डॉ भीमराव अंबेडकर पर स्लोगन (नारा)

डॉ भीमराव अंबेडकर हमारे देश के एक महान राजनेता, कानूनविद और मानवतावादी थे। यही कारण है कि उन्हें हमारे देश के लाखों लोग अपना आदर्श और प्रेरणा स्त्रोत मानते है। वह अपने समय के उच्चतम शिक्षित नागरिकों में से एक थे, इसके साथ ही भारत के संविधान निर्माण में उनका अहम योगदान था। डॉ भीमराव अंबेडकर या जिन्हें प्रेम से लोग बाबा साहब अंबेडकर के नाम से बुलाते हैं, उन्होंने अपने पुरे जीवन दलितों और पिछड़ो के उत्थान के लिए कार्य किये।

भीमराव अम्बेडकर पर निबंध के लिए यहां क्लिक करें

अम्बेडकर जयंती पर भाषण के लिए यहां क्लिक करें

डॉ भीमराव अंबेडकर पर नारा (Slogans on Dr. Bhimrao Ambedkar in Hindi)

ऐसे कई अवसर आते हैं जब आपको डॉ भीमराव अंबेडकर से जुड़े भाषणों, निबंधो या स्लोगन की आवश्यकता होती है। यदि आपको भी डॉ भीमराव अंबेडकर से जुड़े ऐसे ही सामग्रियों की आवश्यकता है तो परेशान मत होइये हम आपकी मदद करेंगे।

हमारे वेबसाइट पर डॉ भीमराव अंबेडकर से जुड़ी तमाम तरह की सामग्रियां उपलब्ध हैं, जिनका आप अपनी आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते हैं।

हमारे वेबसाइट पर डॉ भीमराव अंबेडकर, अंबेडकर जयंती और महापरिनिर्वाण दिवस के लिए विशेष रुप से तैयार किए गये कई सारे स्लोगन उपलब्ध हैं। जिनका उपयोग आप अपने भाषणों या अन्य कार्यों के लिए अपनी आवश्यकता के अनुसार कर सकते हैं।

ऐसे ही अन्य सामग्रियों के लिए भी आप हमारे वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं।

Unique and Catchy Slogans on Bhimrao Ambedkar

 

बाबा साहब हैं हमारे आदर्श, उनके मूल्यों की रक्षा हेतु करेंगे हम संघर्ष।

 

बाबा साहब हैं हमारे आदर्श, उनके मूल्यों की रक्षा हेतु करेंगे हम संघर्ष।

 

अपने कार्यों द्वारा बाबा साहब ने पाया हर जगह सम्मान, इसलिए तो कहे जाते हैं वह महान।

 

अपने कार्यों द्वारा बाबा साहब ने पाया हर जगह सम्मान, इसलिए तो कहे जाते हैं वह महान।

 

संविधान निर्माण कर बाबा साहब ने किया लोगों का उद्धार, देकर लोगों को अधिकार किया उनके सपनों को साकार।

 

संविधान निर्माण कर बाबा साहब ने किया लोगों का उद्धार, देकर लोगों को अधिकार किया उनके सपनों को साकार।

 

हमारे देश के संविधान निर्माता, डॉ बाबा साहब अंबेडकर हमारे प्रणेता।

 

हमारे देश के संविधान निर्माता, डॉ बाबा साहब अंबेडकर हमारे प्रणेता।

 

भारतीय संविधान पे जिनकी है अमिट छाप, ऐसे व्यक्ति हैं हमारे बाबा साहब।

 

भारतीय संविधान पे जिनकी है अमिट छाप, ऐसे व्यक्ति हैं हमारे बाबा साहब।

 

 

आओ मिलकर बाबा साहब की जयंती मनायें, उनके बताये हुए अनमोल शिक्षाओं को अपनायें।

 

आओ मिलकर बाबा साहब की जयंती मनायें, उनके बताये हुए अनमोल शिक्षाओं को अपनायें।

 

14 अप्रैल का जश्न मनाओ, संविधान निर्माता बाबा साहब की जयंती मनाओ।

 

14 अप्रैल का जश्न मनाओ, संविधान निर्माता बाबा साहब की जयंती मनाओ।

 

