दोस्तों के लिए विदाई भाषण

मित्र वो खजाना है जिसे हम सभी अपने जीवन में पाना चाहते हैं। हमारे जीवन में हमें कुछ ऐसे सहयोगी मिलते हैं जिनका महत्व हमारे लिए दोस्त से भी अधिक हो जाता है तथा जिनके साथ हम अपने जीवन का हर संभव रहस्य साझा करते हैं, सलाह लेते हैं और उनके साथ परेशानी रहित समय बिताते हैं। अगर ऐसे दोस्त कंपनी या दफ्तर छोड़ने की योजना बना रहे हैं तो आपको विदाई स्पीच देने के लिए कहा जा सकता है इसलिए हमने विभिन्न नमूने साझा किए हैं जो आपकी स्पीच को अधिक व्यक्तिगत और भावनात्मक बनाने में आपकी सहायता कर सकते हैं। आप इन स्पीच से आसानी से मार्गदर्शन ले सकते हैं और अपने उदाहरणों और घटनाओं को जोड़कर अपने मित्रों की विदाई स्पीच तैयार कर सकते हैं।

दोस्तों के लिए फेयरवेल स्पीच (Farewell Speech for Friends in Hindi)

स्पीच - 1

सम्मानित प्रबंधक और प्रिय टीम के सदस्यों!

आख़िरकार वह दिन आ गया जब मैं आप सबके बीच खड़े होकर अपनी विदाई स्पीच देने की तैयारी कर रहा हूं। मेरे लिए इस तरह का एक प्यारा विदाई समारोह का आयोजन करने के लिए मैं आप सभी का  निष्ठापूर्ण आभार व्यक्त करते हुए अपनी स्पीच को शुरू करना चाहूँगा। मैं वास्तव में इसके लिए अभिभूत हूं।

मैं इस कंपनी में 10 साल पहले शामिल हुआ था। तब मेरी उम्र 25 साल की थी, युवा और ऊर्जावान। मैंने हाल ही में प्रचुर मात्रा के प्रैक्टिकल ज्ञान के साथ अपना मैनेजमेंट कोर्स पूरा किया है। इस कंपनी ने मुझे एक पेशेवर के रूप में विकसित होने के बहुत अवसर दिए हैं। न केवल इस कंपनी ने मेरे कौशल को बढ़ाया है बल्कि मेरे ज्ञान को भी विकसित किया है साथ ही साथ मुझे आप जैसे बहुत सारे अच्छे दोस्त भी दिए हैं।

मेरा यहां काम करके सीखने का एक अच्छा अनुभव रहा है और मैं मेरे कौशल और समर्पण में बेहद विश्वास रखने के लिए प्रबंधन समिति का आभारी हूं। मेरे सभी बॉस ने मुझे एक आदर्श पेशेवर बनाने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है लेकिन मैं विशेष रूप से मेरे वर्तमान बॉस को धन्यवाद देना चाहूंगा जो मेरे लिए बॉस से भी बढ़कर हैं। मुझे उनमें सबसे अच्छा दोस्त और बड़े भाई की झलक दिखती है।

आज मेरा आखिरी दिन होने के नाते मैं यह स्वीकार करता हूँ कि आप सब मुझे मजबूत व्यक्ति के तौर पर जानते हैं लेकिन मुझे भी समय-समय पर निराशा और हताशा का सामना करना पड़ा। एक समय था जब मैंने  खुद पर से विश्वास खो दिया था और नकारात्मक उम्मीदों के सहारे जीने लगा था। तब अचानक मेरे वर्तमान बॉस, मेरे दोस्त, मेरे गाइड श्री A ने मेरे मनोबल को बढ़ाया और मुझे निराशा भरे जीवन से बाहर निकलने में मदद की। मैंने उनसे सीखा कि बिना परेशानी के आलोचना और प्रशंसा कैसे  स्वीकार करें। मैंने न केवल अपनी पेशेवर जिंदगी में बल्कि अपने निजी जीवन में भी उनसे निर्देशन और मार्गदर्शन लिया है। उनके साथ काम करने से मेरी सोच काफ़ी बदल गई है और मैंने अन्य लोगों की राय, सलाह का सम्मान करना सीख लिया है और मेरे विचारों के साथ उनके विचारों को शामिल करके बेहतर परिणाम हासिल करने की कोशिश की।

