बाल दिवस पर स्लोगन (नारा)

बाल दिवस का दिन बच्चो को समर्पित होता है, यह दिन बच्चो के अधिकारों, शिक्षा और देखभाल की जागरुकता के लिए मानाया जाता है। भारत में बाल दिवस पंडित जवाहर लाल नेहरु के बच्चो के प्रति प्रेम को देखते हुए उनके जन्म दिवस यानि 14 नवंबर के दिन मनाया जाता है। इस दिन विद्यालयों में बच्चो के लिए तमाम तरह के कार्यक्रमों का आयेजन किया जाता है, जिनमें कई सारे बच्चो द्वारा नेहरु जी का वेष धारण किया जाता है, यह बच्चो के उनके चाचा नेहरु के प्रति प्रेम को दर्शाता है।

चिल्ड्रेंस डे पर भाषण के लिए यहां क्लिक करें

चिल्ड्रेंस डे पर नारा (Slogans on Children’s Day in Hindi)

ऐसे कई अवसर आते है जब बाल दिवस के लिए आपको भाषणो, निबंधो और नारो की आवश्यकता होती है। यदि आपको भी बाल दिवस से जुड़े ऐसे ही सामग्रियों की आवश्यकता है तो परेशान मत होइये हम आपकी मदद करेंगे।

हमारे वेबसाइट पर बाल दिवस के जुड़ी तमाम तरह की सामग्रीया उपलब्ध है, जिनका आप अपनी आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते है।

हमारे वेबसाइट पर बाल दिवस के लिए विशेष रुप से तैयार किए गये नारे उपलब्ध है। जिनका उपयोग आप अपने भाषणो या अन्य कार्यो के लिए अपनी आवश्यकता के अनुसार कर सकते है।

ऐसे ही अन्य सामग्रियों के लिए आप हमारे वेबसाइट का उपयोग कर सकते है।

Unique and Catchy Slogans for Children’s Day in Hindi Language

 

बच्चे आने वाले भविष्य की राह है, जिनके मन में ज्ञान पाने की चाह है।

 

बच्चे आने वाले भविष्य की राह है, जिनके मन में ज्ञान पाने की चाह है।

 

बच्चे भोले-भाले कोमल, इनके मन होते है गंगा जैसे निर्मल।

 

बच्चे भोले-भाले कोमल, इनके मन होते है गंगा जैसे निर्मल।

 

बाल दिवस आया, बच्चो के लिए मनोरंजक अवसर लाया।

 

बाल दिवस आया, बच्चो के लिए मनोरंजक अवसर लाया।

 

चाचा नेहरु का जन्म दिवस आया है, बाल दिवस का अवसर लाया है।

 

चाचा नेहरु का जन्म दिवस आया है, बाल दिवस का अवसर लाया है।

 

दिन सुरमयी बच्चो के ये मनमोहक स्वर, आज आ गया बाल दिवस का अवसर।

 

दिन सुरमयी बच्चो के ये मनमोहक स्वर, आज आ गया बाल दिवस का अवसर।

 

 

बाल दिवस का यह प्यारा दिन, जिसे बच्चे मनाते सारा दिन।

 

बाल दिवस का यह प्यारा दिन, जिसे बच्चे मनाते सारा दिन।

 

कंधो में बस्ता टांगकर चले पढ़ने-लिखने, छोटे-छोटे बच्चे चले राष्ट्र निर्माण करने।

 

कंधो में बस्ता टांगकर चले पढ़ने-लिखने, छोटे-छोटे बच्चे चले राष्ट्र निर्माण करने।

 

बच्चो का यह विशेष त्योहार, जिनपे बच्चो के मिलते है मनोरंजक कार्यक्रमों के उपहार।

 

बच्चो का यह विशेष त्योहार, जिनपे बच्चो के मिलते है मनोरंजक कार्यक्रमों के उपहार।

 

आओ बच्चो संकल्प लो इस बाल दिवस तुम कोई ऐसा काम करोगे, जिससे तुम अपने देश का उंचा नाम करोगे।

 

आओ बच्चो संकल्प लो इस बाल दिवस तुम कोई ऐसा काम करोगे, जिससे तुम अपने देश का उंचा नाम करोगे।

 

आओ मिलकर बाल दिवस मनाये, देश की आने वाली पीढ़ी को उनका महत्व समझायें।

 

आओ मिलकर बाल दिवस मनाये, देश की आने वाली पीढ़ी को उनका महत्व समझायें।

 

 

बच्चे अपने माता-पिता की जान होते हैं, ऐसा कहते हैं की बच्चे भगवान होते हैं।

 

बच्चे ही तो लाते हैं उज्जवल भविष्य की भोर, सुना पद जाता घर सारा जो मचे न उनका शोर।

 

बच्चे शिक्षित होंगे तो देश सबल होगा , इस से ही तो भविस्य की हर समस्या का हल होगा।

 

