माता-पिता के लिए धन्यवाद भाषण

माता-पिता हर बच्चे के जीवन में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हमें शायद ही किसी अवसर या समारोह में अपने माता-पिता का शुक्रिया अदा करने का अवसर मिलता हैं लेकिन वास्तव में ऐसी कई स्थितियाँ आती हैं जब हमें अपने माता-पिता के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करने का मौका मिलता है। यदि आपने कभी सोचा है कि भाषण के माध्यम से माता-पिता का धन्यवाद कैसे करें तो यह माता-पिता के लिए धन्यवाद स्पीच आपको दर्शकों और अपने माता-पिता पर एक अच्छा प्रभाव छोड़ने में मदद कर सकती है। माता-पिता की जयंती जैसे अवसरों पर आप इन स्पीच का इस्तेमाल कर सकते हैं और आप अपनी शादी, आदि अवसरों के लिए भी इन भाषणों का प्रयोग कर सकते हैं।

माता-पिता के लिए धन्यवाद स्पीच (Thank you Speech for Parents in Hindi)

माता-पिता के लिए धन्यवाद स्पीच - 1

प्रिय दोस्तों,

मैं यहां आप सभी को इकट्ठे होने और हमारे उत्सव का हिस्सा बनने के लिए आप सभी को धन्यवाद देना चाहता हूँ। जैसा कि आप सभी जानते हैं मुझे ब्रिटेन में एक परियोजना को पूरा करने के लिए चुना गया है। इस वजह से मैं अगले 2 वर्षों तक वहीँ रहूंगा। हालांकि जहाँ मुझे इस उपलब्धि के बारे बताते हुए ख़ुशी हो रही है और उत्साहित भी हूं वहीँ मेरा मन थोड़ा भावुक भी हो रहा है।

मैं इस अवसर का उपयोग उन लोगों का धन्यवाद करने के लिए करना चाहता हूं जो मेरी सफलता की नीवं हैं। आप में से अधिकांश मेरे सहयोगियों, वरिष्ठ साथियों और बॉस ने केवल मेरी जिंदगी का सफल भाग ही देखा है। मेरे माता-पिता ही एकमात्र ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने मुझे मेरे जीवन में आने वाली चुनौतियों के लिए तैयार करने के लिए दिन और रात मेहनत की हैं। मेरे माता-पिता ही ऐसे व्यक्ति हैं जो मेरी हर समस्या में मेरे साथ खड़े रहे। आप मेरे जीवन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा हैं और भगवान के रूप में मेरे पास सबसे बड़ी ताकत है।

मैं विशेष रूप से मेरे पिता को धन्यवाद देना चाहता हूं कि उन्होंने मेरी काबिलियत और सक्षमता को पहचानते हुए मुझे वह ताकत दी जो मुझे अपने सपनों को आगे बढ़ाने और मेरे लक्ष्य को पूरा करने के लिए आवश्यक कौशल और क्षमता वाले विश्वास के लिए आवश्यक है। कई बार जब मैं हताशा से घिर गया था तब केवल आप ही थे जो मेरा समर्थन देने के लिए मेरे साथ खड़े रहे। मुझे अभी भी मेरा बचपन याद है जब आप कई घंटे काम पर बिताकर घर आते थे और फ़िर गणित सीखने में मेरी मदद करते थे। गणित एक ऐसा विषय था जिससे मुझे हमेशा डर लगता था। आपने मुझे इतनी आसानी से गणित की समस्याओं को हल करने के लिए तरीके सिखाए, उस समय मुझे एहसास भी नहीं था कि आप उस भूमिका को इतना भावनात्मक तरीके से निभाएंगे। आज जब भी मैं निराशा महसूस करता हूं तो आप मुझे आसानी से समस्याओं से निपटने के तरीके बताते हैं और यदि समस्या बनी रहती है तो आप मुझे अपनी समस्याओं पर काबू पाने के लिए सहारा देते हैं। आप मेरे जीवन के सबसे महत्वपूर्ण स्तंभ के रूप में मेरी ताकत हैं जो भगवान ने मुझे दी है।

