एकता में अटूट शक्ति है पर निबंध

यह वाक्यांश "एकता में अटूट शक्ति है" आमतौर पर अलग-अलग स्थानों पर प्रयोग किया जाता है ताकि यह महसूस किया जा सके की एकजुट रहना कितना महत्वपूर्ण है। यहाँ पर टीम के काम के महत्व पर जोर दिया गया है। "एकता में अटूट शक्ति है" एक वाक्यांश है जो एकता और टीम के काम को प्रेरित करता है। इस वाक्यांश के अनुसार यदि किसी समूह के सदस्य एक टीम के रूप में काम करने की बजाए अपने व्यक्तिगत हितों की सेवा करने के लिए स्वयं के लिए काम करते हैं तो वे बर्बाद और पराजित हो सकते हैं। यहां परीक्षा, कक्षा आदि में आपकी मदद करने के लिए ‘एकता में अटूट शक्ति है’ के विषय पर हमने अलग-अलग शब्द सीमा के निबंध उपलब्ध करवाए हैं। आप अपनी ज़रूरत के अनुसार किसी भी निबंध का चयन कर सकते हैं।

एकता में अटूट शक्ति है पर निबंध (United we stand divided we fall Essay in Hindi)

एकता में अटूट शक्ति है पर निबंध – 1 (200 शब्द)

“एकता में अटूट शक्ति है” इसका अर्थ है कि एक दूसरे के खिलाफ़ काम करने के बजाय एक साथ रहना और दूसरों के सहयोग से काम करना बुद्धिमानी है। एक टीम के रूप में कार्य करने से सफलता निश्चित है।

वाक्यांश की उत्पत्ति - एकता में अटूट शक्ति है

 

ग्रीक कथाकार एशॉप द्वारा प्राचीन युग के दौरान इस वाक्यांश को खोजा गया था। कथाकार ने इसका अपनी कथा "द चार ऑक्सन एंड द लायन" में प्रत्यक्ष रूप से और "द बंडल ऑफ स्टिक्स" में अप्रत्यक्ष रूप से उल्लेख किया था।

ईसाईयों के धार्मिक नियमों की पुस्तक में भी ऐसे ही शब्द शामिल हैं जिनमें प्रमुख हैं "अगर एक घर को विभाजित कर दिया जाता है तो वह घर दोबारा खड़ा नहीं हो सकता" इसी पुस्तक के दूसरे वाक्यांश हैं " यीशु अपने विचारों को जानते थे और कहते थे " हर राज्य जिसमें फूट पड़ी है वह उजड़ गया है और हर एक नगर या घर जो विभाजित है वह खुद पर निर्भर नहीं रहता।

निष्कर्ष

एक दूसरे के साथ समन्वय में काम करने के महत्व को बल देने के लिए यह वाक्यांश आमतौर पर उपयोग किया जाता है। यह वाकई सच है कि एक व्यक्ति एक मुश्किल काम पूरा नहीं कर सकता है या उसे ऐसा करने में बहुत अधिक समय और ऊर्जा लग सकती है लेकिन अगर यह काम अधिक लोगों द्वारा सामूहिक रूप से किया जाता है तो यह आसानी से पूरा किया जा सकता है।


 

एकता में अटूट शक्ति है पर निबंध – 2 (300 शब्द)

प्राचीन ग्रीक कथाकार एशॉप द्वारा खोज गया यह वाक्यांश एक टीम के रूप में एक साथ काम करने के महत्व को बताता है। "एकता में अटूट शक्ति है" का अर्थ है कि यदि हम एक टीम के रूप में कुछ कार्य करते हैं और एक दूसरे के साथ एकजुट रहते हैं तो हम जीवन में सफल होंगे और यदि हम एक दूसरे के खिलाफ होकर अकेले काम करने की कोशिश करते हैं तो हम उसमें असफल हो जायेंगे।

