राष्ट्रीय ध्वज पर स्लोगन (नारा)

भारत के राष्ट्रीय ध्वज को तिरंगा कहते है और यह भारत के गरिमा, आत्मसम्मान और स्वतंत्रता का प्रतीक है। किसी देश का ध्वज सिर्फ उस देश के अस्तित्व को ही नही प्रदर्शित करता है बल्कि उस देश के लोगों के भावनाओं को प्रदर्शित करता है। हमारा राष्ट्रीय ध्वज तीन रंग की क्षैतिज पट्टियों केसरियां, सफेद और हरा से मिलकर बना है। इसके मध्य में अशोक चक्र भी सुसज्जित है, जो जीवन के निरंतरता को प्रदर्शित करता है। हमारा यह तिरंगा हमारे देश के उन शहीदों के सम्मान का भी प्रतीक है, जिन्होंने देश को गुलामी और दासता से मुक्ति दिलाने के लिए अपने प्राणों को भी न्यौछावर कर दिया।

राष्ट्रीय ध्वज पर नारा (Slogans on National Flag of India in Hindi)

ऐसे कई अवसर आते हैं जब आपको राष्ट्रीय ध्वज से संबंधित भाषणों, निबंधो या स्लोगन की आवश्यकता होती है। यदि आपको भी राष्ट्रीय ध्वज से जुड़ी ऐसे ही सामग्रियों की आवश्यकता है तो परेशान मत होइये हम आपकी मदद करेंगे।

हमारे वेबसाइट पर राष्ट्रीय ध्वज से जुड़ी तमाम तरह की सामग्रियां उपलब्ध हैं, जिनका आप अपनी आवश्यकता अनुसार उपयोग कर सकते हैं।

हमारे वेबसाइट पर राष्ट्रीय ध्वज के लिए विशेष रुप से तैयार किए गये कई सारे स्लोगन उपलब्ध हैं। जिनका उपयोग आप अपने भाषणों या अन्य कार्यों के लिए अपनी आवश्यकता के अनुसार कर सकते हैं।

ऐसे ही अन्य सामग्रियों के लिए भी आप हमारे वेबसाइट का उपयोग कर सकते हैं।

Unique and Catchy Slogans on National Flag in Hindi Language

भारत के राष्ट्रीय ध्वज पर निबंध के लिए यहां क्लिक करें

 

आओ मिलकर देश में एकता बढ़ाने के लिए करें संघर्ष, तिरंगे को फहराकर लोगो में लाये नया उत्कर्ष।

 

आओ मिलकर देश में एकता बढ़ाने के लिए करें संघर्ष, तिरंगे को फहराकर लोगो में लाये नया उत्कर्ष।

 

तिरंगे के सामने सदा शीश झुकाओ, देश के सम्मान में सदा शीश नवाओ।

 

तिरंगे के सामने सदा शीश झुकाओ, देश के सम्मान में सदा शीश नवाओ।

 

अपने तिरंगे को लहराओ शान से, क्योंकि यह झंडा हमे प्यारा है जान से।

 

अपने तिरंगे को लहराओ शान से, क्योंकि यह झंडा हमे प्यारा है जान से।

 

देश के सम्मान को कम मत होने देना, तिरंगे को कभी न झुकने देना।

 

देश के सम्मान को कम मत होने देना, तिरंगे को कभी न झुकने देना।

 

सबसे प्यारा हमारा राष्ट्रीय झंडा, तीन रंगो वाला यह हमारा तिरंगा।

 

सबसे प्यारा हमारा राष्ट्रीय झंडा, तीन रंगो वाला यह हमारा तिरंगा।

 

 

राष्ट्रीय ध्वज और राष्ट्र गान को समझो अपना धर्म, इसे सम्मान देकर पूरा करो अपना कर्म।

 

राष्ट्रीय ध्वज और राष्ट्र गान को समझो अपना धर्म, इसे सम्मान देकर पूरा करो अपना कर्म।

 

राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान मजबूरी नही जरुरी है।

 

राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान मजबूरी नही जरुरी है।

 

हमारा राष्ट्रीय ध्वज हमारी शान, हमारा तिरंगा हमारा सम्मान।

 

हमारा राष्ट्रीय ध्वज हमारी शान, हमारा तिरंगा हमारा सम्मान।

 

जब स्वतंत्रता दिवस का दिन आता है, लाल किले के प्राचीर पर लहराता तिरंगा आजादी का अहसास दिलाता है।

 

जब स्वतंत्रता दिवस का दिन आता है, लाल किले के प्राचीर पर लहराता तिरंगा आजादी का अहसास दिलाता है।

 

तिरंगे के सम्मान पर न आने देना आंच, क्योंकि इसके लिए न जाने कितनों ने दी है जान।

 

तिरंगे के सम्मान पर न आने देना आंच, क्योंकि इसके लिए न जाने कितनों ने दी है जान।

 