मेरे पिता हमेशा मुझसे कहा करते थे कि हमारा घर मेरी मां के योगदान के बिना अधूरा है। आज मैं जो कुछ भी हूं उसके लिए मेरे पास अपनी मां को धन्यवाद करने के लिए शब्द नहीं हैं। आप हमेशा मेरे जीवन की हर दुःख की घड़ी में समर्पित और सहायक रही हैं। आप खाना बनाती हैं, मेरे कमरे की व्यवस्था करती हैं, सही जगह पर और सही समय पर सब कुछ उपलब्ध कराती हैं, अच्छे और सराहनात्मक शब्द बोलती हैं और मुझ पर गर्व महसूस करती हैं। यह सब आप अपनी दिनचर्या व्यस्त होने के बावजूद करती हैं। मुझे अक्सर आश्चर्य होता है क्या मेरी मां एक सुपर महिला है? मेरा मानना ​​है कि इतना सब कुछ करना मेरे जैसे सामान्य व्यक्ति के लिए संभव नहीं है। आज मैं अपनी सफलता का जश्न मनाने के लिए अपने सभी नज़दीकी और प्रियजनों के बीच यहां खड़ा हूं।

यह सब मेरे माता-पिता की वजह से है जिन्होंने मुझे इस सफलता के लिए तैयार किया। जब मैं बीमार हुआ तब वे मेरे साथ जागे। जब मैं मेडिकल प्रवेश परीक्षा में सफ़ल ना हो सका तो मैं उम्मीद खो चुका था लेकिन तब उन्होंने मुझे सांत्वना दी, मेरी परवाह की, मुझ पर भरोसा किया। मेरी परीक्षाओं के दिनों मे मेरी आहार की ज़रूरतों को पूरा करने के लिए वे लगातार दिन-रात जागते रहे।

आपने मेरे लिए जो कुछ भी किया है उसके लिए मेरे पास आपको धन्यवाद करने के लिए शब्द नहीं हैं। आप दोनों के बिना मुझ में जीने की हिम्मत नहीं है। आने वाले 2 साल मेरे लिए मुश्किल होंगे क्योंकि मेरे पास आपको गले लगाने के लिए समय नहीं होगा लेकिन मैं प्रौद्योगिकी के माध्यम से आपके साथ जुड़ा रहूंगा।

एक बार फिर मैं अपने माता-पिता को धन्यवाद करना चाहूँगा।

माता-पिता के लिए धन्यवाद स्पीच – 2

सम्मानित प्रिंसिपल, आदरणीय शिक्षकगण और मेरे प्यारे दोस्तों!

हमारे बोर्डिंग स्कूल ABC के वार्षिक उत्सव में आपका स्वागत है। यह वह दिन है जिसका हम सभी बेसब्री से इंतजार करते हैं। यह उत्सव स्कूल के समापन का प्रतिनिधित्व करता है क्योंकि अगले 2 महीने बच्चे अपने माता-पिता के साथ रहेंगे या उनकी इच्छा के अनुसार उनकी छुट्टियों का आनंद उठाएंगे।

इस साल मुझे वार्षिक दिन के स्पीच देने का मौका दिया गया है। मैं विशेष रूप से इस क्षण का उपयोग उन लोगों को धन्यवाद करने के लिए देना चाहूँगा जिन्होंने मेरी जिंदगी बदल दी है - मेरे माता-पिता।

इस बात का वर्णन करने के लिए मेरे पास पर्याप्त शब्द नहीं हैं कि मैं उनका कितना आभारी हूँ क्योंकि उन्होंने मेरे लिए बहुत कुछ किया है लेकिन इससे मेरे शिक्षकों का मूल्य कम नहीं हो जाता। आज मैं इस मंच का उपयोग कर रहा हूं ताकि मेरे माता-पिता का शुक्रिया अदा कर सकूँ। माता-पिता हमारे जन्म से लेकर अंत तक इतना कुछ करते हैं और मुझे यह तब समझ में आया जब मैं बोर्डिंग स्कूल में आया। इसमें कोई शक नहीं है कि स्कूल ने मुझे अनुशासन और आत्मनिर्भर रहना सिखाया है लेकिन जीवन में माता-पिता का महत्व अनन्त है।