श्री A, मैं और हमारी टीम ने कई मुश्किल परियोजनाओं को एक साथ संभाला है और उनको सफलतापूर्वक पूरा किया है। दफ़्तर के कार्य के बाद हम दोस्तों के रूप में मिलते थे और हर सफलता का जश्न मनाते थे। हमने व्यक्तिगत और व्यावसायिक समस्याओं पर चर्चा की है और एक दूसरे के साथ जब भी आवश्यक हो सलाह साझा की है। इस कंपनी ने मुझे केवल एक सफल कैरियर ही नहीं दिया है बल्कि बहुत अच्छे और भरोसेमंद मित्र भी दिए हैं।

मैं व्यक्तिगत कारणों से इस कंपनी को छोड़ रहा हूं लेकिन मैं हमेशा कंपनी को याद करूँगा जहाँ मैंने बेहद प्रतिभाशाली और पेशेवर लोगों के साथ काम किया है। टीम के नेता और प्रशिक्षक के रूप में मैंने कई टीमों को संभाला है लेकिन वर्तमान में मैं जिस टीम के साथ काम कर रहा हूं वह सबसे बढ़िया टीम है। आप लोग बेहद कमाल के हैं। जब कभी आप लोगों ने काम संभाला है तो मुझे किसी भी प्रोजेक्ट या असाइनमेंट की समयसीमा या गुणवत्ता के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं पड़ी। आपको जिस योजना पर काम करने के ज़रूरत पड़ती थी मैं केवल उस प्रोजेक्ट प्लान और कार्यान्वयन विवरण को आपसे साझा कर लेता था। आप सभी बेहद सफल होंगे और यह संगठन निश्चित रूप से आपको वो सब कुछ देगा जिसके आप सभी हकदार हैं।

आपके जैसे प्यारे दोस्तों के साथ काम करने का एक शानदार अनुभव रहा है और मैं निश्चित रूप से यह सब याद रखूँगा। मैं आपको एक सफल जीवन और कैरियर की शुभकामनाएं देता हूं।

धन्यवाद।

 

स्पीच – 2

सभी को नमस्कार!

अपना समय निकालकर इस समारोह में शामिल होने के लिए आप सभी का धन्यवाद। जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हम श्री X की विदाई पार्टी का जश्न मनाने के लिए यहां इकट्ठे हुए हैं। आज उनका आखिरी दिन है और आज हम उनसे काम नहीं लेंगे बल्कि उनके साथ कुछ अच्छा समय बिताएंगे। श्रीX और मैं एक ही प्रोफ़ाइल के साथ इस कंपनी में शामिल हुए और वे मेरे बहुत अच्छे दोस्त रहें हैं। हम दोनों के ही सेवानिवृत्त होने में अभी भी 10  साल हैं लेकिन आप मुझे बीच में ही छोड़ कर जा रहे हैं। मैं इस संकट को समझ सकता हूँ लेकिन मैं आपको निसंदेह बहुत याद करूँगा।

उन सभी लोगों के लिए जो श्री X को एक सच्चे पेशेवर के रूप में जानते हैं, जो बातें कम करते हैं और काम अधिक करते है तथा हमेशा समय-सीमा के पाबंद रहते हैं, उनका मूड थोड़ा अलग भी है। मेरा मतलब यह नहीं है कि पेशेवर होने का मतलब थोड़े अलग मिजाज़ का होना है लेकिन मैं आपको श्री X के सभी मज़ेदार पक्षों के बारे में बताना चाहता हूं जो चुटकलों पर जोर से हँसते हैं, जो लंबी ड्राइव पर जाने के लिए तैयार रहते है, जो सुबह टहलते हैं और सूर्यास्त को देखने के लिए बेकरार रहते हैं।

