमाल कर हम लोग दुनिया के किसी भी कोने में मौजूद कोई भी जानकारी बहुत ही आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। दूरसंचार लाइन और मौड्यूलेट्-डीमौड्यूलेट् के माध्यम से इसकी पहुँच कहीं भी हो सकती है साथ ही ये हमारे कम्प्यूटर में एनालॉग सिग्नल को डीजीटल सिगनल में परिवर्तित कर भेजता है। इंटरनेट की खोज हमारे लिये असंख्य फायदे ले आयी है, हालांकि इसके साथ ही हम इसके नुकसान से भी नहीं बच सकते है। हमारे द्वारा इंटरनेट का कई तरीकों से उपयोग किया जाता है जैसे- ईमेल, संदेश, ऑनलाइन बात करने के लिये, फाइल स्थानांतरण करने के लिये तथा वर्ल्ड वाइड वेब के द्वारा वेब पेजों और दूसरे दस्तावेजों की प्राप्ति करने के लिये आदि।

इंटरनेट

इंटरनेट कनेक्शन से जुड़ते ही हमारी पहुँच वर्ल्ड वाइड वेब तक हो जाती है। वेब पेजों को खोलते ही हम किसी भी प्रकार की जानकारी प्राप्त कर सकते है और अपने उद्देश्य की प्राप्ति कर सकते है। वेब पेजों को खोलने की कोई समय-सीमा नहीं है, हम इसे एक मिनट या एक घंटा या उससे ज्यादा समय के लिये भी खोल सकते है साथ ही अपने मतलब के किसी भी पेज को हम अपने कम्प्यूटर में डाउनलोड भी कर सकते है। इसके द्वारा हम अपने प्रोजेक्ट को बहुत आसानी और कम समय से पूरा कर सकते है।

निष्कर्ष

इंटरनेट हमें कई तरीकों से फायदा पहुँचाता है जैसे ऑनलाइन स्कूल, कॉलेज, या विश्वविद्यालयों में दाखिला दिलाने में, व्यापारिक और बैंकिंग लेन-देन में, शिक्षकों और कर्मचारियों की नियुक्ति में, ड्राइविंग लाइसेंस आवेदन करने में, बिल जमा करने आदि में मदद करता है।

 

इंटरनेट पर निबंध 3 (300 शब्द)

प्रस्तावना

इंटरनेट के माध्यम से आमजन का जीवन आसान हो गया है क्योंकि इसके द्वारा हम बिना घर के बाहर गये ही अपना बिल जमा करना, फिल्म देखना, व्यापारिक लेन-देन करना, सामान खरीदना आदि काम कर सकते है। अब ये हमारे जीवन का एक खास हिस्सा बन चुका है हम कह सकते है कि इसके बिना हमें अपने रोजमर्रा के जीवन में तमाम मुश्किलें का सामना करना पड़ सकता है।

इंटरनेट का उपयोग

इसकी सुगमता और उपयोगिता की वजह से, ये हर जगह इस्तेमाल होता है जैसे- कार्यस्थल, स्कूल, कॉलेज, बैंक, शिक्षण संस्थान, प्रशिक्षण केन्द्रों पर, दुकान, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट, रेस्टोरेंट, मॉल और खास तौर से अपने घर पर हर एक सदस्यों के द्वारा अलग-अलग उद्देश्यों के लिये। जैसे ही हम अपने इंटरनेट सेवा प्रदाता को इसके कनेक्शन के लिये पैसे देते है उसी समय से हम इसका प्रयोग दुनिया के किसी भी कोने से एक हफ्ते या उससे ज्यादा समय के लिये कर सकते है। ये हमारे इंटरनेट प्लान पर निर्भर करता है। आज के अत्याधुनिक वैज्ञानिक युग में कंप्यूटर हमारे जीवन का मुख्य भाग बन गया है। इसके अभाव में आज हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते आज हम अपने रूम या ऑफिस में बैठे-बैठे देश-विदेश-जहाँ भी चाहें इंटरनेट द्वारा अपना संदेश भेज सकते हैं।

निष्कर्ष

इंटरनेट के हमारे जीवन में प्रवेश के साथ ही, हमारी दुनिया बड़े पैमाने पर बदल गई है इसके द्वारा हमारे जीवन में कुछ सकारात्मक तो कुछ नकारात्मक परिवर्तन हुए हैं। ये विद्यार्थीयों, व्यापारीयों, सरकारी एजेंसीयों, शोध संस्थानों आदि के लिये काफी फायदेमंद है। इससे विद्यार्थी अपने पढ़ाई से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकते है, व्यापारी एक जगह से ही अपनी गतिविधियों को अंजाम दे सकते है, इससे सरकारी एजेंसी अपने काम को समय पर पूरा कर सकती है तथा शोध संस्थान और शोध करने के साथ ही उत्कृष्ट परिणाम भी दे सकती है।