मैं यहां किसी प्रकार की तुलना नहीं कर रहा हूं लेकिन आज मैं निष्पक्ष होकर अपने माता-पिता और उनके आशीर्वाद के लिए शुक्रिया अदा करना चाहूँगा जिन्होंने मुझे निरंतर समर्थन दिया है।

पिताजी और माँ मैं आपको बताना चाहता हूं कि मैं गुस्सा नहीं हूं कि आपने मुझे बोर्डिंग स्कूल भेजा है। मुझे बाद में यह एहसास हुआ कि बोर्डिंग स्कूल में मुझे भेजने के लिए यह आपका कितना समझदार फैसला था क्योंकि इसने न केवल मुझे एक आदर्श बच्चा बनने में मदद की बल्कि मैंने यहां बहुत सारे दोस्त भी बनाये। हर स्थिति में मुझ पर असीम प्यार बरकरार रखने के लिए मैं सभी का धन्यवाद करना चाहता हूं। जब मैंने मूर्खतापूर्ण ग़लतियां कीं तो आपने मुझे बेहद प्यार के साथ समझाया। फोन पर मेरी हर छोटी समस्या को सुनने और उसका समाधान खोजने में मदद करने के लिए धन्यवाद।

पिताजी आप हमेशा मेरी जिंदगी का आधार बने रहे हैं। मैंने ऐसा कभी नहीं देखा कि आप अंधेरे क्षणों में भी रो रहे हैं। मैं हमेशा से यही सोचता रहा हूँ कि मेरे पिता एक सुपर इंसान है जबकि यह सच नहीं था। आप भी एक भावुक दिल वाले इंसान हैं और इसका मुझे तब एहसास हुआ जब मैंने आपका मेरी रुखसती के समय भावनात्मक रूप देखा। आपने मेरी हर ख्वाहिश पूरी करी और मेरी सारी तर्कहीन मांगों को पूरा किया।

माँ आप दुनिया में सबसे बढ़िया व्यक्ति हैं। आपने हमेशा मुझे दूसरों के प्रति दयालु होना सिखाया है। धैर्य और दृढ़ता ही 'सफलता' का सबसे बड़ा मंत्र है जिसे मैंने आप से सीखा है। आपने मुझे सिखाया और मुझे सलाह दी कि मुझे किसी भी तरह के झगड़े में शांत रहना चाहिए जिसके कारण आज तक मेरी दोस्ती सबके साथ यूँ ही बनी हुई है।

आज मेरी जिंदगी का जो मिशन और दृष्टि है वह आप सभी के अनंत प्रयासों और मुझ पर भरोसा करने के कारण ही है। छात्रावास में मुझे भेजने का आपका निर्णय सबसे कठिन था लेकिन आपने इसे लिया क्योंकि आप तर्कहीन बच्चे को एक विनम्र और विचारशील इंसान में बदलना चाहते थे।

आपके पास से दूर होने के बाद मैंने आपसे बहुत कुछ सीखा है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि मैंने लोगों और उनके प्रयासों का मूल्यांकन करना शुरू कर दिया है।

जो भी कुछ आपने किया है मैं उसके लिए मेरे पास आपका धन्यवाद करने के लिए शब्द तो नहीं हैं लेकिन फिर भी मैं मम्मी–पापा आपका 'धन्यवाद' करता हूँ!

माता-पिता के लिए धन्यवाद स्पीच – 3

सभी को सुप्रभात।

आज हम सब यहाँ "माता-पिता दिवस" ​​को मनाने के लिए इकठ्ठा हुए हैं और इस विद्यालय की हेड गर्ल के रूप में मुझे यह मौका मिला है ताकि मैं मेरे माता-पिता को धन्यवाद करने के लिए कुछ शब्द कह सकूँ क्योंकि वे ही कारण हैं जिस वजह से मैं यहां आप सबके सामने इस मंच पर खड़ी हूँ। वे ही दो लोग हैं जिन्होंने मेरे जीवन के सभी उतार-चढ़ाव में मेरा समर्थन किया। माता-पिता असली आशीर्वाद हैं जो भगवान हमें देता है क्योंकि वे हमारे जीवन के हर दौर में हमारे साथ खड़े रहते हैं।

