महिला सशक्तिकरण पर स्लोगन (नारा)

महिला सशक्तिकरण का संबंध महिलाओ के तरक्की और पुरुष प्रधान समाज में उन्हें बराबरी का स्थान दिलाने से है। विश्व भर में महिलाओं और पुरुषो की आबादी समान होते हुए भी उन्हे बराबर का सम्मान नही मिलता और यह समस्या सिर्फ भारत में ही नही अपितु पूरे विश्व में व्याप्त है। महिला सशक्तिकरण के अंतर्गत शोषण के विरुद्ध आवाज उठाना और सामाजिक सम्मान जैसे प्रमुख मुद्दे आते है, जिन पर गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है।

ऐसे कई अवसर आते हैं जब आपको महिला सशक्तिकरण से जुड़े भाषण, निबंध या नारा की आवश्यकता होती है। यदि आपको भी महिला सशक्तिकरण से जुड़े ऐसे ही सामग्रियों की आवश्यकता है तो परेशान मत होइये हम आपकी मदद करेंगे। हमारे वेबसाइट पर महिला सशक्तिकरण से जुड़ी तमाम तरह की सामग्रियां उपलब्ध हैं, जिनका आप अपनी आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते हैं।

महिला सशक्तिकरण पर नारा (Slogans on Women Empowerment in Hindi)

हमारे वेबसाइट पर महिला सशक्तिकरण के लिए विशेष रुप से तैयार किए गये कई सारे स्लोगन उपलब्ध हैं। जिनका उपयोग आप अपने भाषणों या अन्य कार्यों के लिए अपनी आवश्यकता के अनुसार कर सकते हैं। ऐसे ही अन्य सामग्रियों के लिए भी आप हमारे वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं।

Unique and Catchy Slogans on Women Empowerment in Hindi Language

महिला सशक्तिकरण पर अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

 

सम्मान प्रतिष्ठा और प्यार, महिला सशक्तिकरण के है आधार।

 

महिला शक्ति का परचम दिखाना है, महिलाओं को आगे बढ़ाना है।

 

महिलायें आगे बढ़ रही है, हर कुरितियों से लड़ रही है।

 

महिला सशक्तिकरण का नारा है, समाज को तरक्की के मार्ग पर लाना है।

 

महिलाएं है देश की तरक्की का आधार, उनके प्रति बदलो अपने विचार।

 

महिलाएं देश को आगे बढ़ाती है, समाज को तरक्की के राह पर लाती है।

 

स्त्री का दर्जा सबसे बड़ा, इसका त्याग है सबसे बड़ा।

 

कभी माँ तो कभी बहन बनकर दुलारती है, महिला ना जाने कितने जीवन संवारती है।

 

महिलाओं की शक्ति को कम मत समझो, इनकी शक्ति को वहम मत समझो।

 

कल्पना चावला बनकर वह अंतरिक्ष माप चुकी है, महिला आज के वक्त में हर बाधा पार कर चुकी है।

 

महिला है समाज का आईना, इसका जीवन पूरी करता सबकी कामना।

 

महिला अबला नही सबला है, जीवन कैसे जीना यह उसका फैसला है।

 

नारी है सर्वस्व विधाता, उससे ही सारा संसार जीवन पाता।

 

आओ मिलकर करे उन्हे नमन, जिन्होंने दिया मानवता को जीवन।

 

महिलओं ने ठाना है, महिला सशक्तिकरण को अपनाना है।

 

महिलाओं को सम्मान दिलाना है, महिला सशक्तिकरण के संदेश को सबतक पहुंचाना है।

 

महिला सशक्तिकरण के सपने को पूरा करना है, तरक्की के राह पर आगे बढ़ना है।

 

महिलाओं को सशक्त करना है, मानवता में नया रंग भरना है।

 

महिलाओ को बराबरी का स्थान प्रदान किए बिना भारत की तरक्की संभव नही है।

 

भारत में यदि नारी जाति को उचित सम्मान नही मिला तो देश की दुर्दशा निश्चित है।

 

नारी को दो उचित सम्मान, क्योंकि सारे देव है इसमे विद्यमान।

 

महिलाओं का ना करो निरादर, देश की तरक्की के लिए जरुरी है इनका आदर।

 

महिलाओं ने यह ठाना है, शोषण के विरुद्ध आवाज उठाना है।

 

महिलाओं को अपना स्वाभिमान जगाना है, देश को तरक्की के ओर बढ़ाना है।

 

नही सहना है अत्याचार, महिला सशक्तिकरण का यही है मुख्य विचार।

 

सम्बंधित जानकारी:

महिला सशक्तिकरण पर भाषण

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर भाषण

महिला सशक्तिकरण पर निबंध

महिलाओं की सुरक्षा पर निबंध

महिलाओं की स्थिति पर निबंध

महिलाओं की समाज में भूमिका पर निबंध

महिला शिक्षा पर निबंध

महिलाओं के विरुद्ध हिंसा पर निबंध

महिला सशक्तिकरण पर लेख