उदाहरण द्वारा स्पष्टीकरण

"एकता में अटूट शक्ति है" वाक्यांश आमतौर पर कई स्थानों पर उपयोग किया जाता है। इसे एक किसान और उसके बेटों की कहानी के माध्यम से अच्छी तरह समझाया गया है। किसान के बेटे, जब उन्हें व्यक्तिगत रूप से लकड़ियों के एक बंडल को तोड़ने के लिए कहा गया तो वे उसे नहीं तोड़ सके लेकिन जब उन्हें यही कार्य संयुक्त रूप से करने के लिए कहा गया तो वे इसे आसानी से कर पाए। यह स्पष्ट रूप से बताता है कि जब लोग एक साथ खड़े होते हैं तो वे आसानी से एक मुश्किल काम भी कर सकते हैं।

विभिन्न स्थानों पर वाक्यांश का उपयोग

  • यू.एस. के इतिहास में यह वाक्यांश पहले क्रांतिकारी युद्ध के अपने पूर्व गीत "द लिबर्टी सॉन्ग" में जॉन डिकिन्सन द्वारा इस्तेमाल किया गया था। यह जुलाई 1768 में बोस्टन गैजेट में प्रकाशित हुआ था।
  • दिसंबर 1792 में पहली केंटकी जनरल असेंबली ने राष्ट्रमंडल की आधिकारिक मुहर को राज्य के आदर्श वाक्य के साथ अपनाया "एकता में अटूट शक्ति है"।
  • 1942 से वाक्यांश केंटकी की आधिकारिक गैर-लैटिन राज्य का आदर्श वाक्य बन गया है।
  • यह वाक्यांश मिसौरी ध्वज पर सर्कल केंद्र के चारों ओर लिखा गया है।
  • यह ब्रिटिश शासन से स्वतंत्रता के संघर्ष के दौरान भारत में लोकप्रिय हुआ। इसका उपयोग लोगों को एक साथ आने और स्वतंत्रता के लिए लड़ने के लिए प्रेरित करने के लिए किया गया था।
  • अल्टर वफादारों ने भी इस वाक्यांश का इस्तेमाल किया है। इसे कुछ वफादार उत्तरी आयरिश भित्ति चित्रों में देखा जा सकता है।
  • वाक्यांश "एकता में अटूट शक्ति है" का उपयोग विभिन्न कलाकारों द्वारा कई गानों में भी किया गया है।

निष्कर्ष

"एकता में अटूट शक्ति है" यह कथन सौ प्रतिशत सच है। ऐसा कई बार होता है जब जीवन में हम घर, स्कूल, कार्यालय और अन्य जगहों पर ऐसी परिस्थितियां देखने को मिलती हैं जहाँ यह वाक्यांश सही पाया जाता है। हमें सबके साथ मिलकर काम करना चाहिए और दूसरों के साथ सद्भावना में रहना चाहिए।

एकता में अटूट शक्ति है पर निबंध – 3 (500 शब्द)

परिचय

“एकता में अटूट शक्ति है” यह एक प्रसिद्ध कहावत है जिसे लगभग हर कोई जानता है। इसका मतलब है कि जो लोग एकजुट हैं वे खुश हैं और जीवन में कोई भी लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं लेकिन अगर हम लड़ते रहते हैं और एक दूसरे से दूर रहते हैं तो हम विफल हो जाते हैं। हमारे जीवन के हर चरण में एकता को बहुत महत्व दिया जाता है चाहे वह व्यक्तिगत हो या व्यावसायिक हो। खेल में, कार्यालय में, परिवार में हर जगह खुशी और सफलता एकता का ही नतीजा है।

अर्थ

एकता का मतलब संघ या एकजुटता से है। ताकत मूल रूप से एकता का प्रत्यक्ष परिणाम है। एकजुट रहने वाले लोगों का समूह हमेशा एक व्यक्ति की तुलना में अधिक सफलता प्राप्त करता है। यही कारण है कि समूह लगभग हर क्षेत्र जैसे कार्यालय, सैन्य बलों, खेल आदि में बनाए जाते हैं। हमारे व्यक्तिगत जीवन में भी हम परिवार में एक साथ रहते हैं जो हमें अपने दुखों को सहन करने और हमारी खुशी का जश्न मनाने की शक्ति प्रदान करते हैं। कार्यालय में टीम किसी वांछित परिणाम प्राप्त करने के लिए बनाई जाती हैं। इसी तरह खेल और सैन्य बलों में भी समूह बनाए जाते हैं और कुछ हासिल करने के लिए रणनीतियों का निर्माण होता है।