हम सभी अपने जीवन में कई उतार-चढ़ाव देखते हैं पर जो आपके साथ हर सुख-दुःख में आपके साथ खड़े रहते हैं वह केवल हमारे माता-पिता ही हैं। हम जीवन में कई रिश्तों को देखते हैं लेकिन केवल एक ही रिश्ता है जो हमारे साथ आखिरी सांस तक रहता है और वह है हमारे माता-पिता का हमसे रिश्ता। माता-पिता ही केवल ऐसे व्यक्ति हैं जो बिना किसी स्वार्थ के हमेशा आपके साथ खड़े रहते हैं। उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि स्थिति कितनी मुश्किल है। यह एकमात्र संबंध है जिस पर हम भरोसा कर सकते हैं।

जिस व्यक्ति ने मेरा हर समय साथ दिया और मेरे जीवन की मुश्किल परिस्थितियों पर विजय पाने में मेरी सहायता की वह मेरे पिता हैं। वह ऐसे आदमी है जिन्होंने मुझे दबाने की बजाए मेरे अन्दर से एक विजेता को बाहर लाने का प्रयास किया। वह हमेशा मेरा हर तरह से समर्थन करते रहे है चाहे वह मानसिक समर्थन हो या वित्तीय सहायता हो। वह एकमात्र इंसान है जिनका मैं अपने जीवन के हर एक सेकंड का विश्वास कर सकता हूँ। जब भी मुझे अपने जीवन में कठिन परिस्थितियों से सुरक्षा की आवश्यकता थी तब उन्होंने हमेशा एक ढाल के रूप में काम किया। जब आप अपने माता-पिता के साथ रहते हैं तो क्या आपको सुरक्षित नहीं लगता है? मुझे लगता है कि मैं ढाल से ढंका हुआ हूँ और कोई ख़तरा मेरे पास नहीं आ सकता।

दुर्भाग्य से बहुत से बच्चों को भगवान का यह आशीर्वाद नहीं मिलता है और हो सकता है कि वे मेरे से ज्यादा माता-पिता के महत्व को समझते है। मैं अपने माता-पिता के बिना मेरी ज़िंदगी की कल्पना नहीं कर सकता और यह मेरे लिए एक बुरी दुःस्वप्न की तरह लगता है जिसे मैं कभी नहीं देखना चाहता। मैं भगवान का बहुत आभारी हूँ कि उसने मुझे माता-पिता नामित आशीर्वाद दिया जिन्हें मैं हर ख़ुशी और आराम देने की कोशिश करूंगा जो हर पल मेरे भविष्य को उज्ज्वल करने में जुटे रहे।

इसी के साथ मैं अपने भाषण को समाप्त करना चाहूँगा और हमारे माता-पिता को यहां आने के लिए विशेष धन्यवाद देना चाहूंगा!


 

माता-पिता के लिए धन्यवाद स्पीच – 4

सुप्रभात देवियों और सज्जनों!

आज हमारी कंपनी ने "माता-पिता दिवस" ​​के उपलक्ष में एक समारोह का आयोजन किया है और प्रबंधक के तौर पर मुझे मेरे माता-पिता के लिए कुछ शब्द बोलने का विशेषाधिकार मिला है। असल में जब हमारे माता-पिता के प्रति हमारा आभार व्यक्त करने की बात आती है तो इस शब्द का अर्थ कम हो जाता है क्योंकि वे वास्तव में ईश्वर का सबसे अनमोल आशीष हैं और उन्हें किसी दूसरे रिश्ते द्वारा प्रतिस्थापित भी नहीं किया जा सकता है। वे ही केवल दो ऐसे लोग हैं जिनका जब मुझे सहारे की आवश्यकता पड़ी तो वो मेरे साथ खड़े रहे। अपने माता-पिता की ही वजह से मैं इस समृद्ध कंपनी के प्रबंधक के रूप में आपके सामने खड़ा हूं।

