भारत में स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर निबंध

15 अगस्त को भारत में स्वतंत्रता दिवस के रुप में मनाया जाता है क्योंकि आज ही के दिन (15 अगस्त 1947) देश को अंग्रेजों के अत्याचारों से आजादी मिली थी, इसीलिए इस दिन को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है। स्वतंत्रता दिवस भारत के नागरिकों के लिए विशेष महत्व रखता है। यह दिन हमे आजादी के लिए स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा किए गए त्याग और बलिदान की याद दिलाता है।

स्वतंत्रता दिवस पर 10 वाक्य || स्वतंत्रता दिवस समारोह पर 10 वाक्य || स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर 10 वाक्य

15 अगस्त के महत्व पर छोटे तथा बड़े निबंध (Short and Long Essay on Importance of Independence Day/15 August in India in Hindi)

नीचे दिए गए विभिन्न तरीके के निबंध से आप स्वतंत्रता दिवस के महत्व को अच्छी तरह से समझ सकते है और अपने स्कूल और कॉलेज के प्रोजेक्ट में इस्तेमाल कर सकते हैं।

निबंध 1 (300 शब्द) - भारत में स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर निबंध (Essay on Importance of Independence Day of India in Hindi)

प्रस्तावना

स्वतंत्रता दिवस, 15 अगस्त, भारत के नागरिकों के लिए एक विशेष महत्व रखता है। यह वह दिन है जो हमें स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा किए गए बलिदानों की याद दिलाता है। यह हमारे अंदर देशभक्ति की भावना के साथ देश के लिए कुछ कर दिखाने की भावना को भी उत्तेजित करता है।

स्वतंत्रता सेनानियों का सम्मान (Honor of Freedom Fighters)

भारत दशकों से ब्रिटिश शासन के अधीन था। उस दौरान अंग्रेजों के अत्याचार समय के साथ बढ़ते चले जा रहे थें। बाल गंगाधर तिलक, शहीद भगत सिंह,  महात्मा गांधी, सरोजिनी नायडू, रानी लक्ष्मी बाई और सुभाष चंद्र बोस जैसे स्वतंत्रता सेनानियों के नेतृत्व में, भारत के नागरिकों ने एकजुट होकर अपनी आजादी के लिए संघर्ष किया। स्वतंत्रता सेनानियों के नेतृत्व द्वारा बहुत से आंदोलनों, स्वतंत्रता संग्रामों की शुरुआत की गई। इन आंदोलनों के कारण कई लोगों को अपने प्राणों की आहुती देनी पड़ी तो कईयों को जेल जाना पड़ा, हालांकि फिर भी लोगों ने ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ़ लड़ने की अपनी इस भावना को नहीं छोड़ा। स्वतंत्रता दिवस पर यह हमें उनके उन बलिदानों की याद दिलाता है और हमारे देश के नागरिकों के लिए विशेष महत्व रखता है।

आजादी का जश्न मनाएं पर सादगी के साथ (Celebrate Independence Day but with Simplicity)

स्वतंत्रता दिवस आजादी का जश्न मनाने के लिए एक विशेष दिन के रुप में है। भारत के नागरिक तथा स्वतंत्रता सेनानियों ने इस दिन हमारे देश को अंग्रेजों के अत्याचार से मुक्त कराने के लिए कड़ी मेहनत की थी।

इसलिए यह दिन हमें हमारी सादगी और वास्तविकता के करीब होने के महत्व की भी याद दिलाता है। यह हमें ऊंचे उड़ान भरने और स्वतंत्र महसूस करने के बावजूद भी बुनियादी रहने के लिए प्रेरित करता है।

निष्कर्ष

भारत के लोग उन लोगों के आभारी हैं जिन्होंने अपने देश की आजादी में अपना योगदान दिया। प्रत्येक वर्ष 15 अगस्त को हम भारतीय स्वतंत्रता दिवस मनाते आजादी, जो हमारी इतनी कठीनतापूर्वक प्राप्त आजादी को दर्शाता है, इसीलिए यह दिन हर भारतीय के लिए विशेष महत्व रखता है।

