धनतेरस पर 10 वाक्य

धनतेरस हिन्दुओं का एक मुख्य त्यौहार है जो बड़े ही हर्सोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस दिन से दीपावली त्यौहार का शुभारम्भ हो जाता है और यह 4 से 5 दिनों तक चलता है। धनतेरस से ही दीप जलाने का कार्यक्रम शुरू हो जाता है। इसे समृद्धि का त्यौहार भी कहते है क्योंकि ऐसा माना जाता है की इस दिन माता लक्ष्मी स्वयं सबके घरों में आती है और लोगों को सुखी जीवन का आशीर्वाद देती हैं।

धनतेरस || दिवाली पर 10 वाक्य

आज इस लेख के माध्यम से मैं रोशनी के त्यौहार दीपावली के पहले दिन धनतेरस के बारे में आप सभी को बताऊंगा। ये लेख आप लोगों के लिए एक अच्छी जानकारी का स्रोत होगा।

धनतेरस पर 10 लाइन (10 Lines on Dhanteras Festival in Hindi)

यह भी पढ़े: धनतेरस पर निबंध

Set 1

1) धनतेरस दीपावली महापर्व के आरम्भ का पहला दिन होता है।

2) धनतेरस का त्योहार रोशनी के पर्व दीपावली के 2 दिन पहले मनाया जाता है।

3) यह हिंदी पंचांग के आश्विन माह की कृष्णपक्ष की त्रयोदशी तिथि को मनाया जाता है।

4) वर्तमान प्रचलित अंग्रेजी कैलंडर से यह दिन अक्टूबर या नवंबर महीने मे आता है।

5) हिन्दुओं के लिए धनतेरस का बड़ा ही अत्यंत महत्व है।

6) इस दिन लोग माता लक्ष्मी की पूजा करते हैं और धन समृद्धि की कामना करते हैं।

7) इस दिन नए बर्तन, आभूषण, वाहन और अन्य घरेलु वस्तुएं खरीदना शुभ होता है।

8) धनतेरस के दिन सुबह गंगा स्नान करना बड़ा ही फलदायी माना जाता है।

9) यह त्यौहार सभी के लिए समृद्धि और सौभाग्य का त्यौहार है।

10) लोग अपने घर को अच्छी तरह से साफ़ करके रंगीन रंगोली व झालरों से सजाते हैं।

यह भी पढ़े :नरक चतुर्दशी (छोटी दीवाली)

Set 2

1) धनतेरस हिन्दू धर्म के लोगों द्वारा मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण पर्व है।

2) धनतेरस को धनत्रयोदशी या धनवंतरीत्रयोदशी के नाम से भी जाना जाता है।

3) धनतेरस पर लोग एक दूसरे को मिठाईयां बाटते हैं और जश्न मनाते हैं।

4) इस दिन भी लोग मंदिरों और घरों को दीपावली की तरह दीप जलाकर सजाते हैं।

5) ज्यादातर लोग इस दिन नये वाहन, जमीन, मकान, गहने व महँगी वस्तुएं खरीदते हैं।

6) इस पर्व पर गाँव और शहर दीप और रोशनी व लाइटो वाले झालरों से सजे होते हैं।

7) काफी लोग इस दिन चिकित्सा और स्वास्थ्य के देवता धन्वन्तरी की भी पूजा करते हैं।

8) वर्ष 2021 में 2 नवंबर को धनतेरस का पर्व मनाया जाएगा।

9) महाराष्ट्र में यह दिन ‘वसुबारस’ के रूप में गाय और बछड़े को पूजकर मनाया जाता है।

10) धनतेरस का पर्व केवल भारत ही नहीं विदेशों में भी हिन्दू और अन्य धर्म के लोगों द्वारा बड़े हर्सोल्लास के साथ मनाया जाता है।


धनतेरस का पर्व जितना धार्मिक दृष्टि से महत्पूर्ण है उतना ही आर्थिक दृष्टि से भी महत्व रखता है क्योंकि इस दिन भारी संख्या में लोग खरीदारी करते हैं जो एक तरह से हमारे देश की अर्थव्यवस्था में बढ़ोत्तरी करता है। यह पर्व लोगों को एक साथ लेकर आता है। एक साथ मिलजुल कर मनाये जाने वाले ये त्यौहार लोगो को एक बंधन में जोड़े रखते हैं।

सम्बंधित जानकारी:

लक्ष्मी पूजा (मुख्य दिवाली)

दिपावली पर निबंध

छठ पूजा पर 10 वाक्य