तिरंगे के सम्मान को बनाये रखने का लो संकल्प, देश के सम्मान को बढ़ाने का यहीं है विकल्प।

 

 

राष्ट्रीय ध्वज का करें सम्मान, इसी से है हम सबकी पहचान।

 

आओ मिल कर ले ये प्रण, तिरंगा रहेगा सबसे ऊपर।

 

सीमा पर जिसकी रक्षा के लिए लड़ रही है सेना, उस तिरंगे को कभी तुम न झुकने देना।

 

 उत्तर में जिसके हिमालय और मध्य से बहती गंगा, ऐसे सुन्दर भारत का अभिमान है तिरंगा।

 

तिरंगा हमारी शान है ये सब कहते हैं, पर कभी सोचा है ये रंग क्या कहते हैं?

 

तिरंगे की खातिर लुटा दी जवानी, ऐसे थे हमारे क्रांतिकारी हिंदुस्तानी।

 

ये तिरंगा जिसकी शान, वो है हमारा हिंदुस्तान।

 

मर मिटेंगे जान दे देंगे, पर तिरंगे पर कोई आंच न आने देंगे।

 

सभी युवाओं का एक नारा, सबसे ऊँचा ध्वज हमारा।

 

हमारा तिरंगा और इसकी शान, बनाता है भारत को सबसे महान।

शान से लहरे तिरंगा आसमान में, भर दे रस देशभक्ति के हर एक इंसान में।

 

फहराता तिरंगा इस बात की गवाही है, ये स्वतंत्रता कई बलिदानो से आयी है।

 

अपने तिरंगे का हर पल करो सम्मान, क्यूंकि इसी से हमको मिलती है पहचान।

 

चाहे हम जीते रहे या धड़कने रुक जाये, पर ध्यान देना दोस्तों ये ध्वज न झुकने पाए।

 

तिरंगा है हमारी शान, याद रखे ये हिंदुस्तान।

 

कोई संदेह नहीं पूर्ण विश्वास है, हमारा तिरंगा विश्व में सबसे खास है।

 

तिरंगा हमारी ताकत हमारी पहचान है, रक्षा करूँगा इसकी जब तक मुझमे जान है।

 

मेरा तिरंगा मेरी शान है, अगर इस पे आंच आये तो जान कुर्बान है।

 

तिरंगा जो मेरे हाथ में बाकि सब फिजूल है, गर जान भी मांगे ये तो हँस के कुबूल है।

 

लेकर राष्ट्रहित की भावना, यह तिरंगा सदा लहरे ये है मेरी मनोकामना।

देश के आजादी के लिए मतवालों ने किया संघर्ष, इसी आजादी का प्रतीक है हमारा तिरंगा जिसे फहराकर मिलता हमें उत्कर्ष।

 

देशप्रेम बढ़ाने हेतु सब मिलकर तिरंगा फहराओ, देश को तरक्की के मार्ग पर बढ़ाओ।

 

एक दो नही करो तुम बीसों अच्छे कार्य, यदि ना किया राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान तो सब है बेकार।

 

राष्ट्रीय ध्वज का सम्मान करना हमारा कर्तव्य ही नही दायित्व भी है।

 

राष्ट्रीय ध्वज के विषय में लोगों को दो ज्ञान, इसके लिए लोगों में जगाओ नया सम्मान।

 

तिरंगा है हमारे एकता का आधार, इसे सम्मान देकर करो शहीदों के सपनों को साकार।

 

आओ मिलकर करें तिरंगे की गरिमा का विस्तार, 15 अगस्त के दिन लहराकर करें शहीदों के सपनों को साकार।

 

राष्ट्रीय ध्वज के महत्ता का समझो अर्थ, क्योंकि बिना इसके बाकी सब है व्यर्थ।

 

सदैव करना तुम तिरंगे का सम्मान, क्योंकि इसके लिए अनगिनत वीरों ने किये अपने प्राणों को कुर्बान।

 

हमारा राष्ट्रीय ध्वज हमारे भावनाओं का प्रतीक है।

 

देश की गरिमा को कभी कम ना होने देंगे, राष्ट्रीय ध्वज को कभी झुकने ना देंगे।

 

हमारा तिरंगा हमारी शान, आओ मिलकर करें इसका सम्मान।

 

हमारा राष्ट्रीय ध्वज हमारे आत्मगौरव और स्वतंत्रता का प्रतीक है।

 

जब तिरंगा आकाश में लहराता है, सबके मनों को भाता है।

 

 

संबंधित जानकारी:

स्वतंत्रता दिवस

स्वतंत्रता दिवस पर निबंध

राष्ट्रवाद पर निबंध

देश प्रेम/देशभक्ति पर निबंध

देशभक्ति पर भाषण

स्वतंत्रता दिवस पर भाषण

भारत के राष्ट्रीय पर्व पर निबंध