दिलचस्प बात यह है कि श्री X और मैंने एक ही कॉलेज से इंजीनियरिंग पूरी की है और वह भी लगभग एक समान अंकों के साथ। ऐसा लगता है कि वे और मैं अति प्राचीन काल से सबसे अच्छे दोस्त रहे हैं। मैं भगवान का बहुत आभारी हूं कि मैं उनसे मिला और हम मित्र बन गए। ऐसा नहीं कि वे मेरे सबसे अच्छे दोस्त हैं लेकिन वास्तव में वे एक अद्भुत व्यक्ति भी हैं। एक समय था जब मैं अपने निजी जीवन में कठिनाइयों का सामना कर रहा था। मैंने अपने पिता को खो दिया और बहुत अकेलापन भी महसूस कर रहा था।

निराशा के उन दिनों के दौरान उन्होंने मुझे हर संभव समर्थन दिया। वास्तव में उनके मार्गदर्शन के ही कारण मैं इस कंपनी में शामिल हो सका। कुछ साल बाद मुझे विदेश जाने का अवसर मिला लेकिन मैं अपने अज़ीज़ दोस्त को खोना नहीं चाहता था इसलिए मैंने इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया और आज भी मुझे अपने उस फैसले पर पछतावा नहीं होता बल्कि मैं भगवान का आभारी हूं कि उनसे मुझे इतना अच्छा मित्र दिया। वह बहुत अच्छे इंसान और एक आदर्श व्यक्ति भी है।

हमने एक साथ अच्छे और बुरे दिन बिताए हैं। हमने कई कार्यालय परियोजनाओं को एक साथ संभाला है। हमने रातों रात जग कर बिना किसी समस्या के अपना काम पूरा किया है। हमने एक साथ जीत का जश्न और विफलता को मनाया है। मैं इस तथ्य को नहीं नकार सकता कि श्री X मेरी पत्नी से ज्यादा मेरे रहस्य जानते हैं जिनके साथ मैंने इतने वर्ष बिताएं हैं।

खैर उनका सबसे अच्छा दोस्त होने के नाते मैं यह भी समझता हूं कि वे हमें छोड़ कर जा रहे हैं और हम उन्हें वापस रहने के लिए आग्रह भी नहीं कर सकते क्योंकि इसके कारण से हम सभी काफी परिचित हैं लेकिन सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसी शहर में रहेंगे। इसलिए मैं उनका पीछा नहीं छोडूंगा भले ही वे अन्य कंपनी में काम करने जा रहे हो।

हम निश्चित रूप से श्री X आपको याद करेंगे लेकिन मैं वादा करता हूं कि टीम में आपके द्वारा जिस विचारधारा की शुरूआत की गई है उसका हम सभी के द्वारा पालन किया जाएगा और मैं आपको भरोसा दिलाना चाहूँगा की मैं भविष्य में आपके मार्गदर्शन की ज़रूरत पड़ने पर आपके पास ज़रूर आऊंगा। भविष्य के लिए हमारी ओर से शुभकामनाएं।

धन्यवाद।

 

स्पीच – 3

नमस्कार दोस्तों! आप सभी को देख कर बहुत अच्छा लग रहा है। मेरी स्नातक स्तर की पढ़ाई, पोस्ट ग्रेजुएशन और ऑफिस के दोस्त सभी को एक जगह पर एक साथ पाकर बहुत अच्छा लग रहा है। आप लोगों के लिए यह एक आम बात हो सकती है लेकिन ईमानदारी से मेरे लिए यह पृथ्वी पर स्वर्ग के समान है।

आप में से प्रत्येक ने मुझे बहुत सी अच्छी यादें दी हैं और साथ में हमने अपने जीवन के सबसे अच्छे क्षणों का आनंद उठाया है लेकिन मेरे लिए यह वाकई दुखी कर देने वाला पल है कि मुझे इस अविश्वसनीय क्षण को साक्षी करने का मौका मिला जब मुझे आपको अलविदा बोलना पड़ रहा है। जी हां वो समय आ गया है जब मैं भारत को अलविदा कहूं और दुर्भाग्य से आप सभी को भी। यह किस्मत का ही खेल है जिसने मुझे आप सभी से मिलाया लेकिन इसी किस्मत ने ही अब मुझे देश की सीमाओं से परे ले जाने और मेरे भविष्य को उज्जवल करने की योजना बनाई है।