 

इंटरनेट पर निबंध 4 (400 शब्द)

प्रस्तावना

इंटरनेट के माध्यम से इंसान के काम करने के तरीके और जीवन में क्रांतिकारी बदलाव आया है। इसने व्यक्ति के समय और मेहनत की बचत की इसलिये ये जानकारी पाने के लिये बहुत फायदेमंद है साथ ही इससे कम खर्च में ज्यादा आमदनी प्राप्त हो सकती है। ये नगण्य समय लेते हुये जानकारी को आपके घर तक पहुँचाने की दक्षता रखता है। मूलतः इंटरनेट नेटवर्कों का नेटवर्क है जो एक जगह से नियंत्रण के लिये कई सारे कम्प्यूटरों को जोड़ता है। आज इसका प्रभाव दुनिया के हर कोने में देखा जा सकता है। इंटरनेट से जुड़ने के लिये एक टेलीफोन कनेक्शन, एक कम्प्यूटर और एक मॉडम की जरूरत होती है।

इंटरनेट का महत्व

ये दुनिया के किसी भी जगह से पूरे विश्व भर की जानकारी ऑनलाइन प्राप्त करने में हमारी मदद करता है। इसके द्वारा हम किसी भी वेबसाइट से कुछ सेकेंडों में ही जानकारी को देख, इकट्ठा और भविष्य के लिये सुरक्षित कर सकते है। मेरे स्कूल के कम्प्यूटर लैब में इंटरनेट की सुविधा है जहाँ हम अपने प्रोजेक्ट से संबंधित जरूरी जानकारी को प्राप्त कर सकते है। इसके साथ ही मेरे कम्प्यूटर शिक्षक मुझे ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करने के लिये इंटरनेट के उचित इस्तेमाल की सलाह देते है।

इससे ऑनलाइन संपर्क तेज और आसान हो गया है जिससे संदेश या विडियो कॉनप्रेंस के द्वारा दुनिया में कहीं भी मौजूद लोग एक-दूसरे से जुड़ सकते है। इसकी मदद से विद्यार्थी अपनी परीक्षा, प्रोजेक्ट, तथा रचनात्मक कार्यों में भाग लेना आदि कर सकता है। इससे विद्यार्थी अपने शिक्षकों और दोस्तों से ऑनलाइन जुड़कर कई सारे विषयों पर चर्चा कर सकते है। इसकी सहायता से हम लोग विश्व की किसी प्रकार की भी जानकारी प्राप्त कर सकते है जैसे-कहीं की यात्रा के लिये उसका पता तथा सटीक दूरी आदि जान सकते है, वहां जाने के साधन आदि।

निष्कर्ष

इंटरनेट एक वैश्विक नेटवर्क है जो पूरी दुनिया के कम्प्यूटरों को एक साथ जोड़ता है। इंटरनेट का उपयोग मात्र मनोरंजन के लिए करना सही नहीं है क्योंकि इंटरनेट से हम कई प्रकार के ज्ञान प्राप्त कर सकते हैं और विश्व को एक नए स्तर पर ले जा सकते हैं। इंटरनेट का उपयोग राष्ट्र के विकास के लिए करना चाहिए ना कि इसे बेकार की चीजों में उपयोग करके अपने समय को बर्बाद करना चाहिए।


 

इंटरनेट पर निबंध 5 (500 शब्द)

प्रस्तावना

आधुनिक समय में, पूरी दुनिया में इंटरनेट एक बहुत ही शक्तिशाली और दिलचस्प माध्यम बनता जा रहा है। ये एक नेटवर्कों का नेटवर्क है और कई सारी सेवाओं तथा संसाधनों का समूह है जो हमें कई प्रकार से लाभ पहुँचाता है। इसके इस्तेमाल से हमलोग कहीं से भी वर्ल्ड वाइड वेब का उपयोग कर सकते है। ये हमें बड़ी तादाद में कई प्रकार की सुविधाएं मुहैया कराता है जैसे-ईमेल, सर्फिंग सर्च इंजन, सोशल मीडिया के द्वारा बड़ी हस्तियों से जुड़ना, वेब पोर्टल तक पहुँच, शिक्षाप्रद वेबसाइटों को खोलना, रोजमर्रा की सूचनाओं से अवगत रहना, विडियो बातचीत आदि। वास्तव में यह हमारे जीवन को और भी अच्छा तथा आसान बनाने का कार्य करता है। आधुनिक समय में लगभग हर कोई इंटरनेट का इस्तेमाल अपने विभिन्न उद्देश्यों के लिये कर रहा है। जबकि हमें अपने जीवन पर इसके होने वाले फायदों तथा नुकसानों के विषय में भी जानना चाहिये।

