रक्तदान पर स्लोगन (नारा)

रक्तदान का अर्थ है स्वेच्छा से अपने रक्त को दान करना, ताकि वह किसी जरुरतमंद के काम आ सके। इसके साथ ही प्राप्त रक्त का उपयोग फ्रैकशेनेशन के द्वारा दवा बनाने में भी किया जाता है।

हालांकि विकसित देशो के अपेक्षा गरीब और विकासशील देशो में रक्तदान जरुरत के अपेक्षा काफी कम किया जाता है, सामान्यतः जरुरत होने पर प्राप्तकर्ता के मित्रों, घरवालो या रिश्तेदारों द्वारा किया जाता है। भारत और तमाम विकासशील देशो में स्वेच्छा से रक्तदान ना करने के कारण हमेशा रक्त के कमी की स्थिति बनी रहती है।

विश्व रक्त दाता दिवस पर अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

रक्तदान पर नारा (Slogans on Blood Donation in Hindi)

ऐसे कई अवसर आते हैं जब आपको रक्तदान से जुड़े भाषणों, निबंधो या स्लोगन की आवश्यकता होती है। यदि आपको भी रक्तदान से जुड़े ऐसे ही सामग्रियों की आवश्यकता है तो परेशान मत होइये हम आपकी मदद करेंगे।

हमारे वेबसाइट पर रक्तदान से जुड़ी तमाम तरह की सामग्रियां उपलब्ध हैं, जिनका आप अपनी आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते हैं।

हमारे वेबसाइट पर रक्तदान के लिए विशेष रुप से तैयार किए गये कई सारे स्लोगन उपलब्ध हैं। जिनका उपयोग आप अपने भाषणों या अन्य कार्यों के लिए अपनी आवश्यकता के अनुसार कर सकते हैं।

ऐसे ही अन्य सामग्रियों के लिए भी आप हमारे वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं।

Unique and Catchy Slogans on Blood Donation in Hindi Language

 

रक्तदान का करो कार्य, इसके बिना नही कोई पुण्य स्वीकार्य।

 

रक्तदान का करो कार्य, इसके बिना नही कोई पुण्य स्वीकार्य।

 

स्वेच्छा से करो रक्तदान, जीवन में पाओ महान स्थान।

 

स्वेच्छा से करो रक्तदान, जीवन में पाओ महान स्थान।

 

रक्तदान है महादान, इससे बड़ा न कोई दान।

 

रक्तदान है महादान, इससे बड़ा न कोई दान।

 

रक्तदान जरुरी है, ये जन कल्याण की धुरी है।

 

रक्तदान जरुरी है, ये जन कल्याण की धुरी है।

 

आपके 20  मिनट का रक्तदान, किसी के लिए है जीवनदान।

 

आपके 20 मिनट का रक्तदान, किसी के लिए है जीवनदान।

 

 

चलो करें हम रक्तदान, और बनें देश का हम अभिमान।

 

चलो करें हम रक्तदान, और बनें देश का हम अभिमान।

 

हर किसी को प्रेरित करें रक्तदान के लिए, ये अत्यंत जरुरी है जीवनदान के लिए।

 

हर किसी को प्रेरित करें रक्तदान के लिए, ये अत्यंत जरुरी है जीवनदान के लिए।

 

छोड़ के सारे दूसरे काम, चलो करें हम रक्तदान।

 

छोड़ के सारे दूसरे काम, चलो करें हम रक्तदान।

 

रक्तदान अपनाएंगे, खुद की पहचान बनाएंगे।

 

रक्तदान अपनाएंगे, खुद की पहचान बनाएंगे।

 

रक्त की हर एक बूँद जरूरी, रक्तदान से होगी मानवता पूरी।

 

रक्त की हर एक बूँद जरूरी, रक्तदान से होगी मानवता पूरी।

 

 

गांव शहर सबको समझाएं, रक्तदान के फायदे बताएं।

 

एक कदम रक्तदान, आपके मानवता की है पहचान।

 

आपके 20  मिनट का रक्तदान, किसी के लिए है जीवन दान।

 

ना जाने कितने लोगो के दुखो का करोगे समाधान वर्ष मे एक बार अवश्य करो रक्तदान।

 

रक्तदान करो, जीवन में अनगिनत रंग भरो।

 

रक्तदान देकर किसी मरते को बचा सकते हो, इस कार्य से तुम कितने जीवन सवार सकते हो।

 

रक्तदान में ना करो संकोच, रक्त दान करो निःसंकोच।

 

रक्तदान करके जीवन का सम्मान करो, आदर सत्कार से लोगो के जीवन में रंग भरो।

 

रक्तदान के ओर कदम बढ़ाओ, जरुरतमंदो के जीवन में खुशिया लाओ।

 

रक्तदान से होता है स्वास्थ्य अच्छा, इससे कर पाओगे लोगो के जीवन की रक्षा।

 

रक्तदान ना करना है बहुत क्षतिपूर्ण, क्योंकि इसका हर कतरा है महत्वपूर्ण।

 

रक्तदान का करो फैसला, जीवन में अपने भरो हौंसला।

 

रक्तदान का दो उपहार, जरुरमंदो के जीवन में लाओ खुशिया और प्यार।

 

रक्तदान को ना बनाओ मजबूरी, रक्तदान है बहुत जरुरी।

 

रक्तदान का मार्ग अपनाओ, अपने इस कार्य से अनगिनत जिंदगिया बचाओ।

 

रक्तदान करके जरुरतमंदो को दो प्यार, पाओ अनगिनत खुशियां और प्यार।

 

आपका रक्तदान कई जिंदगिया बचा सकता है, मौत से जूझ रहे लोगो को जीवन दिला सकता है।

 

रक्तदान करना किसी तीर्थ करने से कम नही है।

 

रक्तदान करके हम देश के अनगिनत लोगो के जीवन की रक्षा कर सकते है।

 

रक्तदान भी वर्तमान समय में गौ दान से कम नही है।

 

रक्तदान करके स्वस्थ्य बनो, शरीर में शुद्ध रक्त का संचार करो।

 

रक्तदान करके हम किसी के जीवन को बचा सकते है।

 

रक्त है ईश्वर का वरदान, वर्ष में एक बार इसे तुम अवश्य करो दान।

 

अपने रगो में बहते लहु का करो उपयोग, इसको दान करके करो इसका सदुपयोग।

 

रक्तदान करके जरुरतमंदो को दो जीवनदान, क्योंकि यह कार्य है सबसे महान।

 

शरीर में बह रहे लहु का करो उपयोग, दान करो इससे बचाओ जिंदगियां अनेक।

 

रक्तदान करके सम्मान पाओ, अपने कार्य से लोगो का जीवन बचाओ।

 

 

More Information:

अंग दान पर भाषण

अंग तस्करी पर भाषण