अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 10 वाक्य (10 Lines on International Day of Yoga in Hindi)

योग के महत्व को चिह्नित करने के लिए 21 जून को विश्व स्तर पर अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है।

हाल ही में हम वैश्विक महामारी कोविड-19 से पीड़ित थे। हालांकि खतरा अभी भी धरती पर बना हुआ है। इन भयानक दिनों ने हमें एक अच्छे स्वास्थ्य और मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली का महत्व सिखाया। अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने का स्वस्थ तरीका प्रतिदिन योग का अभ्यास करना है। योग का अभ्यास करने से हम शारीरिक के साथ-साथ मानसिक रूप से भी स्वस्थ रहेंगे।

योग पर 10 वाक्य

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 10 लाइन (Ten Lines on International Day of Yoga in Hindi)

योग के महत्व को उजागर करने के लिए इसके नाम पर विश्व स्तर पर एक दिन मनाया जाता है। आज हम उस महत्वपूर्ण दिन की चर्चा करने जा रहे हैं।

Antarrashtriya Yog Divas par 10 Vakya – Set 1

1) 21 जून को प्रत्येक वर्ष 'अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस' मनाया जाता है।

2) 2014 में, पीएम नरेंद्र मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का सुझाव दिया था।

3) संयुक्त राष्ट्र महासभा ने सुझाव को स्वीकार किया और प्रस्ताव पारित किया।

4) लगभग 177 राष्ट्र इस उत्सव के समर्थन में आए।

5) मोदी जी ने 21 जून को चुना क्योंकि यह उत्तरी गोलार्ध में साल का सबसे लंबा दिन होता है।

6) अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस दुनिया के कई हिस्सों में बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है।

7) 21 जून 2015 को विश्व में पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था।

8) योग का पहला अंतर्राष्ट्रीय दिवस राजपथ, दिल्ली में मनाया गया।

9) लाखों प्रतिभागियों ने योग के पहले अंतर्राष्ट्रीय दिवस को सफल बनाया।

10) 21 जून 2018 में, भारत ने लगभग 1,00,000 प्रतिभागियों के साथ सबसे बड़ा योग पाठ दर्ज किया।

योग के महत्व पर निबंध || योग पर निबंध || अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 पर निबंध

Antarrashtriya Yog Divas par 10 Vakya – Set 2

1) स्वस्थ जीवन के लिए योग जरूरी है।

2) इस दिन का मुख्य उद्देश्य योग के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।

3) इस दिन कई अभियान, कार्यशालाएं आदि आयोजित की जाती हैं।

4) अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के प्रस्ताव को राष्ट्रों से सबसे अधिक सह-प्रायोजक मिले।

5) पहले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर पीएम नरेंद्र मोदी के साथ लगभग 36,000 लोगों ने योग किया।

6) हर साल अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के जश्न के लिए एक थीम चुनी जाती है।

7) इस वर्ष 2022 में, “मानवता के लिए योग” (Yoga for Humanity) अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का विषय होगा।

8) अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 का आयोजन कर्नाटक के मैसूर में होगा।

9) इस वर्ष आयुष मंत्रालय मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के सहयोग से कई कार्यक्रम आयोजित करने जा रहा है।

10) भारत में कई प्रसिद्ध योग गुरु इस दिन को और अधिक महत्वपूर्ण बनाते हैं।

निष्कर्ष

योग के कई प्रकार हैं जिनमें से प्रत्येक के अलग-अलग लाभ हैं। कुछ शुरुआती लोग अभ्यास का आनंद लेने के लिए संगीत के साथ योग करते हैं जबकि कुशल व्यक्ति नए संयोजन को आजमाने के लिए ध्यान केंद्रित करता है। शुरुआती लोगों की मदद के लिए विभिन्न प्रशिक्षक ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से उपलब्ध हैं। योग के महत्व को देखते हुए हमें इसे अपने दैनिक जीवन में अपनाना चाहिए।

मुझे आशा है कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर उपरोक्त 10 पंक्तियाँ इस दिन के महत्व को समझने में उपयोगी होंगी।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022 पर अधिक जानकारी

FAQs: Frequently Asked Questions on International Day of Yoga (अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न)

Q.1 योग के क्या लाभ हैं?

उत्तर: योग प्रतिरक्षा, शक्ति, रक्त प्रवाह, लचीलापन और विभिन्न रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है।

Q.2 "योग जर्नल" क्या है?

उत्तर: यह योग पर एक पत्रिका है, जिसकी स्थापना 1975 में कैलोफ़ोर्निया में की गई थी, जो वेबसाइटों, निर्देशों और योग संबंधी सभी जानकारी से संबंधित है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.