15 August 2021 Special: 15 अगस्त को ही आजादी क्यों मनाई जाती है? || 15 अगस्त को ही देशभक्ति क्यों उमड़ती है?

निबंध 2 (400 शब्द) - स्वतंत्रता दिवस उत्सव पर निबंध (Essay on 75th Independence Day Celebration 2021 in Hindi)

प्रस्तावना

स्वतंत्रता दिवस भारत में बहुत उत्साह के साथ मनाया जाता है और यह सभी भारतीय नागरिकों के लिए विशेष महत्व रखता है। इस दिन देश के विभिन्न स्थानों पर भारतीय ध्वज पर फहराया जाता है। कार्यालयों, स्कूलों, आवासीय समाजों और देश भर में अन्य स्थानों में कई छोटे और बड़े कार्यों का आयोजन किया जाता है। स्वतंत्रता दिवस समारोहों की कुछ मुख्य विशेषताएँ यहां दी गई हैं-

Essay on Importance of Independence Day in India in Hindi
  1. ध्वजारोहण (Flag Hoisting)

भारतीय ध्वज, तिरंगा फहराने के दौरान सभी लोग खड़े हो जाते हैं और राष्ट्रीय गान, जन, गण, मन प्रारम्भ हो जाता है। झंडा फहराने के साथ उत्सव की शुरुआत की जाती है।

  1. भाषण (Speech)

आमतौर पर मुख्य अतिथि या आयोजन समिति के कुछ सदस्यों द्वारा स्वतंत्रता दिवस पर भाषण दिया जाता है। आमतौर पर स्कूल, कॉलेजों में प्रिंसिपल द्वारा भाषण दिया जाता है। यह भाषण ब्रिटिश शासन से अपनी स्वतंत्रता और औपनिवेशिक भारत में रहने वाले लोगों द्वारा सामना की जाने वाली चुनौतियों के बारे में दिया जाता है।

  1. कविता और गीत गान (Poems and Songs)

इस कार्यक्रम में लोगों द्वारा कविता और देशभक्ति गीत प्रस्तुत किया जाता है और उन महान आत्माओं को याद किया जाता हैं। जिन्होंने निःस्वार्थ रूप से अपने जीवन का त्याग कर दिया, ताकि उनके देश के नागरिक स्वतंत्र रुप से रह सकें।

  1. प्रतियोगिताएं (Competitions on Independence Day Celebration 2021)

इस दिन बहस और प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती हैं और लोग इनमें सक्रिय रूप से भाग भी लेते हैं। इन प्रतियोगिताओं का विषय स्वतंत्रता दिवस पर ही आधारित होता है। यह प्रतिभागियों के साथ-साथ दर्शकों को भी देशभक्ति की भावना के करीब लाता है।

  1. सांस्कृतिक गतिविधियां (Cultural Activities)

स्वतंत्रता दिवस का आनंद लेने के लिए विभिन्न सांस्कृतिक गतिविधियां जैसे नृत्य और गायन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता हैं। प्रतिभागी आमतौर पर विभिन्न राज्यों के नृत्यों से मेल खाते रंगीन कपड़े पहनकर उसका प्रदर्शन करते हैं। पूरा प्रसंग इन गतिविधियों के दौरान मौज़-मस्ती के वातावरण से भर जाता हैं।

  1. मिठाईयों का वितरण (Distribution of Sweets)

स्वतंत्रता दिवस पर मिठाई के वितरण की परंपरा काफी पुरानी है। हालांकि, पहले के समय में इस दिन लड्डू वितरित किए जाते थे, परन्तु आज-कल लोगों के बीच विभिन्न प्रकार की मिठाईयों का वितरण किया जाता है। इन दिनों बाजार में सुंदर और स्वादिष्ट तिरंगे के रंग की मिठाइयां उपलब्ध होती हैं। ये आयोजन का जश्न मनाने के लिए विभिन्न स्थानों पर वितरित किए जाते हैं।

निष्कर्ष

इस दिन लोगों को ज्यादातर केसरिया, सफेद या हरे रंग या इन तीनो रंग के मेल से बने कपड़े पहने देखा जाता है। इस दिन तिरंगे के बैच, बालों के बैंड और कलाई बैंड पहनना अधिक आम होता है। इसके साथ ही इस दिन पूरा वातावरण देशभक्ति की भावना से भरा हुआ होता है।

