समय का मूल्य पर भाषण

हम सभी समय के मूल्य को जानते हैं लेकिन कई बार इसकी गति को पकड़ने में असफल रहते हैं जिससे अंत में हमें अपनी विफलता पर पछतावा होता है। हर किसी के लिए समय महत्वपूर्ण है चाहे वह छात्र हो, पेशेवर हो, राजनीतिज्ञ हो या कोई गृहिणी हो। कोई भी समय का मूल्य की अनदेखी नहीं कर सकता क्योंकि अगर समय बदलने लगा तो कुछ भी हासिल नहीं किया जा सकता। इस प्रकार इस विषय के महत्व को ध्यान में रखते हुए हमने समय का मूल्य पर विभिन्न भाषणों को कवर किया है। हमारे दोनों भाषण अर्थात् समय का मूल्य पर लंबे और छोटे भाषण व्यापक और समझने में आसान है। वे सभी अवसरों के लिए एक संदर्भ बिंदु के रूप में इस्तेमाल किए जा सकते हैं - चाहे वह आपके स्कूल का होमवर्क हो या कहीं भाषण देने का समारोह हो या फिर लेख लिखना आदि हो।

समय का मूल्य पर लंबे और छोटे भाषण (Long and Short Speech on Value of Time in Hindi)

समय का मूल्य पर भाषण 1

प्यारे माता-पिता और मेरे सभी अद्भुत मित्रों - आप सभी को मेरी ओर से नमस्कार!

सबसे पहले मैं इस शानदार पार्टी को व्यवस्थित कर मेरे माता-पिता को अपने दिल से मुझे सम्मानित करने के लिए उनका धन्यवाद देता हूं। मुझे पता है कि 12वीं बोर्ड परीक्षा में मेरे 90 प्रतिशत अंकों को देखकर मेरे माता-पिता मुझसे भी ज्यादा खुश हैं। दूसरा मैं अपने सभी दोस्तों को उपस्थिति दर्ज करा इस अवसर को मनाने के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं क्योंकि यह उत्सव दोस्तों के बिना पूरा नहीं हो सकता था।

अपने माता-पिता के चेहरे पर ख़ुशी और गर्व को महसूस करने से ज्यादा महत्वपूर्ण और कोई खुशी नहीं है। मुझे यह सफ़लता अपने माता-पिता की वजह से मिली है जिन्होंने मुझे समय का मूल्य सिखाया है। अगर उन्होंने परीक्षा की तैयारी में मेरा मार्गदर्शन और मुझे प्रेरित नहीं किया होता तो यह सफलता संभव नहीं होती।

आज के अवसर पर अपने माता-पिता का शुक्रिया अदा करने के अलावा मैं समय का मूल्य के बारे में बात करना चाहता हूं ताकि मेरे दोस्त यहाँ इस उत्सव से घर वापस खली हाथ ना जाएँ। दोस्तों समय जीवन में सबसे मूल्यवान चीज है और यदि आप समय को नष्ट करेंगे तो समय आपको नष्ट कर देगा। समय सबसे शक्तिशाली है और यदि आप इसका बुद्धिमानी से इस्तेमाल करते हैं तो सफलता निश्चित ही आपके क़दमों को चूमेगी।

बेशक कठिन काम का महत्व सर्वोच्च है लेकिन अगर आपके पास अच्छा समय प्रबंधन कौशल नहीं है तो आपकी हर योजना में गिरावट आ सकती है और आपके पास आपके बचाव में कुछ भी नहीं रहेगा। इसलिए गुज़रते समय पर तेज़ नजर रखना और तदनुसार अपने सभी महत्वपूर्ण कार्यों का प्रबंधन करना अति महत्वपूर्ण है। परिणाम घोषित होने के बाद लगभग सभी ने मुझसे एक ही सवाल पूछा यानी विभिन्न सह-पाठ्यचर्यागत गतिविधियों का हिस्सा होने के बावजूद भी मैंने अपनी पढ़ाई का प्रबंधन कैसे किया? मेरा जवाब था कि इस सफ़लता के पीछे का रहस्य मेरे माता-पिता द्वारा सिखाया अच्छा समय प्रबंधन कौशल है। पूरे दिन के लिए समय प्रबंधन करना मुश्किल नहीं है क्योंकि सभी पूरे दिन के लिए एक कार्यक्रम तैयार करते हैं और तदनुसार कार्य करते हैं। वास्तव में समय सारणी के अभाव में एक दिन का कार्य प्रबंधन करना मुश्किल हो जाता है और सब कुछ अराजक लगता है।