हालाँकि हम सभी को इस के लिए ज्यादा दुखी नहीं होना चाहिए। यह केवल एक किस्म का शारीरिक कनेक्शन है जो धीरे धीरे खत्म हो जाएगा लेकिन हम सभी को आत्मीय रूप से मजबूत रहना चाहिए। दूरी ज्यादा होने से यह आत्मीय दोस्ती और भी ज्यादा मज़बूत हो जाएगी।

यह यात्रा भी बहुत गज़ब थी एक दिन वो था जब हम ज़ोर से हंसते थे और आज का दिन वो है जब हमारी आँखों में आँसू आ रहे हैं। एक दौर वो था जब हम लड़ते और रोने लगते थे पर अब हम सभी के अन्दर शांति और खुशी है। हम सभी एक-दूसरे के साथ मिलकर खुशी से रहते हैं।

हमने जो समय एक साथ बिताया है वह बहुत अद्भुत रहा है। आप सभी एक दूसरे के साथ संपर्क करते रहेंगे लेकिन मेरे लिए यह सबसे कठिन क्षण है जब मुझे आप सबको एक साथ अलविदा कहना पड़ रहा है। मुझे हमेशा यह सिखाया गया है कि बड़े सपने देखो और बड़ा काम करो और मेरा यह कदम इस पाठ की एक व्यावहारिक सीख है लेकिन किसी ने मुझे यह नहीं बताया कि जब आप अपने बड़े सपनों के लिए काम करेंगे तो ऐसा समय आ सकता है जब आपको इसका हिस्सा बनना पड़ सकता है। काश किसी ने मुझे यह बताया होता तो मैं इस बड़े को सपना नहीं देखता। मैं मजाक कर रहा हूं!

मुझे पता है कि मेरी वृद्धि और प्रगति देखकर मेरे दोस्त खुश हो जायेंगे जैसे वे गुज़रे दिनों में होते थे। मुझे बेहद ख़ुशी होती है जब मैं आपके मुँह से यह सुनता हूँ “यार, वह मेरा सबसे अच्छा दोस्त है”।

जल्द ही वह समय आ जाएगा जब हम एक साथ फिर मिलकर पुरानी यादों को संजोएंगे और मजेदार क्षणों का आनंद उठाएंगे।

मुझे आप सबकी बहुत-बहुत ज्यादा याद आएगी और यह स्पष्ट है कि इस भावना को शब्दों में व्यक्त नहीं किया जा सकता है। मेरी जीवनरेखा के इस पूरे समूह को सलाम। मेरे जीवन में आने और इसे आज अच्छा बनाने के लिए धन्यवाद। मेरी दूसरी चीजों के साथ मैंने सभी मज़े भरे क्षणों को पैक कर लिया है जो मुझे आपके साथ की याद दिलाते हैं।

मैं सभी से बहुत प्यार करता हूँ और कृप्या मेरे साथ यूँ ही बने रहें। यहाँ आने के लिए और आज की इस शाम को यादगार बनाने के लिए धन्यवाद।


 

स्पीच – 4

हेल्लो दोस्तों। कैसे हैं आप सब?

आख़िरकार हमारे विदाई का दिवस आ ही गया!

यह वह दिन है जहां हम औपचारिक रूप से हमारे शिक्षकों और एक-दूसरे को अलविदा कहेंगे। यह हमारी स्नातक स्तर की पढाई का आखिरी दिन है।

क्या यह मात्र संयोग है या किस्मत का खेल है कि लगभग 2000 छात्रों में से केवल हम ही इतनी अच्छी तरह से जुड़े हुए हैं। यहां आपके द्वारा गर्मजोशी से किए स्वागत को देखकर मेरी आँखों में आँसू आ गए हैं क्योंकि मुझे पता है कि हम सबकी दोस्ती अब उस समय में बदल जाएगी जब हमें एक दूसरे से पहले पूछना होगा कि क्या आपके पास समय है मुझसे मिलने का ... जी हां दोस्तों ऐसा ज़रूर होगा।