निबंध 3 (500 शब्द) - स्वतंत्रता सेनानियों के योगदान पर निबंध (Essay on Contribution of Freedom Fighters)

प्रस्तावना

हम स्वतंत्र भारत के नागरिक अपने देश से बहुत प्यार करते हैं और इसका हिस्सा होने पर गर्व महसूस करते हैं। 15 अगस्त को मनाया जाने वाला स्वतंत्रता दिवस, हम सभी के लिए एक विशेष महत्व रखता है। यह देश भर के विभिन्न स्कूलों, कॉलेजों, कार्यालयों और अन्य स्थानों पर पुरे उत्साह के साथ मनाया जाता है। हम स्वतंत्रता दिवस उन लोगों की याद में मनाते हैं जिन्होंने हमें स्वतंत्रा दिलाने के लिए अपने प्राणों का बलिदान किया था। हालांकि, ऐसे और भी बहुत से विभिन्न कारण हैं जिनकी वजह से हम स्वतंत्रता दिवस के जश्न को बड़े ही धुमधाम के साथ मनाते हैं।

  1. स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि (Tribute to Freedom Fighters)

स्वतंत्रता दिवस मुख्य रुप से उन स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि देने के रुप में मनाया जाता है जिन्होंने अपने प्राणों की आहुती देकर हमारे देश को एक स्वतंत्र राष्ट्र बनाया। इस समारोह में हमारे स्वतंत्रता सेनानियों के वीर कार्यों को बताने तथा ब्रिटिश शासन से हमारे देश को मुक्त कराने के लिए के लिए भाषण दिए जाते हैं। उनकी प्रशंसा में अनेक गीत गाए जाते हैं और विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये जाते हैं।

  1. विनम्रता और आभार व्यक्त करना (Express Humility and Gratitude)

जिन लोगों ने ब्रिटिश शासनकाल के दौरान हुए इन अत्याचारों, नरसंहार और कठिनाइयों का सामना किया था वो आज के लोगों से ज्यादा विनम्र थें। उन्होंने उस दौरान जीवन की वास्तविक कठिनाइयों का सामना किया था। आज के युवा पीढ़ी में परोपकार और विनम्रता की भावना लगभग समाप्त होती जा रही है। स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम वास्तव में दुनिया की विभिन्न समस्याओं से लोगों को अवगत कराने तथा स्वतंत्रता सेनानियों द्वारा किए गए कार्यों और बलिदानों को याद दिलाने के साथ उनका आभार व्यक्त करने और उनसे प्रेरणा लेने के लिए आयोजित किये जाते हैं।

  1. स्वतंत्र भावना के जश्न का उत्सव (Celebration of Free Spirit)

स्वतंत्रता दिवस को आजादी की सच्ची भावना का जश्न मनाने के रुप में मनाया जाता है। स्वतंत्रता सेनानियों के प्रयासों के कारण हमारे देश को 1947 में आजादी मिली थी, तब उस दौरान लोगों के खुशी का ठिकाना नहीं रहा। क्योंकि उन्होंने अपनी सच्ची आजादी का अनुभव किया था और इसीलिए हर वर्ष 15 अगस्त के दिन स्वतंत्रा प्राप्ति के उपलक्ष्य में यह पर्व मानाया जाता है।

  1. अपने देश के लिए देशभक्ति की भावना को सदैव जीवित रखें (Always keep alive the spirit of patriotism for your country)

स्वतंत्रता दिवस के आसपास पूरा देश देशभक्ति की भावना से भर जाता है। देश तथा देश के स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति अपने प्यार और सम्मान को व्यक्त करने का ये एक शानदार दिन होता है।

  1. राष्ट्र की सेवा करने के लिए युवा पीढ़ी को प्रेरित करें (Inspire the Young Generation to Serve the Nation)

स्वतंत्रता दिवस समारोह युवाओं को राष्ट्र की सेवा करने के लिए प्रोत्साहित करने का एक अच्छा तरीका है। स्वतंत्रता सेनानियों के देश के प्रति उनके प्यार और समर्पण के अद्भुत कार्य युवा पीढ़ी में देशभक्ति की भावना पैदा करते हैं और जितना हो सके उतना उन्हें देश की सेवा करने के लिए प्रेरित करते हैं।