मेरी राय में एक अच्छी समय सारिणी ही आपके सारे दिन की गतिविधियों का ख्याल रखती है और यह सुनिश्चित करती है कि आप दिन की किसी भी महत्वपूर्ण गतिविधि को ना छोड़ें। बस अपने दिन की गतिविधियों के अनुसार समय स्लॉट्स तैयार करें और अपने विवेक का उपयोग करते हुए प्रत्येक दिन के काम के लिए समय दें। समय सारणी तैयार करने या एक कार्यक्रम का अनुसरण करने का यह मतलब नहीं है कि आप अपनी सभी पसंदीदा गतिविधियों को छोड़ दें और सिर्फ़ अध्ययन में अपना पूरा समय समर्पित करें। इसका मतलब है कि एक दिन के 24 घंटों का उपयोग इस तरह करें कि किसी भी गतिविधि की अनदेखी ना हो।

एक उचित समय सारणी का उपयोग करने के बाद आपको पता चल जाएगा कि सब कुछ सही चल रहा है और आप अपनी पढ़ाई को प्रभावित किए बिना अपनी सभी पसंदीदा गतिविधियों का आनंद उठा सकते हैं। कृपया आश्चर्यचकित न हो और अपने लिए इस तरह के अभ्यास का प्रयास करें और अपने जीवन में एक सार्थक बदलाव लाएं।

मुझे बस इतना ही कहना था! अब मैं अपने सभी मेहमानों से पार्टी और डिनर का आनंद लेने का अनुरोध करता हूं।

धन्यवाद!

 

समय का मूल्य पर भाषण 2

माननीय प्रधानाचार्य, उपाध्यक्ष, शिक्षकगण और हमारे प्यारे छात्रों - आप सभी को मेरी ओर से सुप्रभात!

मैं, आपकी अंग्रेजी शिक्षक नंदिनी सेन, आपके बहुमूल्य समय से कुछ मिनट लेना चाहूंगी क्योंकि प्रार्थना सभा अब खत्म हो गई है। छात्रों हमने आज के लिए एक छोटा भाषण समारोह आयोजित किया है और भाषण समारोह का विषय "समय का मूल्य" है। हम सभी जानते हैं कि आपकी बोर्ड की परीक्षाएं आ रही हैं और शायद 2 महीने ही बचे हैं। आप सभी को परीक्षा की तैयारी के बारे में चिंतित होना चाहिए कि क्या आप अपनी उम्मीदों और अपने माता-पिता की अपेक्षाओं पर खरे उतर पाएंगे या नहीं।

यह निश्चित रूप से आपके लिए आसान समय नहीं है - ज्यादातर छात्रों के लिए करो या मरो की स्थिति की तरह है जिन्हें इस समय सचमुच परीक्षा का बुखार चढ़ गया है। हालांकि मैं यह कहना चाहूंगा कि एक निश्चित बिंदु तक परीक्षाओं के बारे में चिंतित होना अच्छा है लेकिन तनाव में पूरी तरह से फंसना अच्छा नहीं है। इस समय आपको बिल्कुल भी परेशान नहीं होना चाहिए और अपने समय प्रबंधन की क्षमता को बेहद महत्व देना चाहिए क्योंकि अधिक कुशलता से आप समय का उपयोग करेंगे जिससे आपकी परीक्षा में आप पर सकारात्मक असर पड़ेगा।

ऐसा कहा जाता है कि जल्दबाजी काम ख़राब करती है इसलिए आपके वरिष्ठ शिक्षक और सभी शिक्षकों की तरफ से मैं यह कहना चाहती हूं कि आपको परीक्षा की तैयारी में शांत मन के साथ लिप्त होना चाहिए बजाए एक बार में पूरे पाठ्यक्रम को समाप्त करने के इरादे से। मैं बार-बार कह रही हूं कि अपना समय कुशलता से प्रबंधित करें और प्रत्येक विषय को पर्याप्त समय दें। सुनिश्चित करें कि प्रत्येक विषय को दिया गया समय आपके उस दिन के निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए पर्याप्त हो। समय सारिणी तैयार करने के बाद यह आपका कर्तव्य है कि आप अपनी जिम्मेदारी पूरी ईमानदारी से निभाएं। आपकी तरफ से छोटी सी भी लापरवाही की आपको भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है।