मुझे पता है कि शुरू होने वाली हर चीज़ का अंत होता है। मुझे यह भी याद है कि जब हम सब हमारे काम से परेशान थे और यह कहते थे “यार कॉलेज की पढाई कब खत्म होगी”। अजीब बात है और आज वह दिन आ गया है जब मुझे नहीं पता कि हम किस तरह एक–दूसरे के बगैर रह पाएंगे, कैसे एक-दूसरे के बगैर लंच करेंगे और शिक्षकों की डांट से बचेंगे।

यद्यपि हमारे रास्ते अब बदलने की कगार पर हैं, जीवन के विभिन्न चरण बदलने वाले हैं लेकिन मुझ पर भरोसा रखिए मैं आपको आश्वासन देता हूं कि आने वाले समय के लिए हमारे बंधन यूँ ही मजबूती से स्थिर रहेगा। बस एक बार आवाज़ देकर देखिए मैं आपके साथ नज़र आऊंगा।

मेरे हिसाब से फेयरवेल/विदाई एक दूसरे से मिलने, बातचीत करने के लिए आयोजित किया जाता है। सालों के बाद यह मुलाकात फिर से हो भी सकती है या नहीं भी। हम में से केवल कुछ ही लोग मिल पाएंगे जो आपस में सबसे अच्छे दोस्त हैं। यह सच है कि आज शाम थोड़ी दुखदाई भी है क्योंकि हमारी आत्माएं एक-दूसरे से बहुत जुड़ी हुई है। ऐसा इसलिए है क्योंकि दिल आप सबसे दूर जाने से इनकार कर रहा है यही स्थिति आप से दूर जाना मुश्किल बना रही है।

मैं चाहता हूं कि हमारी दोस्ती भविष्य में भी उतनी ही मजबूत रहे जितनी आज है और आप मेरे दोस्त यूँ ही बने रहें जैसे कल थे। मैं आप लोगों को बहुत ज्यादा याद करूँगा। हमारी दोस्ती अविश्वसनीय है और इसे आसानी से समझा नहीं जा सकता। हम एक ही आत्मा का एक हिस्सा साझा करते हैं और एक दूसरे के दिल में मिश्रित होकर रहते हैं मानो जैसे सबसे अच्छे मित्र।

कॉलेज का अंत या यह फेयरवेल/विदाई पार्टी हमें अलग नहीं कर सकती। हम इस भौतिक संबंधों से ऊपर और परे हैं। मैं इन 3 साल के आपके साथ गुजारे समय को एक यात्रा के रूप में याद रखना चाहूँगा जिस पर मैं व्यर्थ आसूँ नहीं बहाना चाहता क्योंकि यह यात्रा खत्म हो रही है। कृप्या मुस्करायें क्योंकि हमने साथ में यह हसीन सफ़र तय किया।

मैं सिर्फ यह कहना चाहता हूं कि "मुझे पता है कि हम जीवन भर मित्र बने रहेंगे और हमारे सपनों को एक साथ साझा करते रहेंगे। हम सब अपनी नई जिंदगी की ओर चलने के लिए तैयार हैं जिसके लिए हम अपने लक्ष्य से नहीं भटकेंगे पर ये यादें हमेशा के लिए बन जाएगी और यद्यपि हम विभिन्न जगहों और अलग-अलग यात्राओं के लिए रवाना हो रहे हैं पर फिर भी हम एक साथ हैं ... क्योंकि हमारे दिल की गहराई के भीतर ... ये यादें हमेशा के लिए बन गई हैं।"

मुझे तुम लोगों की बहुत याद आएगी। कृपया यूँ ही जुड़े रहें। मैं आप सबसे बहुत प्यार करता हूँ।

अलविदा! जल्द ही फिर से मिलेंगे और अधिक अविश्वसनीय क्षणों को एक साथ फिर से जिएंगे।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.