निष्कर्ष

इस प्रकार, स्वतंत्रता दिवस विभिन्न कारणों से मनाया जाता है। यथार्थ रुप से, स्वतंत्रता की भावना का आनंद लेने तथा देशभक्ति की भावना को जीवित रखने के लिए इस दिन को पुरे उत्साह के साथ मनाया जाता है। हमारे देश में स्वतंत्रता दिवस को राष्ट्रीय अवकाश के रुप में घोषित किया गया है, इसलिए यह अपनों के साथ मिलने का और जश्न मनाने का भी दिन होता है।

Essay on Importance of Independence Day in India in Hindi

निबंध 4 (600 शब्द) - स्वतंत्रता दिवस कैसे मनाया जाता है (How Indian Independence Day is Celebrated)

भारत में हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। हमारा देश लगभग 200 वर्षों से अंग्रेजों के शासन में उनका गुलाम था, अंततः बाद में ये उनके कब्जों से मुक्त हो गया और एक स्वतंत्र राष्ट्र बन गया और तभी से 15 अगस्त स्वतंत्रता की भावना का जश्न मनाने के लिए एक महत्मपुर्ण दिन बन गया। स्वतंत्रता दिवस उन स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धांजलि देने के लिए भी मनाया जाता है जिन्होंने देश को अंग्रेजों के अत्याचारों से मुक्त कराने के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया था।

स्वतंत्रता दिवस भारत के प्रत्येक नागरिकों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन होता है इसीलिए इस दिन को भारत के नागरिकों द्वारा बहुत उत्साह और साहस के साथ मनाया जाता है। यह स्कूल, कॉलेजों के साथ-साथ पूरे देश में भी बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है। देश के छात्रों और नागरिकों के लिए इसका क्या महत्व है?

स्कूल/कॉलेज में स्वतंत्रता दिवस समारोह (Independence Day Celebrations in School/College)

चूंकि 15 अगस्त एक राष्ट्रीय अवकाश है, इसीलिए इस समारोह को पुरे देश के अधिकांश स्कूलों और कॉलेजों में एक दिन पहले आयोजित किया जाता है। स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों में स्वतंत्रता दिवस के समारोह को पूरी हर्षो-उल्लाष के साथ मनाया जाता है। देश भर के कई स्कूल और कॉलेजों में स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहराने, भाषण देने, बहस और प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिताएं, नृत्य, कविता पाठ और कई अन्य सांस्कृतिक गतिविधियां और समारोह आयोजित किये जाते हैं।

छात्र भी इन गतिविधियों में बढ़-चढ़ कर भाग लेते हैं और इसका पुरा आनंद उठाते हैं। इन कार्यक्रमों में प्राथमिक छात्रों द्वारा स्वतंत्रता सेनानियों के जैसे कपड़े पहनकर मनमोहक कार्यक्रम किये जाते हैं। ये सारी गतिविधियां छात्रों को देश की संस्कृति और परंपरा करीब ले आती हैं और उनके अंदर देशभक्ति की भावना का संचार करती हैं।

कार्यालयों में स्वतंत्रता दिवस समारोह (Independence Day Celebrations in Government Offices)

कार्यालयों में स्वतंत्रता दिवस के उत्सव एक दिन पहले ही आयोजित किया जाता है। कार्यालयों में, कर्मचारियों को आमतौर पर स्वतंत्रता दिवस के विषय से सम्बन्धित भगवा, सफेद या हरे रंग की पोशाक पहनने के लिए कहा जाता है। लोगों को इस दिन वर्णित रंगों में विशिष्ट संस्कृतिक कपड़े पहने हुए देखा जाता है और पूरे वातावरण को अत्यंत मनोहर बनाया जाता है।

देश भर के कई कार्यालयों में ध्वजारोहण भी किया जाता है। कुछ कार्यालयों में भाषण देने के साथ-साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं। कर्मचारियों के बीच रिश्तो को मजबूत करने के लिए विशेष खानपान का भी आयोजन किया जाया हैं। जिसमें तिरंगे रंग का चावल और मिठाई इस लंच का मुख्य रुप से हिस्सा होती हैं।