लाभप्रद के साथ नुकसानदायक भी

विद्यार्थियों के लिये इसकी उपलब्धता जितनी लाभप्रद है उतनी ही नुकसानदायक भी क्योंकि बच्चे अपने माता-पिता के चोरी से इसके माध्यम से गलत वेबसाइटों का भी इस्तेमाल करते है जो कि उनके भविष्य को नुकसान पहुँचाने का कार्य करता है। ज्यादातर माता-पिता इस खतरे को समझते है लेकिन कुछ इसे नजरंदाज कर देते है और अपने बच्चों को खुलकर इंटरनेट का इस्तेमाल करने की छूट प्रदान कर देते है। लेकिन ऐसा नही किया जाना चाहिए कम उम्र के बच्चों द्वारा इंटरनेट का इस्तेमाल अभिभावकों की देख-रेख में किया जाना चाहिये।

कम्प्यूटर सिस्टम

अपने कम्प्यूटर सिस्टम में पासवर्ड और प्रयोक्ता नाम डाल कर अपने खास डाटा को दूसरों से सुरक्षित रख सकते है। इंटरनेट हमें किसी भी ऐप्लिकेशन प्रोग्राम के द्वारा अपने दोस्त, माता-पिता और शिक्षकों को किसी भी क्षण संदेश भेजने की आजादी देता है। ये जान कर आपको हैरानी होगी कि उत्तरी कोरिया, म्यांमार आदि कुछ देशों में इंटरनेट पर पाबंदी है क्योंकि वो इसे बुरा समझते है। कभी-कभी इंटरनेट से सीधे-तौर पर कुछ भी डाउनलोड करने के दौरान, हमारे कम्प्यूटर में वाइरस, मालवेयर, स्पाइवेयर, और दूसरे गलत प्रकार के प्रोग्राम आ जाते है जो हमारे सिस्टम को नुकसान पहुँचाने का कार्य करते है। ऐसा भी हो सकता है कि हमारे सिस्टम में रखे डाटा को बिना हमारी जानकारी के किसी व्यक्ति द्वारा हैक कर लिया जाये, जिससे हमारी कई प्रकार के नीजी जानकारियों के चोरी होने का भय रहता है।

इन्टरनेट और टेक्नोलॉजी

आज इंटरनेट की वजह से वैज्ञानिक पृथ्वी पर बैठे-बैठे अंतरिक्ष में गए हुए अंतरिक्ष यात्रियों से बात कर सकते हैं और उन्हें देख सकते हैं। पृथ्वी के बाहर घूमते हुए सैटेलाइट पृथ्वी पर इंटरनेट के माध्यम से ही सभी जानकारियाँ दिन-रात भेजती रहती हैं जिसके माध्यम से वैज्ञानिक पृथ्वी पर हो रहे कई प्रकार की गतिविधियों पर नजर बनाए रखते हैं। इंटरनेट के माध्यम से दुनिया के किसी भी कोने में बैठे किसी भी व्यक्ति से हम निशुल्क रुप से बात कर सकते हैं।

निष्कर्ष

इंटरनेट हमें कई तरीकों से फायदा पहुँचाता है जैसे ऑनलाइन स्कूल, कालेज, या विश्वविद्यालयों में दाखिला दिलाने में, व्यापारिक और बैंकिंग लेन-देन में, शिक्षकों और कर्मचारियों की नियुक्ति में, ड्राइविंग लाइसेंस आवेदन करने में तथा बिल जमा करने आदि में यह हमारी सहायता करता है। इंटरनेट मनुष्य को विज्ञान द्वारा दिया गया एक सर्वश्रेष्ठ उपहार है। एक प्रकार से इंटरनेट अनंत संभावनाओं का साधन है।


 

इंटरनेट पर निबंध 6 (600 शब्द)

प्रस्तावना

इंटरनेट एक वैश्विक नेटवर्क है जो पूरी दुनिया के कम्प्यूटरों को एक साथ जोड़ता है। इसने रोज के कार्यों की प्राप्ति को बेहद आसान बनाया है जो कि एक समय कठिन लंबा और समय लेने वाला था। हमलोग बिना इसके अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते जिसको इंटरनेट कहा जाता है। जैसाकि इस धरती पर हर चीज का एक फायदा-नुकसान होता है उसी तरह इंटरनेट का भी हमारे जीवन का अच्छा और बुरा प्रभाव है। इंटरनेट की वजह से ही ऑनलाइन संचार बहुत ही सरल और आसान हो गया है। पुराने समय में संचार का माध्यम पत्र होता था जो कि लंबा समय लेने वाला और कठिन होता था क्योंकि इसके लिये किसी एक को लंबी दूरी तय कर संदेश पहुँचाना पड़ता था। लेकिन अब, कुछ सोशल नेटवर्किग साइट को खोलने के लिये हमें सिर्फ इंटरनेट से जुड़ने की जरूरत है साथ ही जी-मेल, याहू आदि जैले ईमेल अकाउंटों द्वारा हम मात्र कुछ सेकेंडो में ही अपने संदेश दूसरे व्यक्ति तक पहुंचा सकते है।