ऐसा कहा जाता है कि समय और ज्वार किसी का इंतजार नहीं करते इसलिए इस समय का सबसे ज्यादा फायदा उठाएं क्योंकि यह समय आपके जीवन में फिर से कभी नहीं आएगा और अगर आपने इसका कुशलतापूर्वक उपयोग नहीं किया तो आपको सारी उम्र केवल अफसोस ही रहेगा। यह 2 महीने का समय आपको परीक्षा की तैयारी का लाभ उठाने और आपको अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करने के लिए पर्याप्त है। यदि आप समय पर विजय प्राप्त करते हैं तो सब कुछ संभव है। तो इस समय को अपने हाथ से ना जाने दें और इसका बुद्धिमानी से उपयोग करें।

अध्ययनों के अलावा कुछ ताज़ा गतिविधियों के लिए भी समय निकाले जो आपके शरीर और आत्मा दोनों को फिर से जीवंत कर देते हैं। एक प्रभावी समय प्रबंधन वह है जो पूरे दिन आपको पढ़ाई के अलावा अन्य अपनी पसंदीदा गतिविधियों का आनंद लेने की अनुमति देता है। इस प्रकार इस तरीके से आपका मन तथ्यों और अवधारणाओं को अवशोषित करने के लिए बेहतर तरीके से तैयार रहेगा। समय को महत्व दें और समय आपको महत्व देगा - यह एक सरल लेने और देने का रिश्ता है। अपने सर्वोत्तम निर्णय का उपयोग करके अपने समय का प्रबंधन करना सीखें और दिन के किसी भी महत्वपूर्ण काम को कभी भी नज़रअंदाज़ ना करें क्योंकि काम की संपूर्ण लापरवाही आप को भारी नुकसान पहुँचा सकती है।

आपके शिक्षकों और सलाहकारों के रूप में हमारा यह कर्तव्य है कि आपको खतरे से दूर रखें और आपको सही रास्ता चुनने में मदद करें जिससे आप अपने सपनों के करीब आ जाएंगे। अब यदि आपके कोई प्रश्न या संदेह है तो कृपया पूछने में संकोच ना करें।

धन्यवाद!

 

समय का मूल्य पर भाषण 3

सम्मानित वरिष्ठ प्रबंधक, प्रबंधक और मेरे प्रिय सहयोगियों – आप सभी को मेरी ओर से प्रणाम!

मैं बेहद अभिभूत हूं क्योंकि आज का दिन मेरा कार्यालय में अंतिम दिन है। भाषण देने से पहले कृपया मुझे इस तरह की अद्भुत पार्टी देने के लिए आप सभी का धन्यवाद करने की अनुमति दें। मैं अपने सभी वरिष्ठ प्रबंधकों और प्रबंधकों को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने मेरे व्यक्तित्व और मुझे एक ऐसे व्यक्ति के रूप में विकसित करने में सहायता की जो अब चुनौतियों को स्वीकार करने में डरता नहीं है और समय सीमा से पहले ही किसी भी कार्य को प्रभावी ढंग से पूरा कर सकता है। मैं अब वह व्यक्ति नहीं हूँ जो अपने वरिष्ठों की सलाह के बिना था।

मैं अपने वरिष्ठों के अलावा मेरी टीम के सदस्यों और मेरे दोस्तों का भी शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ जिन्होंने हर समय मुझे समर्थन किया है। चाहे वह किसी त्रुटि को ठीक करना हो, समय-सीमा से पहले काम निपटाना हो, चुनौतीपूर्ण कार्य को स्वीकार करना या संकट के समय अपने कामकाज के घंटों को लंबा करना हो - मुझे हमेशा आपकी तरफ से विशाल समर्थन प्राप्त हुआ है। हालांकि एक बार ऐसा समय भी था जब मैं असफल हो गया और अपेक्षाओं के अनुसार अपनी क्षमता का प्रदर्शन नहीं कर पाया। इससे पहले काम के प्रति मेरा दृष्टिकोण लापरवाही भरा और बहुत ही गैर-जिम्मेदाराना हुआ करता था। इसके बावजूद मैंने अपनी पिछली विफलताओं से बहुत कुछ सीखा और जीवन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण सबक मिला अर्थात् समय का मूल्य।