आवासीय क्षेत्रों में स्वतंत्रता दिवस समारोह (Independence Day Celebrations in Residential Areas)

विभिन्न आवासीय क्षेत्रों के संगठनों द्वारा इस दिन स्वतंत्रा दिवस कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। लोग स्वतंत्रता दिवस पर सुबह के समय अपने घरों के आस-पास के पार्कों में जश्न मनाने के लिए इकट्ठा होते हैं। वे स्वतंत्रता दिवस के रंगरुप अनुसार पोशाक धारण करते हैं और विभिन्न आयोजित गतिविधियों में भाग लेते हैं। झंडा फहराने तथा राष्ट्रीय गान के साथ इस पूरे कार्यक्रम की शुरुआत की जाती है।

उत्सव के दौरान पूरा वातावरण देशभक्ति के गीत से गुंज उठता है और लोग देशभक्ति की भावना में सराबोर दिखाई देते हैं। इन कार्यक्रमों के दौरान नृत्य और कविता पाठ जैसी प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती है। बच्चों को जवाहरलाल नेहरू, सरोजिनी नायडू, भगत सिंह इत्यादि जैसे स्वतंत्रता सेनानियों के जैसे कपड़े पहनाकर फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाता हैं। लोग इन कार्यक्रमों के समाप्त होने के बाद एक साथ बैठकर भोजन का आनंद लेते हैं।

पतंगबाजी (Kite Flying)

हमारे देश के कई हिस्सों में स्वतंत्रता दिवस पर पतंगबाजी कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाता है। आकाश में स्वतंत्र रूप से उड़ान भरने वाले रंगीन पतंग को स्वतंत्रता का प्रतीक माना जाता है। पतंग उड़ाने के कार्यक्रमो का आनंद लेने के लिए लोग अपनी छतों पर या अपने आस-पास के मैदानों में जाते हैं। वे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को भी इस कार्यक्रम का आनंद लेने के लिए आमंत्रित करते हैं। पतंग उड़ान प्रतियोगिताओं को विभिन्न स्थानों पर भी आयोजित किया जाता है और लोग इसमे पूर्ण उत्साह के साथ भाग लेते हैं क्योंकि यह बहुत मनोरंजक होता है।

निष्कर्ष

स्वतंत्रता दिवस भारत के प्रत्येक नागरिक के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन होता है, यह दिन हमारी आज़ादी का जश्‍न मनाने और उन सभी शहीदों को श्रद्धांजलि देने का अवसर होता जिन्‍होंने इस महान कार्य के लिए अपने जीवन का बलिदान कर दिया। उनकी याद में स्वतंत्रता दिवस को पूरे देश भर में अत्यधिक उत्साह के साथ मनाया जाता है।

संबंधित जानकारी:

स्वतंत्रता दिवस

स्वतंत्रता दिवस पर निबंध

स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

स्वतंत्रता दिवस पर स्लोगन

स्वतंत्रता दिवस पर कविता

FAQs: Frequently Asked Questions

प्रश्न 1 – स्वतंत्रता दिवस क्यों मनाया जाता है?

उत्तर – स्वतंत्रता दिवस, देश को आजाद करने में किए गए संघर्षों को याद करने के लिए मनाया जाता है।

प्रश्न 2 – भारत के स्वतंत्रता की घोषणा किसने की थी?

उत्तर – भारत के स्वतंत्रता की घोषणा प. जवाहरलाल नेहरू ने की थी।

प्रश्न 3 – 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रता समारोह में कौन मौजूद नहीं था?

उत्तर – 15 अगस्त 1947 को स्वतंत्रता समारोह में महात्मा गांधी मौजूद नहीं थें।

प्रश्न 4 – भारत के पहले स्वतंत्रता दिवस पर जवाहरलाल नेहरू ने कौन सा भाषण दिया था?

उत्तर - भारत के पहले स्वतंत्रता दिवस पर जवाहरलाल नेहरू ने “ट्रिस्ट विद डेस्टिनी” नामक भाषण दिया था।