मैं अपनी मां को अपनी खुशी का त्याग करके मुझे सहारा देने के लिए धन्यवाद करना चाहता हूं। हम आम तौर पर सुनते हैं कि हर सफल व्यक्ति के पीछे एक महिला है। जी हां यह सच है वह महिला मां ही है। माँ सबसे ज्यादा देखभाल करने वाली इंसान है, उसका बलिदान अनंत हैं। वह एकमात्र व्यक्ति है जो अपने बच्चे के आराम के लिए दर्द सहना जानती है। जब तक मैं घर नहीं पहुंचता वह हमेशा मेरी चिंता में जागती रहती है। वह वास्तव में एक देवी है जिनका आशीर्वाद हमारे जीवन के लिए रीढ़ की हड्डी के रूप में कार्य करता है। उनके समर्थन के बिना मेरा यहाँ तक पहुँचना  असंभव था। आज मैं जहाँ हूँ मेरी सफलता के लिए सम्मान और श्रेय मैं अपनी मां को देता हूँ। कई बार ऐसा होता था जब मैं काम के दबाव के कारण भावनात्मक रूप से टूट जाता था और अशांति की भावना घर कर जाती थी। मेरी मां ही वह इंसान थी जिसने मुझे दिलासा दिलाया तथा अपने आशावादी रवैये और दयालु शब्दों के माध्यम से मेरे मन में शांति लाई।

अक्सर जीवन में ऐसा समय आता है जब आपको किसी के साथ की आवश्यकता पड़ती है जो आपको समस्याओं से बाहर निकालने में आपकी मदद कर सकता है। मेरे पिता एकमात्र इंसान हैं जिन्होंने उस वक़्त मेरा साथ दिया जब मुझे सबसे ज्यादा उनकी जरूरत थी। वे हमेशा मेरे समर्थन के लिए मौजूद रहे है। उन्होंने मुझे उन कठिनाइयों के लिए तैयार किया जो मेरे जीवन में आई थी। उन्होंने हमेशा एक मजबूत स्तंभ के रूप में काम किया जिसने मुझे हर पल सहारा दिया। शैक्षणिक वर्षों से मेरी वर्तमान नौकरी तक उन्होंने हमेशा एक उत्कृष्ट मार्गदर्शक के रूप में काम किया है। उन्होंने मेरे करियर को एक उत्कृष्ट ऊंचाई तक बढ़ाने के लिए पर्याप्त शक्ति और सकारात्मकता प्रदान की। उन्होंने ज्यादा से ज्यादा समय देकर काम किया केवल मुझे हर तरह की सुविधा देने के लिए जो मुझे चाहिए थी। मेरे माता-पिता दोनों देर रात तक जागते रहे और मुझे परीक्षाओं के लिए तैयार किया और यह केवल मेरी मेहनत ही नहीं बल्कि उनकी कड़ी परिश्रम है जिससे मुझे अपने लक्ष्यों को पूरा करने में मदद मिली।

मेरे माता पिता मेरे करियर में मेरी सफलता का वास्तविक कारण हैं और उनके बिना मैं कुछ नहीं हूँ। मेरे माता-पिता के बिना जीवन के बारे में सोचना पूरी तरह से अकल्पनीय है लेकिन कुछ ऐसे बच्चे हैं जिनको भगवान से यह आशीर्वाद नहीं मिला और वे इस प्यार से अनजान हैं जो हमें अपने माता-पिता से मिला है। उन्हें देखकर ऐसा लगता है मैं बहुत भाग्यशाली हूँ कि मेरे पास इतने प्यारे पिता और देखभाल करने वाली मां है। मेरा एकमात्र उद्देश्य अब मेरे माता-पिता को सबसे अच्छी चीज़े उपलब्ध करवाना है क्योंकि मेरे लिए किए सभी बलिदानों के बाद यह उनका हक़ बनता है।

इसी के साथ मैं अपने भाषण को समाप्त करना चाहूंगा। धैर्य के साथ सुनने के लिए आप सभी का धन्यवाद। आपका दिन शुभ हो!