महत्व

पुराने दिनों में मनुष्य अकेला रहता था। वह खुद लम्बा सफ़र तय करके शिकार करता था या कभी-कभी भयंकर जानवरों को हमले के लिए अवसर प्रदान करके उसे मार देता था फिर मनुष्य ने यह महसूस किया कि अगर वह अन्य शिकारियों के साथ हाथ मिला लेता है तो वह कई आम खतरों और चुनौतियों का सामना करने में सक्षम होगा। इस तरीके से गांवों का निर्माण हुआ जो बाद में कस्बों, शहरों और देशों में विकसित हुए। एकता हर जगह आवश्यक है क्योंकि यह एक अस्वीकार्य प्रणाली को बदलने के लिए इच्छा और शक्ति को मजबूत करती है।

संगीत या नृत्य मंडली में भी यदि समूह एकजुट है, सद्भाव में काम करते हैं और सुर-ताल बनाए रखते हैं तो परिणाम आशावादी होंगे वहीं अगर हर व्यक्ति अपनी व्यक्तिगत प्रतिभा दिखाने शुरू करता है तो परिणाम अराजक और विनाशकारी हो सकते हैं। एकता हमें अनुशासित होना सिखाती है। यह हमारे लिए विनम्र, विचारशील, सद्भाव और शांति में एक साथ रहने के लिए सबक है। एकता हमें चीजों की मांग और परिणाम प्राप्त करने के लिए आत्मविश्वास और शक्ति देती है। यहां तक ​​कि कारखानों आदि में भी मजदूरों को यदि उनके मालिकों द्वारा प्रताड़ित या दबाया जाता हैं तो वे समूह के रूप में यूनियन बनाकर काम करते हैं। जो लोग अकेले काम करते हैं उन्हें आसानी से हराया जा सकता है और वे अपने अधिकारों के लिए लड़ने के लिए आत्मविश्वास से काम नहीं कर सकते लेकिन अगर वे समूहों में काम करते हैं तो नतीज़े चमत्कारी हो सकते हैं।

सबसे बड़ा उदाहरण हमारे राष्ट्र की स्वतंत्रता है। महात्मा गांधी ने विभिन्न जाति और धर्म से संबंधित सभी नागरिकों को एकजुट किया और अहिंसा आंदोलन शुरू किया। दुनिया जानती है यह उनकी इच्छा और महान स्वतंत्रता सेनानियों तथा नागरिकों की एकता के कारण ही हो सका जो अंततः भारत की स्वतंत्रता के रूप में सबके सामने आया।

निष्कर्ष

एकता मानवता का सबसे बड़ी गुण है। जो एक टीम या लोगों के समूह द्वारा हासिल किया जा सकता है वह कोई भी व्यक्ति अकेला नहीं प्राप्त कर सकता है। असली ताकत एकजुट होने में निहित है। जिस देश का नागरिक एकजुट है तो वह देश मजबूत है। जिस परिवार के सदस्य एक साथ रहते हैं तो वह परिवार भी मजबूत है। कई उदाहरण हैं जो यह साबित करते हैं कि एकता में अटूट शक्ति है। इस प्रकार हमारे जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में एकता बहुत महत्वपूर्ण है।

एकता में अटूट शक्ति है पर निबंध – 4 (600 शब्द)

परिचय

“एकता में अटूट शक्ति है” यह एक प्रसिद्ध कहावत है जो दर्शाती है कि यदि हम एकजुट और एक साथ रहें तो हमें कभी हार पराजय का मुँह नहीं देखना पड़ेगा लेकिन अगर हम लगातार संघर्ष करते हैं और आपसी गलतफहमी को बढ़ावा देते रहे तो बाहरी लोग हमारा फायदा उठा सकते हैं जो अंततः हमारी विफलता का कारण बनेगा। यह कथन स्पष्ट रूप से इंगित करता है कि एकता ताकत का स्रोत है और जो लोग एकजुट हैं वे किसी भी तरह की स्थिति से निपटने की क्षमता रखते हैं क्योंकि वे एक दूसरे के बोझ और कठिनाइयों को साझा करते हैं।