आओ महापरिनिर्वाण दिवस मनायें, बाबा साहब की बातों को जन-जन तक पहुंचायें।

 

आओ महापरिनिर्वाण दिवस मनायें, बाबा साहब की बातों को जन-जन तक पहुंचायें।

 

आओ मिलकर 6 दिसंबर का दिन मनायें, बाबा साहब का पैगाम लोगों तक पहुंचायें।

 

आओ मिलकर 6 दिसंबर का दिन मनायें, बाबा साहब का पैगाम लोगों तक पहुंचायें।

 

दलित-पिछड़ों को उनका अधिकार दिलाया, बाबा साहब ने देशहित के लिए संविधान बनाया।

 

दलित-पिछड़ों को उनका अधिकार दिलाया, बाबा साहब ने देशहित के लिए संविधान बनाया।

 

 

बाबा साहब है वह महान व्यक्तित्व, जिन्होंने किया शोषितों और गरीबों का नेतृत्व।

 

बाबा साहब हमारे देश के संविधान निर्माता, दलित-पिछड़ो के भाग्य विधाता।

 

बाबा साहब के सपनों को साकार करो, नव भारत को आकार दो।

 

6 दिसंबर का दिन आया है, महापरिनिर्वाण दिवस का दिन लाया है।

 

6 दिसंबर को धूम-धाम से मनाओ, बाबा साहब के सपनों को पूरा करने के लिए कदम बढ़ाओ।

 

लोगों को समानता का अधिकार दिलाया, डॉ भीमराव अंबेडकर ने देश का संविधान बनाया।

 

जन-जन तक पहुंचाओ यह पुकार, बाबा साहब के दलित उत्थान सपने को करो साकार।

 

14 अप्रैल का दिन आया है, अंबेडकर जयंती का यह शुभ दिन लाया है।

 

संविधान निर्माण के पूरे किये लोगों के सपने, लोगों की मदद करने वाले ऐसे थे बाबा साहब अपने।

 

बाबा साहब है देश की शान, आओ अंबेडकर जयंती मनाकर करे बाबा साहब का सम्मान।

 

देश के तरक्की के लिए कार्य करो, बाबा साहब के दिखाये रास्ते पर आगे बढ़ो।

 

भारत को तरक्की के मार्ग पर लाना होगा, बाबा साहब के दिखाये मार्ग पर चलना होगा।

 

बाबा साहब के दिखाये मार्ग पर चलने का लो संकल्प, देश के कायाकल्प का यही है विकल्प।

 

भेदभाव समाज में लाता है विकार, इसे दूर करके करो बाबा साहब के सपने को साकार।

 

अपने प्रयासों द्वारा भारत को गणतंत्र, संविधान निर्माण करके बाबा साहब ने किया भारत को स्वतंत्र।

 

जातिवाद और सत्ताशक्ति का ना पालो दंभ, संविधान निर्माण करके बाबा साहब ने किया है नवयुग का आरंभ।

 

बाबा साहब के दिखाये रास्ते पर चलना हमारा कर्तव्य ही नही हमारा दायित्व भी है।

 

बाबा साहब की बाते हैं समृद्धि का सार, यदि नही माना इन्हें तो सब है बेकार।

 

बाबा साहब के सपने को साकार करेंगे, जातीय भेदभाव से हम सब मिलकर लड़ेंगे।

 

बाबा साहब के दिखाये मार्ग पर चलकर ही हम उन्हें सच्ची श्रद्धाजंलि प्रदान कर सकते है।

 

बाबा साहब अंबेडकर भारतीय इतिहास के सबसे महत्वपूर्ण व्यक्तियों में से एक है।

 

सबके मन में जगाओ समानता का विचार, यही है बाबा साहब द्वारा दिखाया तरक्की का आधार।

 

डॉ भीमराव अंबेडकर के शख्सियत के आगे पर्वत भी छोटा है।

 

 

Related Information:

डॉ भीमराव अम्बेडकर पर निबंध

अंबेडकर जयंती पर भाषण

डॉ अम्बेडकर महापरिनिर्वाण दिवस

अम्बेडकर जयंती