इंटरनेट का महत्व

मेट्रों, रेलवे, व्यापारिक उद्योग, दुकान, स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थान, एनजीओ, विश्वविद्यालय, कार्यालय (सरकारी तथा गैर-सरकारी) में हर डाटा को कंप्यूरीकृत करके बड़े स्तर पर कागज और कागजी कार्यों से बचा जा सकता है, ऐसा करने से कार्यों में पारदर्शिता भी बढ़ेगी। इसके माध्यम से एक जगह से पूरे विश्व के बारे में समय-समय पर खबर जाना जा सकता है। ढ़ेर सारी जानकारियों को जमा करने में ये बहुत दक्ष और प्रभावकारी है चाहे वो किसी भी विषय से संदर्भित हो चंद सेकेंड में ही उपलब्ध हो जाएगा। ये शिक्षा, यात्रा, और व्यापार में बहुत उपयोगी है। इसके द्वारा ऑनलाइन पब्लिक लाइब्रेरी, टेक्स्टबुक, तथा संबद्ध विषयों तक पहुँच आसान हुई है।

इतिहास

पहले के समय में जब लोग के पास इंटरनेट की सुविधा नही थी, तो  उन्हें कई प्रकार के सामान्य कार्यों के लिये भी कई घंटों तक लाइनों में लगे रहमा पड़ता था जैसे रेलवे का टिकट लेने, बिजली का बिल जमा करने तथा आवेदन पत्र जमा करने जैसे कार्यों के लिए काफी दिकक्तों का सामना करना पड़ता था। लेकिन आधुनिक समय में लोग बस एक क्लिक से टिकट की बुकिंग कर सकते है साथ ही एक सॉफ्ट कॉपी अपने मोबाईल फोन में भी रख सकते है। इंटरनेट की दुनिया में, यह कोई जरुरी नही है कि कोई व्यक्ति अपने व्यपारिक या नीजी मुलाकात के लिए घटों यात्रा करके किसी स्थान पर जाये। आज के समय में हम विडियों कॉनप्रेंसिंग, कॉलिंग, स्काईप या दूसरे तरीकों से अपनी जगह पर रह कर ही किसी भी व्यापारिक या नीजी बैठक का हिस्सा बन सकते है।

इंटरनेट अपने आप में कोई आविष्कार नहीं है। इंटरनेट टेलीफोन , कंप्यूटर व दूसरी तकनीक को इस्तेमाल करके बनायी गयी एक ऐसी प्रणाली है, जिसमें सूचना व तकनीक का साझा उपयोग किया जा सकता है। इंटरनेट का निर्माण संयुक्त राज्य अमेरिका के रक्षा विभाग द्वारा लगभग सन् 1960 में अपरानेट नाम के प्रोजेक्ट से किया गया था। इंटरनेट हमें कई तरीकों से फायदा पहुँचाता है जैसे ऑनलाइन स्कूल, कॉलेज, या विश्वविद्यालयों में दाखिला दिलाने में, व्यापारिक और बैंकिंग लेन-देन में, शिक्षकों और कर्मचारियों की नियुक्ति में, ड्राइविंग लाइसेंस आवेदन करने में, बिल जमा करने आदि में मदद करता है।

निष्कर्ष

इससे ऑनलाइन संपर्क तेज और आसान हो गया है जिससे संदेश या विडियो कॉनप्रेंस के द्वारा दुनिया में कहीं भी मौजूद लोग एक-दूसरे से जुड़ सकते है। इसकी मदद से विद्यार्थी अपनी परीक्षा, प्रोजेक्ट, तथा रचनात्मक कार्यों में भी भाग ले सकते हैं। इससे विद्यार्थी अपने शिक्षकों और दोस्तों से ऑनलाइन जुड़कर कई सारे विषयों पर चर्चा कर सकते है। इंटरनेट की सहायता से हम लोग विश्व की  किसी प्रकार की भी जानकारी मात्र चंद सेकेंडों में प्राप्त कर सकते है। वास्तव मे इंटरनेट ने मानव इतिहास में एक क्रांतिकारी परिवर्तन लाने का कार्य किया है।

 

 

Related Information:

भारत के विकास में विज्ञान की भूमिका पर निबंध

कंप्यूटर पर निबंध

विज्ञान और तकनीकी पर निबंध