अर्थ

एकता एक साथ रहने का मतलब है। लोगों के जीवन के प्रत्येक पहलू में एकता का महत्व बहुत कीमती है। खेल मैदान में चाहे वह क्रिकेट हो या फुटबॉल, बेसबॉल, बास्केट बॉल या किसी भी प्रकार का खेल हो एक संयुक्त टीम और उपयुक्त रणनीति ही टीम की सफलता में सही परिणाम दे सकती है लेकिन यदि टीम के सदस्यों के बीच संघर्ष या अस्वास्थ्यकर प्रतिस्पर्धा होती है या उनके बीच अनावश्यक गलतफहमी होती है तो वे विरोधी उस कमी का फायदा उठा कर खेल को जीत सकते हैं। इसी तरह यदि परिवार के सदस्य एक साथ रहते हैं और जीवन के प्रत्येक चरण में एक-दूसरे का समर्थन करते हैं तो कोई भी बाहरी व्यक्ति परिवार को नुकसान नहीं पहुंचा सकता है।

प्रसिद्ध कहानी

एक प्रसिद्ध कहानी है जो “एकता में अटूट शक्ति है” कहावत का आधार है। एक बूढ़ा आदमी था जो अपने तीन बेटों के साथ एक गांव में रहता था। उसके बेटे हमेशा एक-दूसरे के साथ लड़ते रहते थे और अपने पिता की बात पर कोई ध्यान नहीं देते थे। एक बार वह आदमी बीमार हो गया और उसे लगा कि वह जल्द ही मर जाएगा। वह इस तथ्य के बारे में बहुत चिंतित था कि अगर वह मर गया तो लोग उसके बेटों के विवादों का फायदा उठाना शुरू कर देंगे। उसने अपने सभी पुत्रों को बुलाया और उन्हें एक एक करके लकड़ियों के बंडल को तोड़ने के लिए कहा। उनमें से कोई भी ऐसा नहीं कर सका। फिर उसने लड़कियों के बंडल को खोल दिया और उनमें से हर एक को तोड़ने के लिए कहा जिसे उन सभी ने आसानी से कर दिखाया। उसने अपने बेटों से कहा कि उन्हें इस लकड़ी के बंडल की तरह रहना चाहिए ताकि कोई भी उन्हें तोड़ न सके लेकिन अगर वे लड़ते रहे और अलग-थलग रहे तो वे बाहरी लोग उनका आसानी से फ़ायदा उठा लेंगे।

महत्त्व

हमारे जीवन के प्रत्येक चरण में एकता महत्वपूर्ण है। एक व्यक्ति निश्चित रूप से अकेले जीवित रह सकता है लेकिन खुश रहने या खुशी का जश्न या जीवन के कष्टों को सहन करने के लिए हर किसी को एक साथी और परिवार की जरूरत होती है। यहां तक ​​कि एक कंपनी भी तब तक सफल नहीं हो सकती है जब तक कंपनी के लक्ष्य को हासिल करने के लिए बनाई गई टीम में एकता नहीं होगी। अगर देशवासी सरकार का समर्थन करते है तो देश भी आर्थिक रूप से मजबूत हो सकता है।

निष्कर्ष

इस बात के कोई मायने नहीं कि हम कितने सफल हैं हमें हमेशा उन लोगों की आवश्यकता होती है जो हमारे साथ खड़े रहे और हमें समर्थन दे। वाक्यांश 'एकता में अटूट शक्ति है’ आने वाले वर्षों में लोगों को सबक देता रहेगा। एकता सफलता का आधार है और यह लोगों को समझने में भी मदद करता है। लड़ना और एक-दूसरे से अलग रहना बहुत आसान है परन्तु एकजुट रहना सबसे ज़रूरी है।

 

 

सम्बंधित जानकारी:

एकता पर भाषण

राष्ट्रीय एकता पर भाषण

विविधता में एकता पर भाषण

एकता में बल है पर भाषण

विविधता में एकता पर निबंध

धर्म एकता का माध्यम है पर निबंध

एकता में बल है पर निबंध

राष्ट्रीय एकता पर स्लोगन