नेहरू जी को बच्चे प्यारे थे ऐसा कहते हैं, इसीलिए हम सब के दिल में आज भी वो रहते हैं।

 

बच्चो का मन होता चंचल, इनसे बांटे खुशियों के पल।

 

खेलेंगे कूदेंगे जाएंगे, बच्चे बल दिवस मनाएंगे।

 

शिक्षा पर बच्चो का अधिकार है, इसके बिना बाकि सब बेकार है।

 

बल दिवस का यह दिन, जीवन में लाये खुशियां नवीन।

 

बल दिवस पर है ये नारा, बच्चो से है राष्ट्र हमारा।

 

बच्चे जो मुस्कुराते हैं वो सबके दिल को भाते हैं।

 

आओ मिलकर झूमे गाये साथ मिलकर बाल दिवस का त्योहार मनाये।

 

जिनका मन होता है अविरल, कोई और नही वो है प्यारे बच्चे चंचल।

 

बच्चे देश का भविष्य होते है, इन्हे तैयार करना देश के भविष्य को तैयार करना है।

 

बच्चो की देखभाल इस प्रकार से की जानी चाहिये कि वह आने वाले समय में देश को और ज्यादे सशक्त बना सके।

 

ना भूलो बच्चो क्या खोया क्या पाया, देखो आज तुम्हारा बाल दिवस आया।

 

जीवन में तुम सदा आगे बढ़ो, इस बाल दिवस कुछ ऐसा प्रण लो।

 

यदि हम बच्चो के भविष्य निर्माण का कार्य करेंगे तो हम राष्ट्र निर्माण का कार्य करेंगे।

 

जिनकी मुस्कान हर तकलीफो को दूर कर देती है, वह छोटे बच्चे के अलावा और कौन है।

 

कभी अपने बातो पर इठलाते, कभी छोटी-छोटी बातो पर नाराज हो जाते; वह है छोटे छोटे बच्चे, जिनके हर कारनामे सबके मन को भाते।

 

बच्चो तुम हो देश के प्रगति की आधारशिला, कार्य करो ऐसे की हमारा भारत देश बने सबसे निराला।

 

बच्चों तुम हो सबसे अनोखे इस बात को मानो, देश को आगे ले जाना है ये मन में ठानों।

 

बाल दिवस पर बस यही है नारा, भारत को है फिर से विश्व गुरु बनाना।

 

बाल दिवस दिन नही एक संकल्प है, जो हमें भारत के आने वाली पीढ़ी की प्रगति के लिए लेनी होगी।

 

आइये इस बाल दिवस हम सब भारत को चाचा नेहरू के सपनो का भारत बनाने का संकल्प ले।

 

इस बाल दिवस पर हमने ठाना है, भारत को फिर से विश्व गुरु बनाना है।

 

बाल दिवस बच्चो का वह दिन है जब हमें बाल अधिकारो के विषय में और गंभीरता से सोचने के जरुरत है।

 

बाल दिवस का अवसर आया है, इस फिजा में नया उमंग लाया है।

 

यदि हमे सच में इस बाल दिवस कोई संकल्प लेना चाहते है, तो आइये बाल मजदूरी को रोकने का संकल्प ले।

 

आइये इस बाल दिवस हम सब स्वच्छ भारत के सपने को साकार करने का संकल्प ले।

 

आओ मिलकर बाल दिवस मनाये, बाल अधिकारों के लिए आवाज उठायें।

 

बाल दिवस मनायेंगे, बाल मजदूरी की समस्या को जड़ से मिटायेंगे।

 

14 नवंबर का दिन आता है, बाल दिवस का दिन लाता है।

 

बाल मजदूरी को रोककर मनाओ बाल दिवस का त्योहार, इसके रोकथाम बिना सब है बेकार।

 

बाल मजदूरी को रोककर समझो बाल दिवस का असली अर्थ, बच्चों को शिक्षित बनाकर बनाओ देश को समर्थ।

 

आओ मिलकर बाल अधिकारों के लिए करे काम, जिससे जग में हो भारत का नाम।

 

बाल अधिकारों का हनन करके ना पालो दिलों में खेद, बेटा हो या बेटी पर तुम ना करो भेद।

 

बाल मजदूरी लेने की ना करना तुम भूल, यह कार्य नही देश के मर्यादा और तरक्की के अनुकूल।

 

आओ मिलकर करे बाल अधिकारों का प्रचार, बाल दिवस के इस विशेष अवसर का करे विस्तार।

 

बाल मजदूरी पर प्रतिबंध है अनिवार्य, हम सबको मिलकर करना होगा कार्य।

 

सम्बंधित जानकारी:

बाल मजदूरी पर निबंध

बाल मजदूरी पर भाषण

बाल मजदूरी पर स्लोगन

बाल स्वच्छता अभियान पर निबंध

बाल दिवस पर निबंध

बाल दिवस पर भाषण

बाल अधिकार दिवस

बाल दिवस

बाल दिवस पर कविता