तो आज का मेरा भाषण किसी आम विषय पर नहीं है बल्कि समय के मूल्य पर है। मेरा इस विषय को चुनने का कारण यह है कि मैं चाहता हूं कि हर कोई समय का मूल्य को पहचाने और यह समझें कि सब कुछ जो हम चाहते हैं उसके लिए हमें दृढ़ संकल्प लेना होगा और समय के मूल्य पहचानना होगा। समय जैसा कि हम सभी जानते हैं हमारे जीवन का एक बेहद महत्वपूर्ण किरदार है क्योंकि यह हमें दिन-प्रतिदिन की गतिविधियों को व्यवस्थित करने या संगठित करने में सक्षम बनाता है। किसी के लिए भी समय के गुजरने के परिणामों से बचना संभव नहीं है। इसके अलावा हम सभी नश्वर प्राणियों और बुढ़ापे से ग्रस्त हैं। इसलिए हम समय की अनदेखी नहीं कर सकते। यदि कोई समय का बुद्धिमानी से उपयोग करता है तो वह अनुभव कमाता है और समय रहते कौशल को हासिल करने में सक्षम हो जाता है। समय घाव भी भरता है चाहे वह बाहरी घाव हो या आंतरिक हो और अंततः समय ही एकमात्र उपाय है। काम जो समय पर किए जाते हैं उनके उपयोगी परिणाम मिलते हैं और आप जीवन में सफल होते हैं।

इसलिए जिस दिन के बाद से मैंने समय का मूल्यांकन करना शुरू कर दिया और एक उचित समय सारिणी का पालन शुरू किया उस दिन मुझे एहसास हुआ कि चीजें वास्तव में बहुत व्यवस्थित हो गई हैं। सही कहूँ तो मैंने अपना काम और जीवन शैली का आनंद लेना शुरू कर दिया। इसने अंततः मेरे मनोबल को बढ़ाया जिससे मैंने खुद के बारे में आत्मविश्वास महसूस किया। समय सारिणी का पालन करने के बाद मैंने अपनी सारी समस्याओं का समाधान पाया और वास्तव में इसने मेरे जीवन के लिए एक उद्देश्य की भावना दी। यदि समय घाव भरता है तो यह घाव देने की भी क्षमता रखता है।

इस प्रकार हर व्यक्ति को कभी भी समय बर्बाद नहीं करना चाहिए क्योंकि एक बार समय के गुज़रने के बाद वह समय फिर से दोबारा कभी नहीं आएगा। आज जो है जरुरी नहीं कि कल वह हो इसलिए समय रहते इसका फायदा उठाएं। मैं आशा करता हूं कि मेरे सभी दोस्त सुन रहे हैं और जो लोग समय को गंभीरता से नहीं लेते हैं वे घर वापस जाकर एक सबक लेंगे और समय सारिणी का पालन करने के लिए तैयार होंगे।

अब मैं अपने वरिष्ठ प्रबंधक और प्रबंधक को मंच पर आने और मेरे अंतिम दिन पर कुछ शब्द कहने का का अनुरोध करता हूं। मुझे आशा है कि इस संगठन में हर किसी की यात्रा मुझ जितनी लाभप्रद होगी और आप आने वाले दिनों में सफलता की महान ऊंचाइयों तक पहुंचेंगे।

धन्यवाद!


 

समय का मूल्य पर भाषण 4

सम्मानित सोसाइटी के सदस्यों और हमारे प्रिय बच्चों – गुड इवनिंग! मैं आपका अपने समाज की द्वि-मासिक सभा में स्वागत करता हूं।

हमारे वत्सली अपार्टमेंट के सचिव होने के अलावा मैं एक शिक्षक भी हूं और यह देख कर बेहद निराश हूं कि हमारे समाज के बच्चे अपने अध्ययन के प्रति ध्यान नहीं दे रहे हैं और अपना समय बर्बाद कर रहे हैं। जब आप स्कूल से वापस आते हैं तो मैं आप सभी को उस वक़्त तक खेल के मैदान में देखता हूं जब तक कि अंधेरा नहीं हो जाता और फिर आप सब घर जाकर खाना खाकर अपने बिस्तर पर सोने चले जाते हैं। अपनी ट्यूशन कक्षाओं में जाने के अलावा मैंने हमेशा आप सबको खेलते हुए देखा है।

खेल में संलग्न होना और अपनी पसंदीदा गतिविधियों का आनंद लेना अच्छा है लेकिन गुजरने वाले समय पर नजर रखना भी समान रूप से महत्वपूर्ण है। यदि आप अपने समय का सही उपयोग नहीं करेंगे और केवल खेलते रहेंगे तो आप अपनी पढ़ाई में पीछे रह जायेंगे जिससे अंततः आपको भविष्य में गंभीर नतीजों का सामना करना पड़ सकता है। तो आज मुझे आपको समय का मूल्य के बारे में बताने का मौका दें और यह भी जानने का प्रयास करें कि समय को उचित मूल्य देना क्यों महत्वपूर्ण है।

हालांकि समय की शुरुआत नहीं है और न ही इसका अंत है फिर भी हम इसे सेकंड, मिनट, घंटे, दिन, महीनों और वर्षों के संदर्भ में माप सकते हैं। समय के साथ जुड़े दूसरे शब्द भी हैं जैसे भूतकाल, वर्तमान  और भविष्य। समय कभी स्थिर ना होकर हमेशा चलता रहता है। जो आज है जरुरी नहीं कि वह कल भी हो इसलिए अपने वर्तमान में समय का सबसे ज्यादा फायदा उठाईये। ऐसा कहा जाता है कि "जब लोहा गर्म हो तभी हथौड़ा मारना चाहिए" इसका अर्थ यह है कि अगर आप समय को बर्बाद करते हैं तो समय आपको बर्बाद कर देगा। इसलिए समय का सदुपयोग करें।

हमें जीवन के हर दौर में समय की आवश्यकता होती है। चाहे हम आराम करें, काम करें या घरेलू काम करें - हमें हर काम की ओर पर्याप्त ध्यान देना चाहिए। अगर हम पर्याप्त समय समर्पित नहीं करते हैं तो संतोषजनक परिणाम हासिल नहीं होगा। इसी तरह यदि आप अपनी पढ़ाई को नजरअंदाज करेंगे या उचित समय समर्पित नहीं करेंगे तो परिणाम अनुकूल नहीं होंगे। अध्ययन या कार्यों के अलावा, संबंधों के निर्माण और परिस्थितियों में सुधार करने के लिए भी समय आवश्यक है। समय उस महत्वपूर्ण मसाले की तरह है जिसकी कमी की वजह से कोई भी पकवान अच्छा नहीं बन सकता या संभावित परिणाम फायदेमंद साबित नहीं हो सकता।

हर किसी के पास एक दिन में 24 घंटे होते हैं और प्रत्येक व्यक्ति अलग-अलग तरह से इन 24 घंटों का उपयोग करता है। कुछ इसका अच्छे तरीके से प्रयोग करते हैं और जीवन में सफल होते हैं और कुछ केवल कुछ ना करके इसे बर्बाद करते हैं और जीवन में असफल होते हैं लेकिन आपके शिक्षक के रूप में यह मेरी ज़िम्मेदारी बन जाती है कि आपका मार्गदर्शन करूँ और आप अपनी इष्टतम क्षमता से समय का उपयोग करें। दूसरा, भविष्य के लिए अपना काम कभी भी स्थगित न करें। कोशिश करें कि इसे उसी समय खत्म कर सकें। इस प्रकार आपको अनावश्यक बाधाओं को खत्म करने में मदद मिलेगी। इसके अलावा जीवन में हर जगह समय पर पहुंचे जिससे आप समय का सबसे अच्छा उपयोग सुनिश्चित कर सकेंगे। समय की पाबंदी से आप अत्यधिक काम का बोझ और असुविधा को दूर करने में सफल हो पाएंगे। यदि आप अच्छी तरह से समय का उपयोग करते हैं तो आपको अच्छे परिणाम हासिल होंगे जिससे आपके लिए नए अवसरों के द्वार खुलेंगे।

अंत में मैं सिर्फ इतना ही कहूंगा कि हम सभी के पास एक दिन में केवल 24 घंटे का समय है। इसलिए समय पर नियंत्रण करना सीखें बजाए इसके कि समय आप पर नियंत्रण करें। समय के सदुपयोग से आप अपने लक्ष्यों पर ध्यान केंद्रित करने की अपनी क्षमता को विकसित करने में सक्षम होंगे ताकि जब आपके लक्ष्य की सीमा बढ़ जाए तो आपकी दक्षता स्वचालित रूप से बढ़ जाए जिससे आप अपनी दिनचर्या की गति को नहीं गंवा पाएंगे। आप अपने दैनिक कार्यों को अधिक कुशलतापूर्वक संभालना भी सीख पाएंगे जिससे आपको समय रहते अपने कामों को खत्म करने में सहायता मिलेगी।

मुझे उम्मीद है कि मेरे सभी विद्यार्थी मेरी बातों का ध्यान रखेंगे है और अब से अपने अध्ययन की ओर पर्याप्त ध्यान देकर समय का इष्टतम उपयोग करेंगे।

धन्यवाद!